Unnao Case: पिता की तहरीर पर पुलिस ने दर्ज किया हत्या का मामला, पढ़ें FIR की पूरी डिटेल

उन्नवा कांड में पुलिस ने हत्या का केस दर्ज किया है. (File)

उन्नाव कांड: मृतका के पिता तहरीर पर पुलिस ने अज्ञात शख्स के खिलाफ हत्या (Murder) का केस दर्ज कर लिया है. तो वहीं सीएम योगी (CM Yogi) ने घटना की रिपोर्ट तलब की है. 

  • Share this:
उन्नाव. उत्तर प्रदेश के उन्नाव (Unnao) के असोहा थाना क्षेत्र में हुई 2 किशोरियों के मौत के मामले में पुलिस ने हत्या का केस दर्ज कर लिया है. मृतका के पिता की तरफ से अज्ञात के खिलाफ असोहा थाना में शिकायत की गई है. इसके बाद पुलिस ने हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया है. पिता की ओर से की गई तहरीर में जिक्र है कि घटनास्थल पर मृतका और उसकी भतीजी के गले में दुपट्टा लिपटा मिला है. तीनों लड़कियों के मुंह से झाग निकलने की बात भी कही गई है. इस पूरे मामले में हत्या और लाश छिपाने का आरोप है. पुलिस ने आईपीसी 302, 201 के तहत केस दर्ज किया है.

इधर, किशोरियों के मौत के मामले में शुरुआती पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट आ गई है. जानकारी के अनुसार, पोस्टमार्टम में जहरीला पदार्थ मिलने की पुष्टि हुई है. अभी यह कहना मुश्किल है कि आखिर यह जहरीला पदार्थ किस प्रकार का है? पीएम रिपोर्ट के आधार पर पुलिस उन्नाव मामले में ज़हर के बारे में विस्‍तृत जानकारी हासिल करने में जुटी है. सूत्रों के अनुसार माना जा रहा है कि मौत से 6 घंटे पहले जहरीला पदार्थ खाया था. डॉक्टर खाने में जहर होने की आशंका जता रहे हें. दोनों के पेट में 100 से 80 ग्राम खाना मिला है.



सैंपल की होगी जांच
पोस्‍टमॉर्टम करने वाले डॉक्‍टरों का पैनल शरीर से मिले ज़हरीले पदार्थ के सैंपल को जांच के लिए लैब भेजेंगे. डॉक्टरों के अनुसार, अभी यह कहना मुश्किल है कि आख़िर यह किस तरह का ज़हरीला पदार्थ है? लेकिन, लड़कियों की मौत इसी ज़हरीले पदार्थ की वजह से हुई है. पुलिस कप्तान ने एफएसएल टीम को बुलाया है, जो घटनास्थल का रिक्रिएशन कर जांच को आगे बढ़ाएगी.

ये भी पढ़ें: Kisan Rail Roko Andolan: किसानों ने पुलिस पर की फूलों की बौछार, गाजियाबाद स्टोशन पर रुक गई उत्कल एक्सप्रेस 

सीएम योगी ने मांगी रिपोर्ट
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उन्नाव की घटना का संज्ञान लेते हुए प्रदेश के डीजीपी एचसी अवस्थी को पूरी रिपोर्ट उपलब्ध कराने के निर्देश दिए हैं. साथ ही मुख्यमंत्री ने कहा है कि अस्पताल में भर्ती पीड़िता का सरकारी खर्च पर बेहतर से बेहतर इलाज सुनिश्चित कराया जाए. सीएम योगी ने पीड़िता के नि:शुल्क इलाज की व्यवस्था करने के निर्देश दिए हैं.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.