UP: उन्नाव में निर्माणाधीन बेसमेंट की दीवार गिरी, मलबे में दबने से एक मजदूर की मौत

हादसे में दो मजदूर घायल हो गए हैं,
हादसे में दो मजदूर घायल हो गए हैं,

उत्तर प्रदेश के उन्नाव में एक निर्माणाधीन बेसमेंट की दीवार गिर गई. हादसे में एक मजदूर की मौत (Death) हो गई है तो वहीं दो घायल हो गए हैं.

  • Share this:
उन्नाव. उत्तर प्रदेश के उन्नाव में एक निर्माणाधीन बेसमेंट (Under Construction Basement) का लेंटर भरभारा गया और मिट्टी का टीला ढह गया. मिट्टी के मलबे में तीन मजदूर दब गए. चीख पुकार सुनकर मौके पार हड़कंप मच गया. साथी मजदूर और स्थानीय लोगों ने मलबे में दबे मजदूरों का रेस्क्यू शुरू किया. वहीं पुलिस बल भी जेसीबी मशीन के साथ पहुंचा और मदद में जुट गया । कड़ी मशक्कत के बीच दो मजदूरों को एक घंटे के बाद बाहर निकाला जा सका .वहीं एक मजदूर को करीब दो घंटे के बाद मलबे से बाहर निकाला गया.

सभी घायलों को जिला अस्पताल में आनन-फानन भर्ती कराया गया, जहां उपचार के दौरान एक मजदूर की मौत हो गई है. तो वहीं एक मजदूर की हालत चिंताजनक होने पर कानपुर के हैलट अस्पताल में रेफर किया गया है. सीओ गौरव त्रिपाठी ने बताया कि परिजनों की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर कानूनी कारवाई की जाएगी.

ऐसे हुआ हादसा



बता दें कि गंगा घाट कोतवाली से करीब 500 मीटर दूरी पर शाम करीब 4 बजे एक मकान के बेसमेंट निर्माण कार्य के दौरान लेंटर की दीवार भरभर कर गिर गई. इस वजह से नीचे मिट्टी के टीले में काम कर रहे 6 लोगो में से तीन मजदूर दब गए. मजदूरों के दब जाने से भगदड़ मच गई, चीख पुकार सुनकर लोगों की भीड़ जुट गई. स्थानीय लोगों ने मानवीयता की मिसाल पेश करते हुए फावड़ों से रेस्क्यू शुरू किया. पुलिस बल मौके पार पहुंचा और जेसीबी मशीन से मलबे को साफ कराना शुरू किया.
ये भी पढ़ें: UP:बाहुबली विधायक विजय मिश्रा का बेटा भाग सकता है विदेश, लुक आउट नोटिस जारी

करीब एक घंटे के रेस्क्यू अभियान में दो मजदूरों को बाहर निकाला जा सका. वहीं करीब 2 घंटे की कड़ी मशक्कत के बीच तीसरे मजदूर को रेस्क्यू कर जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है.  जहां देर शाम रोहित उर्फ कल्लू निवासी आजाद नगर कोतवाली गंगा घाट की मौत हो गई. मौत की खबर सुनते ही परिवार में कोहराम मच गया. पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पीएम को भेजा. वहीं घायलों में सरवन की हालत गंभीर होने पर कानपुर हेलट अस्पताल रेफर किया गया है. बता दें घायल सरवन और धनीराम मुंगेर जिला बिलासपुर छत्तीसगढ़ के रहने वाले हैं.  सीओ गौरव त्रिपाठी ने बताया की मामले की पड़ताल की जा रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज