अपना शहर चुनें

States

उन्नाव रेप केस: कोर्ट का आदेश 7 दिन के अंदर पीड़िता के लिए घर की व्यवस्था करे DCW

उन्नाव रेप केस में कोर्ट ने दिया ये आदेश
उन्नाव रेप केस में कोर्ट ने दिया ये आदेश

दिल्ली महिला आयोग (DCW) ने अदालत को बताया कि उसने आवास की पहचान कर ली है, लेकिन सौदे को अंतिम रूप देने के लिए समय की आवश्यकता है.

  • Share this:
उन्नाव. उन्नाव रेप केस (Unnao Rape Ccase) में दिल्ली की एक विशेष अदालत ने सुनवाई पूरी कर ली है. ये सुनवाई पिछले साल न्यायिक हिरासत में पीड़िता के पिता के साथ कथित मारपीट और हत्या के मामले में थी. वहीं कोर्ट ने पीड़िता और परिवार को घर की व्यवस्था करने का आदेश दिया था. इस मामले में डीसीडब्ल्यू (DCW) को 7 दिन का समय दिया गया.

दिल्ली महिला आयोग (DCW) ने अदालत को बताया कि उसने आवास की पहचान कर ली है, लेकिन सौदे को अंतिम रूप देने के लिए समय की आवश्यकता है. इसलिए 7 और दिनों का समय मांगा जा रहा है. अदालत ने जेपीएन ट्रॉमा सेंटर, एम्स को अगले आदेश तक पीड़ित को अपने छात्रावास में रखने काने का निर्देश दिया है.

वहीं iPhone निर्माता कंपनी एप्पल (Apple) को कोर्ट में कुलदीप सिंह सेंगर (Kuldeep Singh Sengar) की लोकेशन संबंधी ब्योरा देना था. लेकिन कंपनी ने कहा कि वारदात के दिन सेंगर की लोकेशन क्या थी, इस बात की जानकारी उसके पास नहीं है. कोर्ट ने 17 वर्षीय लड़की से जिस दिन उन्नाव में रेप हुआ था, उस दिन की लोकेशन की जानकारी मांगी थी. आरोपी सेंगर iPhone का इस्‍तेमाल करते हैं.



एप्पल इंडिया प्राइवेट लिमिटेड के वकील ने अदालत से कहा कि सेंगर जिस आईफोन का इस्तेमाल कर रहे थे, उसके लोकेशन से जुड़ी जानकारी उसके (कंपनी के) पास नहीं है. बंद कमरे में हो रही सुनवाई के दौरान एप्पल के वकील ने जिला न्यायाधीश धर्मेश शर्मा की अदालत को यह जानकारी दी.
ये भी पढ़ें: 

हमीरपुर में शर्मसार हुई मानवता, 75 साल की नेत्रहीन महिला से रेप

जानिए क्यों कुत्ते का शव गोद में लिए दर-दर की ठोकरें खा रही है ये महिला
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज