UP Assembly By-Election: बाहुबली धनंजय सिंह पर सबसे ज्यादा केस, बसपा-सपा ने उतारे 5-5 दागी प्रत्‍याशी

यूपी विधानसभा उपचुनाव के प्रत्याशियों में बाहुबली धनंजय सिंह पर सबसे ज्यादा केस दर्ज हैं.
यूपी विधानसभा उपचुनाव के प्रत्याशियों में बाहुबली धनंजय सिंह पर सबसे ज्यादा केस दर्ज हैं.

UP Assembly By-Election: इलेक्शन वॉच और एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म ने प्रत्याशियों का ब्यौरा जारी किया है. मल्हनी के निर्दलीय उम्मीदवार धनंजय सिंह के ऊपर सबसे ज्यादा आपराधिक मुकदमे हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 30, 2020, 10:02 AM IST
  • Share this:
लखनऊ. उत्तर प्रदेश में हो रहे विधानसभा उपचुनाव (UP Assembly By-Election) में खड़े होने वाले 21 फीसदी उम्मीदवार दागी हैं. इसके अलावा 39 फीसदी प्रत्याशी करोड़पति हैं. इलेक्शन वॉच और एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म ने प्रत्याशियों का ब्यौरा जारी किया है. सबसे अमीर प्रत्याशी देवरिया सीट से सपा प्रत्याशी ब्रह्माशंकर त्रिपाठी हैं. इनके पास 31 करोड़ रुपये की संपत्ति है. वहीं मल्हनी के निर्दलीय उम्मीदवार धनंजय सिंह के ऊपर सबसे ज्यादा आपराधिक मुकदमे दर्ज हैं. इनके अलावा बसपा के 7 प्रत्याशियों में से 5, सपा के 6 में से 5 और कांग्रेस के 6 में से 1 प्रत्याशी दागी हैं. सात सीटों पर होने वाले उपचुनावों में कुल 88 उम्मीदवार हैं.

धनंजय सिंह के खिलाफ कुल 7 मामले दर्ज हैं. उनपर हत्या का भी आरोप है. रिपोर्ट के अनुसार इस बार यूपी उपचुनाव में कुल 18 प्रत्याशियों के खिलाफ आपराधिक मामले दर्ज हैं. इनमें भी 15 के खिलाफ गंभीर आपराधिक मामले हैं. बुलंदशहर से बसपा प्रत्याशी मोहम्मद युनुस के खिलाफ रेप का आरोप सहित 5 मुकदमे हैं. भाजपा के किसी भी उम्मीदवार के खिलाफ कोई भी केस दर्ज नहीं है.

एक उम्मीदवार अशिक्षित
करोड़पतियों की बात करें तो बसपा के सभी उम्मीदवार करोड़पति हैं. सपा के 5 जबकि बीजेपी के 4 उम्मीदवार करोड़पति हैं. सबसे ज्यादा धनी उम्मीदवार ब्रह्मशंकर त्रिपाठी की कुल संपति 31.49 करोड़ रुपये है. धनंजय सिंह यहां दूसरे नंबर पर हैं, उनके पास 23.07 करोड़ रुपये की संपत्ति है. 88 में से 47 उम्मीदवार ऐसे हैं, जो ग्रेजुएट या उससे अधिक पढ़े हैं. 26 उम्मीदवार पांचवीं से 12वीं पास के बीच के हैं. 10 प्रत्याशी साक्षर हैं, जबकि एक प्रत्याशी ने खुद को अशिक्षित बताया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज