COVID-19: महाराष्ट्र से उन्नाव लौटा युवक निकला कोरोना पॉजिटिव, गांव सील
Unnao News in Hindi

COVID-19: महाराष्ट्र से उन्नाव लौटा युवक निकला कोरोना पॉजिटिव, गांव सील
महाराष्ट्र से उन्नाव लौटे एक युवक में कोरोना वायरस का संक्रमण पाया गया है. (प्रतीकात्मक चित्र)

धीरे-धीरे उन्नाव (Unnao) जिले में कोविड-19 (COVID-19) से संक्रमण के मामले बढ़ते जा रहे हैं. गुरुवार को महाराष्ट्र से लौटे एक युवक में कोरोना वायरस का संक्रमण पाया गया है.

  • Share this:
उन्नाव. जिला प्रशासन के लाख प्रयासों के बावजूद धीरे-धीरे उन्नाव (Unnao) जिले में कोविड-19 (COVID-19) से संक्रमण के मामले बढ़ते जा रहे हैं. गैर प्रान्तों से आने वाले युवकों की स्क्रीनिंग पर प्रशासन नजर बनाए हुए है, लेकिन इसके बावजूद बीते गुरुवार को महाराष्ट्र से लौटे एक युवक में कोरोना वायरस का संक्रमण पाया गया है. जांच रिपोर्ट में कोरोना वायरस से संक्रमण की पुष्टि होने के बाद युवक को आइसोलेट कर दिया गया है.

युवक का लखनऊ में चल रहा है इलाज
वहीं प्रशासन ने सतर्कता बरतते हुए युवक को उपचार के लिए लखनऊ भेज दिया और उसके घर वालों को क्वारांटाइन कर दिया है. आपको बता दें कि नवाबगंज विकासखंड के मिर्जापुर निवासी युवक बीते  गुरुवार की रात लगभग 11 बजे महाराष्ट्र से घर  लौटा, जिसकी सूचना स्वास्थ्यकर्मी (आशा) ने  शुक्रवार को नवाबगंज स्थित सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में दी.

इसके बाद डॉक्टरों ने कोरोना संदिग्ध जान युवक को नवाबगंज में बने सरस्वती मेडिकल कॉलेज में रखा और  युवक का सैंपल जांच के लिए लखनऊ भेज दिया. इसके बाद आई जांच रिपोर्ट में युवक के संक्रमित होने की पुष्टि हुई. वहीं कोरोना मरीज मिलने के बाद नवाबगंज के ब्लॉकप्रमुख अरुण सिंह ने आसपास के क्षेत्रों में सेनेटाइजेशन का कार्य करवाया और लोगों को मास्क और सेनेटाइजर भी बांटे.
अस्पताल में भर्ती किया गया युवक


सीएमओ कैप्टन डॉक्टर आशुतोष कुमार ने बताया कि युवक महाराष्ट्र से अपने संसाधन से लौटा है. कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद युवक को अस्पताल में भर्ती करा दिया गया है. प्रशासन ने क्षेत्र को सील कर दिया है.

अब तक 4 मामले
आपको बता दें कि उन्नाव जिले में अब तक कोरोना वायरस से संक्रमण के 4 पॉजिटिव मरीज मिल चुके हैं. सभी मरीजों का इलाज कराया जा रहा है. वहीं पुराने हॉटस्पॉट एरिया को 17 मई तक पूरी तरह सील रखा जाएगा. सोमवार को मिले कोरोना पॉजिटिव मरीज के गांव को अगले आदेश तक सील रखा जाएगा. वहीं गांव में तेजी से सेनेटाइजेशन का कार्य कराया जा रहा है.

ये भी पढ़ें -

पति की COVID-19 से मौत के अगले दिन राशन वितरण में तैनात शिक्षिका की भी मृत्यु 

बिना जांच के प्रवासी मजदूरों को यूपी में कराया प्रवेश, फिर मचा घमासान ...
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज