Home /News /uttar-pradesh /

यूपी चुनाव में सुरों की टक्कर: किस पार्टी के गाने में है कितना दम, जानिए विस्तार से

यूपी चुनाव में सुरों की टक्कर: किस पार्टी के गाने में है कितना दम, जानिए विस्तार से

बीजेपी में कन्हैया मित्तल की माग बढ़ गई है. अब वे उत्तराखंड में बीजेपी के लिए गाना लिख रहे हैं.

बीजेपी में कन्हैया मित्तल की माग बढ़ गई है. अब वे उत्तराखंड में बीजेपी के लिए गाना लिख रहे हैं.

UP elections songs:देश के सबसे बड़े राज्य उत्तर प्रदेश में चुनावी ऐलान (UP Elections) के साथ ही चुनावी बिगुल भी बज चुका है. राजनीतिक दल जनता को लुभाने के लिए इस बार प्रचार से ज्यादा सुर और ताल से लुभाने की कोशिश में ज्यादा लगे हुए हैं. राजनीतिक पार्टियां चुनावी रैप और जोशीले धुन से जनता को अपनी ओर खींचने में लगी हुई हैं. भाजपा के पास पहले से मनोज तिवारी और रवि किशन मौजूद हैं.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्ली. देश के सबसे बड़े राज्य उत्तर प्रदेश में चुनावी ऐलान (UP Elections) के साथ ही चुनावी बिगुल भी बज चुका है. राजनीतिक दल जनता को लुभाने के लिए इस बार प्रचार से ज्यादा सुर और ताल से लुभाने की कोशिश में ज्यादा लगे हुए हैं. हर दल के जखीरे में एक से बढ़कर एक चुनावी गाने, रैप और म्यूजिक शो है. इस बार सुर और ताल से जनता को लुभाने का आइडिया इसलिए भी प्रभावी है क्योंकि कोरोना महामारी को देखते हुए 22 जनवरी तक किसी भी तरह की फिजिकल रैली पर रोक है. यही कारण है राजनीतिक पार्टियां चुनावी रैप और जोशीले धुन से जनता को अपनी ओर खींचने में लगी हुई हैं. यूपी के चुनावी बिसात पर सुर और ताल से जनता को अपनी ओर खींचने में फिलहाल भाजपा और सपा सबसे आगे दिख रही हैं. भाजपा के पास पहले से मनोज तिवारी और रवि किशन मौजूद हैं.

भाजपा का सुर तैयार
चुनावी गाने में भाजपा सबसे आगे है. पार्टी ने कई गाने पहले से ही लॉन्च कर दिए हैं. जाहिर है भाजपा के पास सेलिब्रिटी गायकों की भी कमी नहीं है. कई बड़े कलाकार पार्टी का हिस्सा हैं. भाजपा सांसद मनोज तिवारी और रवि किशन की आवज में कई गाने रिकॉर्ड हो चुके हैं और इनमें सिंगर कन्हैया मित्तल भी जुड़ गए हैं. मित्तल का गाना ‘जो राम को लाए हैं’ पहले से पॉपुलर हो चुका है. मित्तल ने न्यूज 18 के यूपी कॉन्क्लेव में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के लिए गाना गाया था. इसके बाद उन्हें बीजेपी का गाना गाने के लिए ऑफर दिया गया. मित्तल ने मनोज तिवारी के साथ एक गाना रिकॉर्ड किया है जिसका टीजर सोशल मीडिया पर लॉन्च कर दिया गया. यह गाना मंदिर अब बनने लगा है, भगवा रंग चढ़ने लगा है काफी पॉपुलर हो रहा है. मुख्यमंत्री ने इस गाने की तारीफ है.


बीजेपी के गाने में काशी-मथुरा का जिक्र
कोई भी चुनावी गाना बिना पार्टी संदेश के अधूरा है. पार्टी के हिसाब से इसमें आकर्षक बोल लिखे जाते हैं. मनोज तिवारी ने जो गाना गाया है उसका बोल है-डमरू जब बजेगा तब देख नजारा क्या होगा, मीट बंद हुआ है, बांसुरी जब बजेगी देख नजारा क्या होगा. इस तरह के बोल भाजपा को शूट करता है. भाजपा के लिए यह जाहिर है कि उसके गाने में काशी, मथुरा का जिक्र हो. हालांकि मनोज तिवारी का कहना है कि काशी, मथुरा का जिक्र करने का मकसद यह नहीं है कि किसी अन्य धर्म को कमतर आंका गया है. हम केवल इतना कहना चाहते हैं कि सनातन और भगवा विकास का प्रतीक है और इसमें हर गरीब का ख्याल रखा जाता है. तिवारी ने बताया कि जिन दिन News 18 कॉन्क्लेव हुआ था, उसी दिन यह गाना लिखा गया था और उसी दिन हम कन्हैया मित्तल से मिले. इसके दो दिन बाद दिल्ली में इस गाने को कंपोज किया गया है.

कन्हैया मित्तल के कई गाने हो रहे हैं लोकप्रिय
बीजेपी में कन्हैया मित्तल की माग बढ़ गई है. अब वे उत्तराखंड में बीजेपी के लिए गाना लिख रहे हैं. कन्हैया ने न्यूज 18 को बताया, मैं उत्तराखंड के सीएम के लिए गाना लिख रहा हूं. इस गाने का बोल भी तैयार हो गया है- जिन्होंने गढ़वाल सजाया है, कुमांऊ भी सजाएंगे. मित्तल ने यह भी बताया कि उन्हें कांग्रेस के तरफ से भी ऑफर मिला था लेकिन उन्होंने उसे ठुकरा दिया. मित्तल ने कहा, मैं उन्हीं का समर्थन करूंगा जो राम के लिए काम करते हैं. मित्तल का एक गाना जो राम को लाए हैं पहले से ही बहुत ज्यादा लोकप्रिय हैं. मित्तल के अलावा रवि किशन का गाना यूपी में सब बा भी बेहद लोकप्रिय हो रहा है.

सपा का सुर
यूपी के चुनावी धुन में समाजवादी पार्टी भी पीछे नहीं है. पार्टी ने कई गाने बनाए हैं जो सोशल मीडिया पर समर्थकों में पॉपुलर हो चुका है. सपा का एक गाना जनता पुकारती है, अखिलेश आइए, खुशहाली और विकास का सूरज उगाइए को खूब सुना जा रहा है. इस गाने को बॉलीवुड सिंगर अल्तमश फरीदी ने गाया है जबकि बिलाल सहारनपुरी ने इस गाने को लिखा है. इस गाने के वीडियो में अखिलेश यादव के समाजवादी रथ को दिखाया गया है. यूट्यूब पर अब तक इसे लाखों लोगों ने देखा है. यह गाना एक तरह के समाजवादी पार्टी का अघोषित एंथम (पार्टीगान) बन चुका है. सपा ने पश्चिम बंगाल में ममता बैनर्जी के खेला होबे की तर्ज पर खदेड़ा होइबे को भी गाना में पिरो दिया है जिसमें बीजेपी पर प्रहार किया जा रहा है. सपा का एक और गाना पॉपुलर हो रहा है जिसे सपा कार्यकर्ता चाहत मल्होत्रा ने गाया और लिखा है. यह गाना है—मारा तो एक ही नारा है, अखिलेश जी दोबारा है, फिर यूपी ने पुकारा है.

Tags: Assembly elections, Manoj tiwary, UP elections

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर