अपना शहर चुनें

States

उन्नाव मामला: भ्रामक सूचनाएं फैलाने के आरोप में 8 ट्विटर खातों और उनके यूजर्स के खिलाफ FIR दर्ज

ट्विटर यूजर्स के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है.
ट्विटर यूजर्स के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है.

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के उन्नाव (Unnao) जिले के बबुरहा गांव में दलित लड़कियों की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत के संबंध में झूठी एवं भ्रामक सूचना फैलाने के मामले में आठ ट्विटर खातोंऔर इनके यूजर्स के खिलाफ बीते रविवार शाम प्राथमिकी दर्ज की गयी है.

  • Share this:
उन्नाव. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के उन्नाव (Unnao) जिले में दलित लड़कियों की मौत मामले में कार्रवाई की गई है. असोहा थाना इलाके के बबुरहा गांव में दलित लड़कियों की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत के संबंध में झूठी एवं भ्रामक सूचना फैलाने के मामले में आठ ट्विटर खातोंऔर इनके यूजर्स के खिलाफ बीते रविवार शाम प्राथमिकी दर्ज की गयी है. अपर पुलिस अधीक्षक विनोद कुमार पाण्‍डेय ने बताया कि बबुरहा गांव में हुई घटना के मामले में आठ ऐसे ट्विटर खाते चिह्नित किए गये हैं, जिनके माध्यम से इस मामले में गलत एंव भ्रामक सूचना फैलाई गयी थी. उन्‍होंने बताया कि इन सभी ट्विटर खातों और इनके यूजर्स के खिलाफ सदर कोतवाली में प्रभारी निरीक्षक की तहरीर पर मामला दर्ज किया गया है.

विनोद कुमार पांडेय ने बताया कि जिन ट्विटर खातों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज हुई हैं, उनमें निलिम दत्ता, मोजो स्‍टोरी, जनजागरण लाइव, सूरज कुमार बौध, विजय आम्बेडकर यूपी, अभय कुमार आजाद 97 और राहुल दिवाकर, नवाब सतपाल तंवर भीम सेना चीफ नामक ट्विटर खाते शामिल हैं. इससे पहले, उन्‍नाव जिले की पुलिस ने बबुरहा में दलित लड़कियों की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत के मामले में ट्विटर पर ‘भ्रामक और अफवाह फैलाने’ वाली पोस्‍ट करने के आरोप में पूर्व सांसद एवं कांग्रेस नेता उदित राज के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की थी.

बेसुध अवस्था में मिली थीं लड़कियां
गौरतलब है कि बबुरहा गांव में गत 17 फरवरी की शाम खेतों में घास लेने गईं तीन दलित किशोरियों के एक खेत में संदिग्‍ध अवस्‍था में बेसुध पाए जाने के बाद उन्हें इलाज के लिए अस्पताल ले जाया गया था. चिकित्‍सकों ने दो लड़कियों को मृत घोषित कर दिया था. जबकि एक लड़की को गंभीर हालत में उन्‍नाव अस्‍पताल ले जाया गया और बाद में कानपुर रेफर कर दिया गया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज