उन्नाव: नाबालिग रेप पीड़िता का आज होगा अंतिम संस्कार, आरोपी अभी भी गिरफ्त से दूर
Unnao News in Hindi

उन्नाव: नाबालिग रेप पीड़िता का आज होगा अंतिम संस्कार, आरोपी अभी भी गिरफ्त से दूर
एडीजी जोन लखनऊ ने की पीड़ित परिवार से मुलाक़ात

उधर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उन्नाव में बच्ची के साथ रेप और उसकी हत्या मामले को गंभीरता से लिया है. सीएम ने आरोपी की तत्काल गिरफ्तारी सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं.

  • Share this:
उन्नाव. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के उन्नाव (Unnao) जनपद में नाबालिग रेप पीड़िता (Rape and Murder) का शव बुधवार देर रात पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को सौंप दिया गया. उन्नाव की बेटी का गुरुवार को अंतिम संस्कार होगा. शव पहुंचते ही गांव में मातम पसर गया. परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है. इस बीच आरोपी अभी भी पुलिस की गिरफ्त से दूर है.

गौरतलब है कि होली के दिन 10 मार्च को 9 साल की मासूम बिहार थाना क्षेत्र में अचेत अवस्था में मिली थी. परिजनों ने उसे अस्पताल पहुंचाकर पुलिस को सूचना दी थी. जिला अस्पताल के डॉक्टरों ने बताया कि बेटी के साथ रेप हुआ है. साथ ही गला दबाया गया है. पीड़िता की हालत गंभीर देखकर डॉक्टरों ने उसे कानपुर के हैलट अस्पताल रेफर कर दिया था. जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई.

मामले में सीएम योगी सख्त



उधर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उन्नाव में बच्ची के साथ रेप और उसकी हत्या मामले को गंभीरता से लिया है. सीएम ने आरोपी की तत्काल गिरफ्तारी सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं. सीएम ने कहा कि मामले में एसएसपी मौके पर जाकर जांच कार्रवाई देखें. सीएम ने कि मृतका के परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त करते हुए कहा कि राज्य सरकार उनकी पूरी मदद करेगी. इसके साथ ही उन्होंने वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों को उन्नाव में इस प्रकार की घटनाओं की जांच की समीक्षा के भी निर्देश दिए हैं.
एडीजी जोन लखनऊ पीड़िता के परिजनों से मिले

वहीं एडीजी जोन लखनऊ मंडल एसएन साबत और आईजी जोन लखनऊ एसके भगत उन्नाव के बिहार थाना क्षेत्र स्थिति पीड़िता के घर पहुंचे. यहां एडीजी ने पीड़ित परिजनों से मुलाकात कर ढांढस बंधाया. एडीजी ने जिले के पुलिस अधिकारियों से केस को लेकर अपडेट और आवश्यक दिशा निर्देश भी दिए.

एडीजी ने कही ये बात

मीडिया से बात करते हुए एडीजी लखनऊ जोन एसएन साबत ने बताया कि सभी लोगों का ये आग्रह है कि घटना का पर्दाफाश हो. उन्होंने बताया कि सभी ने आश्वस्त किया है कि वे सहयोग करेंगे. एडीजी ने कहा कि जो वास्तव में सही रूप से दोषी है उसके खिलाफ कार्यवाई हो, उसके लिए हम लोग पूरा प्रयास कर रहे हैं. एक सवाल पर उन्होंने कहा कि अभी तक पूरा मामला अज्ञात है. अभी तक जो प्राथमिक इन्वेस्टिगेशन हुई है उससे लग रहा है कि गांव के या गांव के आसपास के व्यक्ति द्वारा यह कार्य किया गया है. वह परिचित हो भी हो सकता है.

ये भी पढ़ें:उन्नाव रेप: प्रियंका का ट्वीट-UP में बच्चों के साथ अपराध की सबसे ज्यादा घटनाएं

उन्नाव: 9 साल की बच्ची के साथ दुष्कर्म, इलाज के दौरान मौत
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज