Home /News /uttar-pradesh /

Unnao Case में बैकफुट पर सपा, BJP-BSP को मिला मौका, जानें दलित लड़की मर्डर केस में कब-क्या हुआ

Unnao Case में बैकफुट पर सपा, BJP-BSP को मिला मौका, जानें दलित लड़की मर्डर केस में कब-क्या हुआ

यूपी के उन्नाव में दो महीने से गायब लड़की की लाश मिलने के बाद सियासत तेज हो गई है.

यूपी के उन्नाव में दो महीने से गायब लड़की की लाश मिलने के बाद सियासत तेज हो गई है.

Unnao News: उत्तर प्रदेश के उन्नाव (Unnao News) जिले में शहर कोतवाली क्षेत्र से पिछले दो माह से लापता एक युवती का शव समाजवादी पार्टी (सपा) सरकार में दर्जा प्राप्त मंत्री रहे फतेह बहादुर सिंह द्वारा बनवाए गए आश्रम के पास खाली जमीन से बरामद किया गया है. पुलिस के एक अधिकारी ने शुक्रवार को यह जानकारी दी. मामले का मुख्य आरोपी रजोल सिंह सपा नेता स्वर्गीय फतेह बहादुर का बेटा है. अधिकारी ने बताया कि शव का पोस्टमॉर्टम किया गया, जिसमें गर्दन की हड्डी टूटी हुई थी और सिर पर भी चोट के निशान थे.

अधिक पढ़ें ...

उन्नाव: उत्तर प्रदेश के उन्नाव (Unnao News) जिले में शहर कोतवाली क्षेत्र से पिछले दो माह से लापता एक युवती का शव समाजवादी पार्टी (सपा) सरकार में दर्जा प्राप्त मंत्री रहे फतेह बहादुर सिंह द्वारा बनवाए गए आश्रम के पास खाली जमीन से बरामद किया गया है. पुलिस के एक अधिकारी ने शुक्रवार को यह जानकारी दी. मामले का मुख्य आरोपी रजोल सिंह सपा नेता स्वर्गीय फतेह बहादुर का बेटा है. अधिकारी ने बताया कि शव का पोस्टमॉर्टम किया गया, जिसमें गर्दन की हड्डी टूटी हुई थी और सिर पर भी चोट के निशान थे.

अपर पुलिस अधीक्षक (एएसपी) शशि शेखर सिंह ने बताया कि युवती के लापता होने के बाद चार फरवरी को पुलिस ने एक आरोपी रजोल सिंह को हिरासत में लेकर पूछताछ की थी. बाद में विशेष अभियान समूह (एसओजी) की टीम ने इलेक्ट्रॉनिक सर्विलांस की मदद से मिली जानकारी के आधार पर और आरोपी के एक साथी की निशानदेही पर आश्रम के पास की जमीन से बृहस्पतिवार को युवती का शव बरामद किया.

बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की प्रमुख मायावती ने शुक्रवार को सपा पर निशाना साधते हुए मांग की है कि राज्य सरकार पीड़ित परिवार को न्याय दिलाने के लिए दोषियों के खिलाफ तुरंत सख्त कानूनी कार्रवाई करे. उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने इस मामले पर सपा को घेरते हुए एक ट्वीट में कहा ‘श्री अखिलेश यादव जी, सपा नेता के खेत में दलित बेटी का शव बरामद, जब बेटी की माँ आपकी गाड़ी के सामने गिड़गिड़ा रही थी तो उनकी बात नहीं सुनना और सपा नेता का संरक्षण करोगे, नई सपा में सपाइयों का हर घिनौना अपराध माफ करोगे, जाँचकर दोषी को दंड और पीड़ित को न्याय दिलाने में कसर नहीं छोड़ेंगे.’

सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने रामपुर में इस मामले को लेकर कहा कि अभियुक्त का उनकी पार्टी से कोई लेना-देना नहीं है. उन्होंने सवाल किया कि आखिर पुलिस ने इस मामले में कार्रवाई करने में इतनी देर क्यों की. अखिलेश ने कहा ‘इस मामले का जो आरोपी है उससे समाजवादी पार्टी का कोई लेना-देना नहीं है। पुलिस और प्रशासन उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई करे। क्या पुलिस अभी तक सो रही थी. जो व्यक्ति (मुख्य अभियुक्त का पिता) समाजवादी पार्टी से जुड़ा था, उसकी मृत्यु चार साल पहले हो चुकी है। उसका बेटा सपा का सदस्य तक नहीं है.’

इससे पहले, बसपा प्रमुख मायावती ने ट्वीट कर सपा पर निशाना साधते हुए कहा, ‘उन्नाव जिले में सपा नेता के खेत में दलित युवती का दफनाया हुआ शव बरामद होना अत्यंत दुःखद एवं गंभीर मामला है। परिवार वाले पहले से ही युवती के अपहरण और हत्या की आशंका जता रहे थे. राज्य सरकार पीड़ित परिवार को न्याय दिलाने के लिए दोषियों के खिलाफ तुरंत सख्त कानूनी कार्रवाई करे.’

गौरतलब है कि कुछ दिनों से लापता युवती की मां ने लखनऊ में सपा नेता की कार के आगे आत्मदाह का प्रयास किया था. बृहस्पतिवार को शव मिलने के बाद युवती की मां ने कहा कि वह पहले दिन से ही कह रही थीं कि उनकी बेटी का पूर्व मंत्री के बेटे रजोल सिंह ने अपहरण किया. महिला ने इस बीच स्थानीय पुलिस और उच्च अधिकारियों से भी संपर्क किया और किसी अनहोनी की आशंका जताते हुए उनसे लगातार आरोपी रजोल के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की.

पुलिस पर कार्रवाई नहीं करने का आरोप लगाते हुए युवती की मां ने 24 जनवरी को लखनऊ में आत्मदाह की कोशिश की, जिसके बाद सक्रिय हुई पुलिस ने रजोल सिंह को गिरफ्तार किया था.कोतवाली क्षेत्र के काशीराम कॉलोनी निवासी एक दलित महिला की बेटी आठ दिसंबर 2021 से गायब थी. युवती की मां ने नौ दिसंबर को पूर्व मंत्री के बेटे रजोल सिंह के खिलाफ बेटी के अपहरण का मामला दर्ज करवाया था.

Tags: Unnao News, ​​Uttar Pradesh News

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर