अपना शहर चुनें

States

UP Panchayat Election 2021: आयोग की नई गाइडलाइंस, बढ़ जाएगी चुनाव लड़ने वालों की संख्या

उत्तर प्रदेश पंचायत चुनाव के लिए आयोग ने नई गाइडलाइन जारी की है.
उत्तर प्रदेश पंचायत चुनाव के लिए आयोग ने नई गाइडलाइन जारी की है.

उत्तर प्रदेश में राज्य निर्वाचन आयोग (Election Commission) की ओर से जो सूचनाएं मिल रही हैं उसके मुताबिक इस बार पंचायत प्रत्याशियों की संख्या में इजाफा करने की तैयारी है. 

  • Share this:
लखनऊ. उत्तर प्रदेश त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव (Panchayat Election 2021) के लिए अभी तारीखों ऐलान भले ही नही हुआ हो, लेकिन चुनाव की तैयारियों में तेजी दिखाई पड़ऩे लगी है. उत्तर प्रदेश में राज्य निर्वाचन आयोग ( Election Commission) की ओर से जो सूचनाएं मिल रही हैं उसके मुताबिक इस बार पंचायत प्रत्याशियों की संख्या में इजाफा करने की तैयारी है. खबर है कि इस बार पंचायत चुनाव में प्रत्येक ग्राम पंचायत से प्रधान (Pradhan) पद के लिए 57 लोग पर्चा भर सकेंगे. इसके पहले प्रधान पद 47 पर्चे ही भरे जा सकते थे. यह व्यवस्था कागज के मतपत्र होने के कारण निर्धारित की गई है. जिला निर्वाचन पंचायत को शासन से त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव कराने के लिए गाइडलाइंस भेजी गई है उसमें इसका जिक्र किया गया है.

प्रदेश में जो त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव होने है. उसमें ग्राम प्रधान, क्षेत्र पंचायत सदस्य बीडीसी, वार्ड मेंम्बर, जिला पंचायत सदस्य के लिए अलग-अलग चुनाव प्रक्रिया होगी. गांव-गांव पदों के साथ उनकी संख्या भी निर्वाचन आयोग ने बढ़ाई है. इसमें एक वार्ड से सदस्य के लिए 18 पर्चा भरे जा सकेंगे. वहीं बीडीसी के लिये 36 पर्चा, ग्राम प्रधान के लिए 57 और जिला पंचायत सदस्य के लिए 53 लोग पर्चा भर सकेंगे. अधिकारियों से मिल रही जानकारी के अनुसार पिछले चुनावों में यह संख्या 45 से 47 रहती थी, लेकिन इस बार इसे बढ़ाया गया है. पहले प्रत्याशी अधिक होने के कारण कई लोग चुनाव लड़ऩे से वंचित रह जाते थे. अब लोगों का चुनाव लड़ऩे का मौका खाली न जाएगा. वह भी अपनी दावेदारी कर सकेंगे और चुनाव लड़ सकेंगे.

ये भी पढ़ें: रूपेश सिंह हत्याकांड: सुशील मोदी के सामने इमोशनल हुई बेटी, बोली- 'पापा के हत्यारों को मम्मी मारेंगी गोली'



जानें क्या है नई गाइडलाइन
त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव को निर्वाचन आयोग की गाइडलाइंस अनुसार इस बार ग्राम प्रधान पद, बीडीसी और ग्राम पंचायत सदस्य के चुनाव को लेकर नई व्यवस्था बनाई गई है. इसमें एक व्यक्ति चार से ज्यादा पर्चा नहीं भर सकेगा. चार ज्यादा पर्चा भरे तो स्वता ही सभी पर्चा निरस्त कर दिए जाएंगे. चुनाव अधिकारियों के अनुसार, त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव की प्रक्रिया को निर्वाचन आयोग से गाइडलाइंस जारी होने के बाद यह तय हो गया है कि इस बार प्रत्याशियों की संख्या पहले से अधिक हो जाएगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज