UP By Election: बांगरमऊ में कुलदीप सिंह सेंगर का ऑप्शन तलाश रही बीजेपी, डिप्टी सीएम और जलशक्ति मंत्री ने लिया फीडबैक

सीएम डॉ दिनेश शर्मा और जलशक्ति मंत्री महेंद्र सिंह ने बांगरमऊ के रिसॉर्ट में सेक्टर प्रभारी व सेक्टर संयोजकों के साथ अहम बैठक की.
सीएम डॉ दिनेश शर्मा और जलशक्ति मंत्री महेंद्र सिंह ने बांगरमऊ के रिसॉर्ट में सेक्टर प्रभारी व सेक्टर संयोजकों के साथ अहम बैठक की.

उन्नाव (Unnao) के बांगरमऊ में करीब 2 घंटे तक डिप्टी सीएम डॉ दिनेश शर्मा और जलशक्ति मंत्री महेंद्र सिंह का सेक्टर प्रभारियों के साथ मंथन चला. कार्यकर्ताओं ने कौन चेहरा उपयुक्त होगा? इसकी राय शुमारी दी.

  • Share this:
उन्नाव. उत्तर प्रदेश की उन्नाव की बांगरमऊ विधानसभा उपचुनाव (Bangarmau Assembly By-election) को लेकर भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने प्रत्याशी (Candidate) की खोज तेज कर दी है. दरअसल 2017 में इस सीट पर बीजेपी से कुलदीप सिंह सेंगर (Kuldeep Singh Senger) ने जीत दर्ज की थी. लेकिन कुलदीप सिंह सेंगर बाद में रेप केस (Rape Case) में दोषी करार दिए गए और उन्हें उम्र कैद की सजा हो चुकी है. जिससे बांगरमऊ विधानसभा सीट खाली हो गई है. सोमवार को डिप्टी सीएम डॉ दिनेश शर्मा और जलशक्ति मंत्री महेंद्र सिंह ने बांगरमऊ के रिसॉर्ट  में सेक्टर प्रभारी व सेक्टर संयोजकों के साथ अहम बैठक की.

बांगरमऊ उपचुनाव पर डिप्टी सीएम ने टटोली नब्ज

बैठक के दौरान पार्टी पदाधिकारियों और मीडिया को बाहर रखा गया. करीब 2 घंटे तक डिप्टी सीएम और जलशक्ति मंत्री का सेक्टर प्रभारियों के साथ मंथन चला. कार्यकर्ताओं ने कौन चेहरा उपयुक्त होगा? इसकी राय शुमारी दी. वहीं कार्यकर्ताओं ने अपनी समस्याएं भी गिनाई, जिसे डिप्टी सीएम ने हल कराने का आश्वासन दिया है.



वहीं टिकट को लेकर कतार में लगे नेताओं का भी बांगरमऊ में जमावड़ा बना रहा. डिप्टी सीएम के जाने के बाद नेता सेक्टर प्रभारियों से टोह लेने में जुटे रहे. सूत्रों के मुताबिक डिप्टी सीएम अब पार्टी संगठन और सीएम को स्थानीय फीड बैक देंगे, जिसके आधार पर पार्टी अपना प्रत्याशी तय करेगी.
डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा का बड़ा बयान

वहीं मीडिया से बातचीत में डिप्टी सीएम ने कहा कि बांगरमऊ में कार्यकर्ताओं के साथ बैठक की गई है. डिप्टी सीएम ने कौन प्रत्याशी होगा? के सवाल पर गोलमोल जवाब देते हुए कहा कि भाजपा 'कमल' के निशान पर चुनाव लड़ती हैं और हर एक कार्यकर्ता चुनाव लड़ता है. समय आने पर प्रत्याशी भी आ जायेगा. इस दौरान डिप्टी सीएम ने किसान बिल को सराहते हुए, इसे किसानों का हितकारी बताया. वहीं विपक्ष के हंगामे को निराधार व अफवाह बताया. डिप्टी सीएम ने कहा कि प्रदेश सरकार ने संविदा पर नौकरी में जाना पड़ेगा, इस तरह का सरकार का कोई विचार नहीं किया है. न ही 50 साल में रिटायरमेंट का कोई प्रस्ताव आया है. वहीं तदर्थ टीचरों को लेकर भी सरकार गंभीर है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज