Home /News /uttar-pradesh /

क्‍या यूपी में सपा संग जाएगी आम आदमी पार्टी? लखनऊ में अख‍िलेश और संजय स‍िंह की मुलाकात से अटकलें तेज

क्‍या यूपी में सपा संग जाएगी आम आदमी पार्टी? लखनऊ में अख‍िलेश और संजय स‍िंह की मुलाकात से अटकलें तेज

आम आदमी पार्टी सांसद संजय सिंह और सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव के बीच हाल के दिनों में यह तीसरी मुलाकात थी. (फाइल फोटो)

आम आदमी पार्टी सांसद संजय सिंह और सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव के बीच हाल के दिनों में यह तीसरी मुलाकात थी. (फाइल फोटो)

Uttar Pradesh Assembly Election 2022: संजय सिंह और अखिलेश यादव के बीच हाल के दिनों में हुई ये तीसरी मुलाकात (Sanjay Singh Meets Akhilesh Yadav) थी. इससे पहले सोमवार को मुलायम सिंह के जन्मदिन के मौके पर भी दोनों नेताओं के बीच मुलाकात हुई थी. इसके अलावा संजय सिंह जुलाई में अखिलेश यादव के जन्मदिन के मौके पर भी मिले थे, तब उन्होंने अखिलेश यादव की तारीफ की थी और उनमें तथा अरविंद केजरीवाल के बीच की समानताएं भी गिनाई थीं.

अधिक पढ़ें ...

    लखनऊ. उत्तर प्रदेश के आगामी विधानसभा चुनाव (Uttar Pradesh Assembly Election 2022) से पहले जारी मेल-मुलाकातों का दौर जारी है. इसी कड़ी में आम आदमी पार्टी से राज्यसभा सांसद संजय सिंह (AAP MP Sanjay Singh) बुधवार को समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) से मिले. इस मुलाकात को लेकर सियासी अटकलें लगनी शुरू हो गई. हालांकि सपा ने दोनों नेताओं के बीच इस मुलाकात को शिष्टाचारिक भेंट बताया है.

    प्राप्त जानकारी के मुताबिक, उत्तर प्रदेश चुनाव के लिए आप के प्रभारी संजय सिंह बुधवार को लखनऊ स्थित ‘जनेश्वर ट्रस्ट’ के दफ्तर पहुंचे और वहां सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव से मुलाकात की. दोनों के बीच करीब एक घंटे तक मुलाकात चली.

    लखनऊ में अखिलेश से मुलाकात के बाद पत्रकारों से बातचीत में संजय सिंह ने कहा, ‘उत्तर प्रदेश को भ्रष्टाचार मुक्त बनाने के लिए साझा एजेंडे पर ‘रणनीतिक चर्चा’ की.’ सपा के साथ गठबंधन के बारे में पूछे जाने पर सिंह ने कहा, ‘चर्चा अभी शुरू हुई है. अच्छी सार्थक चर्चा हुई है और हम आपको बाद में बताएंगे.’

    मुलायम और अखिलेश के जन्मदिन पर भी की थी मुलाकात
    संजय सिंह और अखिलेश यादव के बीच हाल के दिनों में हुई ये तीसरी मुलाकात थी. इससे पहले सोमवार को मुलायम सिंह के जन्मदिन के मौके पर भी दोनों नेताओं के बीच मुलाकात हुई थी. तब उन्होंने मुलायम सिंह को गुलदस्ता भेंट करते हुए अपनी तस्वीर ट्वीट करते हुए लिखा था, ‘भारतीय राजनीति के पुरोधा उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री नेता जी माननीय मुलायम सिंह यादव जी को जन्मदिन पर हार्दिक शुभकामनाएं. लखनऊ स्थित उनके आवास पर मुलाक़ात कर उनके दीर्घायु की कामना की.’

    ये भी पढ़ें- यूपी चुनाव से पहले चर्चा में ये 4 तस्वीरें, कई सियासी समीकरण कर रहीं साफ

    समाजवादी पार्टी के संस्थापक मुलायम सिंह यादव को गुलदस्ता भेंट करते आप सांसद संजय सिंह (फोटो- @SanjayAzadSln)

    इसके अलावा संजय सिंह जुलाई में अखिलेश यादव के जन्मदिन के मौके पर भी मिले थे, तब उन्होंने अखिलेश यादव की तारीफ की थी और उनमें तथा अरविंद केजरीवाल के बीच की समानताएं भी गिनाई थीं. उनकी इस मेल-मुलाकात और बयान को लेकर यूपी के सियासी गलियारों में चर्चा गर्म है. कुछ राजनीतिक विश्लेषक समाजवादी पार्टी और आम आदमी पार्टी के बीच गठबंधन के कयास से भी इनकार नहीं कर रहे हैं.

    ये भी पढ़ें- यूपी के 35% विधायक दागी, 79% करोड़पति- कुछ ऐसा है मौजूदा विधानसभा का हाल

    ‘बड़े दलों से दूरी, छोटों से गठजोड़’
    अखिलेश यादव भी पहले कह चुके हैं कि वह पिछली बार की ‘गलती’ (कांग्रेस जैसी बड़ी पार्टी से गठबंधन) से सीख लेकर इस बार छोटे दलों के साथ साझेदारी करके आगामी चुनावों में उतरेंगे. इसी कड़ी में जाट लैंड कहे जाने वाले पश्चिम यूपी के किसान बेल्ट की मजबूत पार्टी रही राष्ट्रीय लोकदल (आरएलडी) से भी गठबंधन को लेकर बातचीत चल रही है. अखिलेश यादव और आरएलडी के प्रमुख जयंत चौधरी साफ कह चुके हैं कि दोनों दलों के बीच गठबंधन तय है, बस सीटों के बंटवारे को लेकर बातचीत चल रही है और कुछ ही दिनों इस पर भी फैसला हो जाएगा.

    हालांकि अखिलेश यादव या संजय सिंह की तरफ से अभी तक आप और सपा के बीच किसी तरह के गठजोड़ की बात नहीं कही गई है और इन मुलाकातों को शिष्टाचार भेंट की ही संज्ञा दी जा रही है. हालांकि सियासी जानकारों का कहना है कि इन शिष्टाचारिक भेंटों से ही गठबंधन की राहें खुलती हैं.

    Tags: AAP in UP Election, Akhilesh yadav, Sanjay singh, UP Election 2022

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर