उन्नाव गैंगरेप पीड़िता की चाची का अंतिम संस्कार, चाचा बोले- MLA सेंगर ने सब कुछ कराया

रायबरेली में हुए हादसे की शिकार उन्नाव गैंगरेप पीड़िता की चाची का अंतिम संस्कार बुधवार को सुबह गंगा घाट पर कड़ी सुरक्षा के बीच कर दिया गया.

भाषा
Updated: July 31, 2019, 6:29 PM IST
उन्नाव गैंगरेप पीड़िता की चाची का अंतिम संस्कार, चाचा बोले- MLA सेंगर ने सब कुछ कराया
चाचा ने कहा कि विधायक कुलदीप सिंह सेंगर ने सब कुछ कराया है. मेरे पास सारे साक्ष्‍य हैं. (Demo Pic)
भाषा
Updated: July 31, 2019, 6:29 PM IST
रायबरेली में हुए हादसे की शिकार उन्नाव गैंगरेप पीड़िता की चाची का अंतिम संस्कार बुधवार को सुबह गंगा घाट पर कड़ी सुरक्षा के बीच कर दिया गया. पैरोल पर जेल से लाए गए बलात्कार पीड़िता के चाचा ने अपनी पत्नी का अंतिम संस्कार किया.

भारी पुलिस बल की मौजूदगी में अंतिम संस्‍कार होने के बाद प्रशासन ने पीड़िता के चाचा को एक बंद गाड़ी में बिठा दिया और ले जाने लगे. इसी बीच मीडिया को देखते ही पीड़िता के चाचा ने कहा, ‘मेरा पूरा परिवार साफ करा दिया. बस हम ही हम रह गए हैं. मेरे ऊपर नाजायज मुकदमे लगाए गए हैं. विधायक कुलदीप सिंह सेंगर ने सब कुछ कराया है. मेरे पास सारे साक्ष्‍य हैं.'

पीड़िता की चाची के अंतिम संस्‍कार के बाद उसके चाचा को भारी सुरक्षा व्यवस्‍था के बीच रायबरेली जेल भेज दिया गया. महेश को हाईकोर्ट के आदेश पर अंतिम संस्‍कार के लिए लाया गया था. गंगातट पर अंतिम संस्‍कार के समय मौजूद रहे पुलिस महानिरीक्षक एस के भगत ने कहा हाईकोर्ट ने शॉर्ट टर्म परोल पर पूरी सुरक्षा में ले जाकर अंतिम संस्‍कार में शामिल कराने के निर्देश दिया था. उन्होंने कहा कि वह यह देखने आए हैं कि सुरक्षा में कोई चूक न हो.

पीड़िता के साथ सुरक्षाकर्मी के न जाने पर जानकारी नहीं दे पाए चाचा

भगत ने कहा कि घटना वाले दिन पीड़िता के साथ जो सुरक्षाकर्मी थे, वह किन परिस्थितियों में साथ नहीं गए, इसे लेकर भी जांच करनी थी लेकिन पीड़िता के चाचा इस संबध में कोई जानकारी नहीं दे पाए हैं. इसलिए अब उन्नाव के पुलिस अधीक्षक मामले की जांच कर रहे हैं. उनकी रिपोर्ट के आधार पर ही आगे की कार्रवाई की जाएगी.

स्थानीय लोगों और मीडिया को श्मशान घाट नहीं जाने दिया
इससे पहले, रायबरेली हादसे की शिकार उन्नाव बलात्कार पीड़िता की चाची का अंतिम संस्कार बुधवार सुबह गंगा घाट पर कड़ी सुरक्षा के बीच कर दिया गया. अंतिम संस्कार में करीब एक दर्जन नाते-रिश्तेदार ही शामिल थे. स्थानीय लोगों और मीडिया को श्मशान घाट नहीं जाने दिया गया. केवल सगे संबंधी और मित्रों को ही इसमें शामिल होने दिया गया. जिलाधिकारी देवेन्द्र पाण्डेय, पुलिस अधीक्षक एमपी वर्मा और अन्य अधिकारी घाट पर मौजूद थे.
Loading...

ये भी पढ़ें--

नई नवेली दुल्हन को चलती ट्रेन से धक्का देकर खुद भी कूद गया पति

आजम के बेटे के समर्थन में सड़क पर उतरी सपा, जमकर प्रदर्शन

जानिए- सनी लियोनी ने कैसे दिल्ली के इस युवक की उड़ा दी है नींद, पहुंचा थाने

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए उन्नाव से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 31, 2019, 6:29 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...