लाइव टीवी

UP: 2.35 करोड़ गरीबों को बांटा गया 135040 मीट्रिक टन राशन, खाद्यान्न वितरण का बना रिकार्ड
Lucknow News in Hindi

News18 Uttar Pradesh
Updated: April 3, 2020, 9:34 AM IST
UP: 2.35 करोड़ गरीबों को बांटा गया 135040 मीट्रिक टन राशन, खाद्यान्न वितरण का बना रिकार्ड
1 अप्रैल से अब तक कुल 1.01 करोड़ परिवारों के 4.19 करोड़ लोगों को 2 लाख 61 हजार 513 मीट्रिक टन राशन मुहैय्या कराया जा चुका है.

2 अप्रैल को खाद्यान्न वितरण का एक रिकार्ड (Record) स्थापित करते हुए 55.61 लाख परिवारों के 2.35 करोड़ लोगों को खाद्यान्न (Ration) मुहैया कराया गया है.

  • Share this:
लखनऊ. देश-प्रदेश में लगातार बढ़ रहे कोरोना वायरस (Corona Virus) के खतरे को देखते हुए इन दिनों  पूरा देश लॉक डाउन (Lockdown) कर दिया गया है. जिसका उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में भी बेहद सख्ती के साथ पालन कराया जा रहा है. लोगों के घरों से निकलने पर पूरी तरह से पाबंदी लगा दी गई है. ऐसे में रोज-कमाने खाने वाले गरीब लोगों के सामने खाने-पीने का एक बडा संकट खडा हो गया है. जिसे देखते हुए योगी सरकार (Yogi Government) द्वारा बीते 1 अप्रैल से यूपी में गरीबों के लिए युद्ध स्तर पर रिकार्डतोड़ खाद्यान्न वितरण कराया जा रहा है. 2 अप्रैल को खाद्यान्न वितरण का एक रिकार्ड (Record) स्थापित करते हुए 55.61 लाख परिवारों के 2.35 करोड़ लोगों को खाद्यान्न मुहैया कराया गया है.

55 लाख परिवारों को दिया गया राशन
योगी सरकार के खाद्य एवं रसद विभाग के मुताबिक, 2 अप्रैल को अब तक का खाद्यान्न वितरण के क्षेत्र में एक नया रिकार्ड बनाया गया है. जिसके तहत, 2 अप्रैल को शाम 7 बजे तक 55.61 लाख परिवारों के 2.35 करोड़ लोगों को 1 लाख 35 हजार 40 मीट्रिक टन अनाज वितरित किया गया है. जिसमें से 59 हजार 655 मीट्रिक टन अनाज 21.12 लाख परिवारों के 84.22 लाख अन्त्योदय कार्ड धारकों, मनरेगा मजदूरों और श्रमिकों को दिया गया है. इससे पहले, 5 मार्च को करीब 50 लाख का रिकार्ड ट्रांजेक्‍शन किया गया था.

अबतक 1.01 करोड़ लोगों को मिला राशन



सीएम योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर लॉक डाउन में फंसे गरीबों के लिए 1 अप्रैल से खाद्यान्न वितरण कार्यक्रम के पहले चरण का शुभारंभ किया गया है. ऐसे में, 1 अप्रैल से अब तक कुल 1.01 करोड़ परिवारों के 4.19 करोड़ लोगों को 2 लाख 61 हजार 513 मीट्रिक टन राशन मुहैय्या कराया जा चुका है. जिसमें 46.65 लाख अन्त्योदय कार्ड धारको, श्रमिकों और मज़दूरो परिवार के 1.78 करोड़ लोगों को निशुल्क राशन दिया जा चुका है.



सोशल डिस्‍टेंसिंग का हुआ सख्‍ती से पालन
खाद्यान्न वितरण के दौरान कोरोना से बचने के लिए ईपास से वितरण के समय सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने के साथ हाथ धुलने के लिए प्रत्येक उचित दर दुकान पर सैनिटाइजर, साबुन व पानी भी रखवाया गया है. वहीं, होम क्वारंटीन किए गए किसी व्यक्ति, परिवार, समुदाय, कालोनी के लाभार्थी तक होम डिलीवरी के जरिए ही राशन पहुंचाने के निर्देश दिए गए है. राशन वितरण का कार्य जिलाधिकारी द्वारा नियुक्त नोडल अधिकारी और ग्राम प्रधान की मौजूदगी में हो रहा है. कई जगहों पर कानून-व्यवस्था बनाए रखने के लिए पुलिस कर्मियों की भी तैनाती की गई है.

यह भी पढ़ें:


COVID-19: धार्मिक प्रचार के लिए कानपुर पहुंचे तबलीगी जमात के 8 विदेशी जमातियों पर दर्ज हुआ मुकदमा
मऊ: तबलीगी जमात में शामिल 114 जमातियों और शरणदाताओं पर एफआईआर
COVID-19: लॉकडाउन के दौरान ड्रोन कैमरे से निगरानी रख रही नोएडा पुलिस

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लखनऊ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: April 3, 2020, 9:34 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading