UP जिला पंचायत अध्यक्ष चुनावः उन्नाव सीट के लिए घमासान, देर रात बीजेपी ने बताया अपना प्रत्याशी

बीजेपी ने उन्नाव जिला पंचायत अध्यक्ष पद के लिए अरुण सिंह पर भरोसा जताया है.

Unnao News: कुलदीप सिंह सेंगर रेप केस में आरोपी रहे अरुण सिंह पर BJP ने जताया भरोसा, कहा- सीबीआई दे चुकी है क्लीनचिट.

  • Share this:
उन्नाव. जिले की अनारक्षित जिला पंचायत अध्यक्ष सीट के लिए आखिर BJP ने भी अपना प्रत्याशी घोषित कर ही दिया. इसको लेकर कई दिनों से राजनीतिक गलियारों में कयास लगाए जा रहे थे. वहीं दौड़ में शामिल नेता लखनऊ बीजेपी कार्यालय से लेकर संघ के पदाधिकारियों तक सभी के चक्कर लगा रहे थे. लेकिन बुधवार देर रात सभी चर्चाओं पर विराम लग गया और बीजेपी ने पूर्व ब्लॉक प्रमुख और औरास वार्ड नंबर 12 से जिला पंचायत सदस्य चुने गए अरुण सिंह को पार्टी समर्थित प्रत्याशी घोषित कर दिया है. अरुण सिंह का नाम सामने आने के बाद अब पूर्व एलएलसी अजीत सिंह की पत्नी शकुन सिंह को बड़ा झटका लगा है.

ऐसा रहा है अरुण सिंह का राजनीतिक सफर
2016 में सपा समर्थन पर नवाबगंज ब्लॉक से अरुण सिंह ब्लॉक प्रमुख चुने गए थे और व्यापारी से नेता बनने का सफर शुरू किया. 2017 में बीजेपी की सरकार बनते ही अरुण सिंह ने सांसद साक्षी महाराज का साथ पकड़ा और बीजेपी में आ गए. 2018 में बांगरमऊ विधायक कुलदीप सिंह सेंगर पर एक पीड़िता ने रेप का आरोप लगाया, जिसमें कुलदीप का सहयोग करने को लेकर अरुण सिंह पर भी रेप पीड़िता ने गंभीर आरोप लगाए थे और सीबीआई ने पूछताछ भी की. जिसके बाद कुलदीप को सीबीआई ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया. जुलाई 2019 में रेप पीड़िता की कार की रायबरेली में ट्रक से भिड़ंत हो गई , जिसमें पीड़िता की मौसी व एक अन्य की मौत हो गई थी और पीड़िता को गंभीर चोटें आई थी. जिसके बाद मामले ने तूल पकड़ा और पीड़िता ने कुलदीप सिंह सेंगर पर हत्या कराए जाने का आरोप लगाया. तहरीर में कुलदीप के अलावा उनके भाई अतुल सेंगर, निवर्तमान ब्लॉक प्रमुख अरुण सिंह समेत 10 के खिलाफ नामजद मुकदमा दर्ज कराया. अरुण सिंह का कहना है कि पीड़िता के कार हादसे में सीबीआई क्लीन चिट दे चुकी है. वहीं सांसद व सदर विधायक पंकज गुप्ता के करीबियों में शुमार अरुण सिंह को जिला पंचायत अध्यक्ष का प्रत्याशी बनाए जाने से बीजेपी के एक गुट में अंदरखाने विरोध के सुर फूट रहे हैं.

बीजेपी जिलाध्यक्ष ने दी प्रेसवार्ता कर दी सफाई
अरुण सिंह पर रेप के दोषी कुलदीप सिंह सेंगर का करीबी होने पर सोशल मीडिया पर रेप पीड़िता द्वारा लगाए गए आरोपों पर बीजेपी जिला अध्यक्ष राजकिशोर रावत ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर मामले पर सफाई दी. पार्टी ने अरुण सिंह को जिला पंचायत अध्यक्ष पद का प्रत्याशी बनाया है. पार्टी ने कार्यकर्ताओं से राय लेकर अरुण सिंह को प्रत्याशी बनाया है. दोषी कुलदीप सिंह सेंगर मामले में अरुण सिंह पर आरोप होने पर जिलाध्यक्ष ने क्लीन चिट दे दी है, अध्यक्ष ने कहा कि हमारा प्रत्याशी साफ सुथरा है, ऐसा कुछ नही है.

मैं तो अमरनाथ था
जिला पंचायत अध्यक्ष पद प्रत्याशी अरुण सिंह ने कहा कि पार्टी ने भरोसा जताया है, शीर्ष नेतृत्व का आभार है. अरुण सिंह ने कहा कि मेरे पर जो आरोप लगे उस पर सीबीआई ने क्लीन चिट दी है. पीड़िता मेरी बहन की तरह है. मेरी संवेदनाएं उसके साथ, आजीवन रहेंगी. मैं किसी रेप या हत्या का आरोपी नहीं हूं. पीड़िता का जिस दिन एक्सीडेंट हुआ था, मैं उस दिन अमरनाथ की यात्रा पर था.

सीबीआई दे चुकी है क्लीन चिट
बीजेपी विधायक पंकज गुप्ता ने उस कांड में भी अरुण सिंह आरोपी नहीं थे, हत्याकांड में भी अरुण सिंह आरोपी नहीं थे. सदर विधायक पंकज गुप्ता ने कहा की एक्सीडेंट के मामले में इनका नाम कहीं आया था, सीबीआई ने मामले की पूरी जांच की और सीबीआई द्वारा जांच के बाद क्लीन चिट दी जा चुकी है. वहीं गुप्ता ने सपा पर आरोप लगाया और कहा की सीबीआई दूध का दूध पानी का पानी कर चुकी है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.