Home /News /uttar-pradesh /

UP Chunav 2022: योगी आदित्यनाथ को बीजेपी ने यूं ही नहीं दिया गोरखपुर से टिकट, ये है बड़ी वजह

UP Chunav 2022: योगी आदित्यनाथ को बीजेपी ने यूं ही नहीं दिया गोरखपुर से टिकट, ये है बड़ी वजह

अमित शाह और योगी आदित्यनाथ (फोटो क्रेडिट- पीटीआई)

अमित शाह और योगी आदित्यनाथ (फोटो क्रेडिट- पीटीआई)

Uttar Pradesh Assembly Election 2022: बीजेपी (BJP in UP) ने उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के पहले दो चरणों के लिए 107 उम्मीदवारों की अपनी लिस्ट जारी (BJP Candidate List) कर दी है. इस लिस्ट में सबसे ज्यादा ध्यान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने खींचा, जिन्हें पार्टी ने गोरखपुर सदर से टिकट दिया है. बीजेपी के इस फैसले के पीछे जानकार कई बड़ी वजहें बताते हैं.

अधिक पढ़ें ...

लखनऊ. भारतीय जनता पार्टी (BJP in UP) ने उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव (Uttar Pradesh Assembly Election 2022) के पहले दो चरणों के लिए 107 उम्मीदवारों की अपनी लिस्ट जारी (BJP Candidate List) कर दी है. इस लिस्ट में सबसे ज्यादा ध्यान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने खींचा, जिन्हें पार्टी ने गोरखपुर सदर से टिकट दिया है. बीजेपी के इस फैसले के पीछे जानकार कई बड़ी वजहें बताते हैं.

गोरखपुर सदर विधानसभा सीट (Gorakhpur Sadar Assembly Seat) पर पिछले 33 वर्षों से बीजेपी का ही कब्जा है. योगी आदित्यनाथ खुद वर्ष 1998 से लेकर 2017 तक गोरखपुर संसदीय सीट से लगातार जीतते रहे हैं. गोरखपुर क्षेत्र की एक-एक विधानसभा सीट पर सीएम योगी की अच्छी पकड़ मानी जाती है. ऐसे में उनके लिए यहां से जीतना बेहद आसान माना जा रहा है.

योगी आदित्यनाथ गोरखपुर सदर सीट से बतौर बीजेपी उम्मीदवार गोरखपुर-बस्ती मंडल की 41 सीटों पर भी सीधी नजर रख सकेंगे. वर्ष 2017 के विधानसभा चुनाव में इन 41 सीटों में से ज्यादातर पर बीजेपी का ही कब्जा है. लखनऊ की गद्दी पर योगी आदित्यनाथ को बैठाने में इन सीटों का बड़ा योगदान था. ऐसे में बीजेपी और योगी आदित्यनाथ आगामी चुनाव में भी ये सारी सीटें अपने कब्जे में रखने की पुरजोर कोशिश करेंगे.

ये भी पढ़ें- मुलायम सिंह यादव के समधी के बाद बहू अपर्णा भी होंगी बीजेपी में शामिल? चर्चा गर्म

योगी का मजबूत गढ़ रहा है गोरखपुर
उत्तर प्रदेश में हुए पिछले दो विधानसभा चुनाव के नतीजों के देखें तो गोरखपुर सदर सीट पर कुल पड़े वोट का 50 प्रतिशत हिस्सा बीजेपी के खाते में गया था. वर्ष 2017 में भी बीजेपी के राधामोहन दास अग्रवाल को 1,22,221 वोट यानी 55.85% प्रतिशत वोट मिले. वहीं वर्ष 2012 के विधानसभा चुनाव में भाजपा के राधामोहन दास अग्रवाल को 49.19% वोट हासिल हुए थे.

यूपी विधानसभा चुनाव से जुड़े तमाम बड़े अपडेट्स यहां पढ़ें…

गोरखपुर सदर सीट का जातीय समीकरण
गोरखपुर सदर सीट पर इस वक्त कुल 4,53,662 रजिस्टर्ड वोटर्स हैं, जिनमें 2,43,013 पुरुष और 2,10,574 महिलाएं हैं. इस सीट पर करीब 60 हजार ब्राह्मण, जबकि 45 हजार से ज्यादा कायस्थ वोटर्स हैं. इसके अलावा 15 हजार क्षत्रिय और करीब 30 हजार मुस्लिम वोटर्स है. इसके अलावा वैश्य, यादव, निषाद और दलित वोर्टस भी अच्छी खासी तादाद में हैं. हालांकि गोरखपुर के सियासी इतिहास को देखें तो यहां यह सारे जातीय समीकरण सीएम योगी की रणनीति के आगे धराशायी होते रहे हैं और चुनावों में वही उम्मीदवार जीतता रहा है, जिसे सिर पर मठ का हाथ हो.

Tags: Gorakhpur news, UP BJP, Uttar Pradesh Assembly Elections, Uttar Pradesh Elections, Yogi Adityananth

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर