उन्नाव रेप पीड़िता के साथ हुए सड़क हादसे में साजिश! पुती थी ट्रक की नंबर प्लेट

बताया जा रहा है कि ट्रक रॉन्ग साइड से आ रहा था और टक्कर इतनी भीषण थी कि कार के परखच्चे उड़ गए. इस हादसे में दो लोगों की मौके पर ही मौत हो गई तथा दो लोग गंभीर रूप से घायल हैं.

News18 Uttar Pradesh
Updated: July 29, 2019, 11:19 AM IST
उन्नाव रेप पीड़िता के साथ हुए सड़क हादसे में साजिश! पुती थी ट्रक की नंबर प्लेट
इसी ट्रक ने मारी थी उन्नाव रेप पीड़िता की कार को टक्कर
News18 Uttar Pradesh
Updated: July 29, 2019, 11:19 AM IST
उत्तर प्रदेश के बहुचर्चित उन्नाव रेप केस मामले की पीड़िता के साथ हुए सड़क हादसे में साजिश की आशंका जताई जा रही है. दरअसल, जिस ट्रक ने रायबरेली में पीड़िता की कार को टक्कर मारी, उसके नंबर प्लेट को काले रंग से पुत दिया गया था. इस वजह से ट्रक के नंबर को पढ़ पाना मुश्किल था. इस सड़क हादसे में पीड़िता की चाची और मौसी की मौत हो चुकी है. वहीं केस के वकील की स्थित नाजुक बनी हुई है जबकी पीड़िता लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर है. इस मामले में बीजेपी विधायक कुलदीप सेंगर मुख्य आरोपी हैं, जो अभी जेल में बंद है.

रेप पीड़िता अपने परिवार और वकील के साथ जेल में बंद चाचा से मिलने रायबरेली जा रही थी. तभी सड़क हादसा हुआ. बताया जा रहा है कि ट्रक रॉन्ग साइड से आ रहा था और टक्कर इतनी भीषण थी कि कार के परखच्चे उड़ गए और दो लोगों की मौके पर ही मौत हो गई. कार में सवार सभी लोग केस में सीबीआई के गवाह थे.

कार में पीड़िता के साथ नहीं थे सुरक्षाकर्मी
अब सबसे बड़ा सवाल है कि आखिर ट्रक के नंबर प्लेट को छुपाने की कोशिश क्यों गई थी? वहीं दूसरा सवाल यह उठ रहा है कि जब हादसा हुआ, तब पीड़िता के साथ सुरक्षाकर्मी मौजूद नहीं थे. जबकि हाईकोर्ट के दखल के बाद पीड़िता को सुरक्षा मुहैया कराई गई थी. अब पुलिस इसे जांच का विषय बता रही है.

कार और ट्रक की कराई जाएगी फॉरेंसिक जांच
मामले में एडीजी राजीव कृष्णन ने बताया कि ट्रक को जब्त कर लिया गया है. ड्राइवर को भी गिरफ्तार कर लिया गया है. हालांकि अभी तक किसी ने इस मामले में एफआईआर दर्ज नहीं हुई है. उन्होंने कहा, 'मैंने पीड़िता के परिजनों से इस मामले में एफआईआर दर्ज करवाने के लिए कहा है.' एडीजी राजीव कृष्णन ने कहा कि जिस ट्रक से कार की भिडंत हुई उसके बारे में ज्यादा जानकारी नहीं है, लेकिन ट्रक और कार की फॉरेंसिक जांच कराई जाएगी.
First published: July 29, 2019, 11:03 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...