Home /News /uttar-pradesh /

यूपी: ट्वाय गन से किया बॉस का अपहरण, फिरौती में वसूले 15 लाख रुपए

यूपी: ट्वाय गन से किया बॉस का अपहरण, फिरौती में वसूले 15 लाख रुपए

अपहरणकर्ताओं में एक राहुल यादव हैंडबॉल का नेशनल प्लेयर रहा है.

अपहरणकर्ताओं में एक राहुल यादव हैंडबॉल का नेशनल प्लेयर रहा है.

कानपुर पुलिस (Kanpur Police) ने वारदात में शामिल 4 आरोपियों (Accused) को गिरफ्तार कर फिरौती (Ransom) में वसूले गए 15 लाख में से 11 लाख रुपए बरामद कर लिए है.

कानपुर. उत्‍तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के कानपुर (Kanpur) में कॉल सेंटर (Call Center) संचालक के अपहरण (Kidnap) और फिरौती वसूली की वारदात का पुलिस न खुलासा कर दिया. पुलिस ने मामले में शामिल 4 बदमाशों को गिरफ्तार कर, उनके कब्‍जे से फिरौती में वसूले गए 15 लाख में 11 लाख रुपए बरामद कर लिए हैं. पुलिस को उनके पास से लूटा गया मोबाइल, लैपटॉप और अपहरण में प्रयोग की गई बोलैरो काम बरामद कर ली है.

पुलिस के अनुसार, इस पूरी वारदात का सूत्रधार कॉल सेंटर में काम करने वाला कर्मचारी था. जिसने खुद भी संचालक और अपने दो सहकर्मियों संग अपह्रत होने का नाटक किया. हैरानी की बात यह है कि खिलौने की बंदूक से बदमाशों ने अपहरण की वारदात को अंजाम दिया था. अपहरण के दौरान इन लोगों ने गन के रूप में सिगरेट लाइटर का प्रयोग किया था. जिसे अपह्रत लोगों ने असली असलहा समझ लिया था.

शुक्रवार रात रतनलाल नगर से किया गया था अपहरण
किदवई नगर के एनएलसी कॉलोनी में रहने वाले अनुराग द्विवेदी का रतनलाल नगर में टेली कम्युनिकेशन कार्यालय है. अनुराग के मुताबिक, शुक्रवार रात वह दफ्तर में अपने तीन कर्मचारियों के साथ मौजूद थे. रात करीब 10.30 बजे एक बोलेरो से पांच नकाबपोश बदमाश असलहों के साथ घुस आए और मारपीट की. दफ्तर में रखे 15 से 20 हजार रुपये नकद और लैपटॉप लूट लिए.

इसके बाद, बदमाश उन्हें व सभी कर्मचारियों को कार में बैठाकर पनकी, फिर महाराजपुर क्षेत्र में ड्योढ़ी घाट के जंगलों में ले जाकर डंडे और बेल्ट से पीटने लगे. 15 लाख रुपये की फिरौती मांगी. अनुराग ने घर पर फोन करके 15 लाख रुपये मंगाए. जिसके बाद बदमाशों ने उसे व उसके साथियों को थोड़ी-2 दूरी के अंतराल पर छोड़ा. जिसके बाद उन्होंने मामले की जानकारी गोविंद नगर पुलिस को दी.

https://www.youtube.com/watch?v=DmXINkSkgOM&t=15s

यह भी पढ़ें: कानपुर: साले ने बहनोई को गोली मारकर खुद को भी उड़ाया, एक की मौत

अपहरणकर्ताओं में एक नेशनल प्‍लेयर भी शामिल
वारदात की जानकारी मिलने के बाद, पुलिस ने अनुराग और उनके कर्मचारी आशुतोष से पूछताछ की. पूछताछ के दौरान, पुलिस को आशुतोष की बातों पर शक हुआ. जिसके बाद, पुलिस ने सख्ती से पूछताछ की तो वह टूट गया. उसने खुद ही पूरी साजिश रचने की बात कबूल कर ली. आशुतोष की निशानदेही पर पुलिस ने उसके तीन अन्य साथियों को भी धर दबोचा. पुलिस ने आरोपियों के कब्‍जे से बतौर फिरौती वसूले गए 15 लाख में से 11 लाख रुपए व ऑफिस से लूटे गया सामान बरामद कर लिया है.

पकड़े गए अपहरणकर्ताओं में एक राहुल यादव हैंडबॉल का नेशनल प्लेयर रहा है. एसपी साउथ अपर्णा गुप्ता ने पूरे अभियान को लीड किया. उनका कहना है कि फिरौती की रकम से चार लाख रुपए आरोपियों ने खर्च कर दिए हैं. वहीं आशुतोष जो कि अनुराग के ऑफिस में काम करता था ने पूरी वारदात की कहानी रची थी. उसे अनुराग से अपना बकाया ढाई लाख रुपए भी लेना था. वारदात में शामिल बर्रा के रहने वाले गोलू शुक्ला के अलावा किसी का भी आपराधिक रिकार्ड नही है.

 

Tags: Call Center, Kanpur news, Kanpur Police, Kidnapping, Ransom, UP police, Uttar pradesh news, Uttar Pradesh Police

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर