अपना शहर चुनें

States

उन्नाव रेप केस: आरोपियों ने जताया जान का खतरा, कोर्ट ने पुलिस को दी सशर्त रिमांड

कोर्ट ने दोषी को सुनाई सजा
कोर्ट ने दोषी को सुनाई सजा

लोअर कोर्ट ने पांचों आरोपियों की 12 घंटे की रिमांड देते हुए कहा कि पूछताछ के दौरान आरोपी पक्ष के वकील संजीव त्रिवेदी भी पुलिस टीम के साथ मौजूद रहेंगे

  • Share this:
उन्नाव. उन्नाव रेप पीड़िता (Unnao Rape Victim) को जिंदा जलाकर हत्या के मामले में पांचों आरोपियों को पुलिस की कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच बुधवार को जिला अदालत (District Court) में पेश किया गया. पुलिस ने सुनवाई में न्यायालय से आरोपियों से पूछताछ के लिए तीन दिन की कस्टडी की अपील की. एसआईटी टीम के प्रभारी एसपी वीके पांडेय ने कोर्ट से आरोपियों को तीन दिन की पुलिस कस्टडी रिमांड (Remand) की मांग की. तर्क रखा गया कि घटनाक्रम में जुड़े कुछ अहम बिंदुओं पर जांच होनी है, जिसमें आरोपियों से पूछताछ होनी है. वहीं आरोपी पक्ष के वकील ने आरोपियों को जान का खतरा बताकर पुलिस कस्टडी रिमांड मांग को अस्वीकार करने की कोर्ट से अपील की.

रिमांड के दौरान उपस्थित रहेंगे आरोपी पक्ष के वकील

काफी देर तक चली बहस के बाद कोर्ट ने सभी आरोपियों की 12 घंटे की पुलिस कस्टडी रिमांड स्वीकार करते हुए आदेश दिया कि 19 दिसंबर को सुबह आठ बजे से शाम आठ बजे तक आरोपियों की पुलिस कस्टडी रिमांड स्वीकृत की गई है. कोर्ट ने कहा कि इस दौरान आरोपी पक्ष के वकील संजीव त्रिवेदी पुलिस टीम के साथ मौजूद रहेंगे. साथ ही सुरक्षा में किसी भी स्तर की चूक न होने की हिदायत भी दी. इसके बाद पुलिस टीम ने सभी आरोपियों को कड़ी सुरक्षा व्यवस्था में देर शाम जिला जेल में दाखिल किया.



एसआईटी टीम गुरुवार 19 दिसंबर को आरोपियों को 12 घंटे की रिमांड पर लेकर पूछताछ करेगी और पूरे घटनाक्रम में अहम साक्ष्य (सबूत) जुटाएगी.
पांच दिसंबर को ये मामला आया था सामने

बता दें कि बीते पांच दिसंबर की सुबह उन्नाव में रेप पीड़ित एक युवती को जिंदा जला देने का मामला सामने आया था. बाद में लखनऊ से एयर लिफ्ट कर दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल लाई गई पीड़िता की इलाज के दौरान मौत हो गई थी. इसके बाद यह मामला सुर्खियों में छा गया और हर तरफ वारदात को अंजाम देने वालों आरोपियों को सख्त से सख्त सजा मिलने की आवाज बुलंद हो गई. घटना के बाद पुलिस ने मुख्य आरोपी शिवम त्रिवेदी और शुभम त्रिवेदी समेत पांचों आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था.

ये भी पढ़ें:

बुरी तरह झुलसी फतेहपुर रेप पीड़िता की कानपुर में इलाज के दौरान मौत

लखनऊ शहर में आज होने वाले इन इवेंट्स का उठा सकते हैं लुत्फ
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज