यूपी: रेलवे और आर्डिनेंस में नौकरी दिलाने के नाम पर करते थे ठगी, अब तक 50 युवकों को बना चुके हैं अपना शिकार
Azamgarh News in Hindi

यूपी: रेलवे और आर्डिनेंस में नौकरी दिलाने के नाम पर करते थे ठगी, अब तक 50 युवकों को बना चुके हैं अपना शिकार
नौकरी के नाम पर ठगी करने वाले 4 आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है.

पुलिस अधीक्षक प्रोफेसर त्रिवेणी सिंह (Professor Triveni Singh) ने बताया कि आरोपी अब तक कई दर्जनों लोगों से लगभग 40 से 50 लाख रुपये नौकरी (Job) दिलाने के नाम पर ठगी (Cheating) कर चुके है.

  • Share this:
आजमगढ़. बेरोजगार युवकों (Unemployed Youths) को नौकरी दिलाने के नाम पर लाखों रुपए की ठगी (cheating) करने वाले 4 आरोपियों को आजमगढ़ पुलिस (Azamgarh police) ने गिरफ्तार किया है. दरअसल, मामले का खुलासा तब हुआ, जब ठगी का शिकार हुए एक शख्‍स ने इसकी प्राथमिकी दर्ज कराई. आजमगढ़ पुलिस जांच में पता चला कि इन लोगों का पूरा एक गिरोह है, जो दर्जनों लोगों को अपना शिकार बनाकर 40 से 50 लाख की ठगी कर चुके हैं.

पुलिस के अनुसार, आजमगढ़ जिले के निजामाबाद थाना क्षेत्र के खादा गांव निवासी प्रिंस शर्मा ने शिकायत पर कार्रवाई की गई है. प्रिंस शर्मा ने अपनी शिकायत में बताया था कि कुछ लोगों द्वारा ऑर्डिनेंस फैक्ट्री में नौकरी दिलाने के नाम पर धोखाधड़ी व जालसाजी करके 63 हजार रुपए की ठगी की गई और फर्जी ज्वाइन लेटर भी दिया गया. इस संबंध में पुलिस मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच में जुट गई. पुलिस ने इस मामले में 4 लोगों को गिरफ्तार किया है. पुलिस ने इनके पास से कई विभाग के फर्जी प्रमाण पत्र भी बरामद किए हैं.

दर्जनों लोगों के साथ कर चुके हैं ठगी
पुलिस अधीक्षक प्रोफेसर त्रिवेणी सिंह ने मामले का खुलासा करते हुए बताया कि अभियुक्त गण का एक संगठित गिरोह है जो भोले भाले बेरोजगार युवकों की भावनाओं का दोहन करके उनको नौकरी दिलाने के नाम पर ठगी करते है. इनका पूरा नेटवर्क लखनऊ से चल रहा था. इनका मास्टरमाइंड कानपुर का है. एसपी ने बताया कि आरोपी अब तक कई दर्जनों लोगों से लगभग 40 से 50 लाख रूपये नौकरी दिलाने के नाम पर ठगी कर चुके है.
कई विभागों के बरामद हुए ज्‍वाइनिंग लेटर


पुलिस ने इनके कब्‍जे से कई विभागों का ज्वाइनिंग लेटर बरामद हुए हैं. पुलिस अब यह पता लगाने का प्रयास कर रही है कि इनके पास उन विभागों का लेटर कहां से आए. पुलिस के अनुसार, इनका पूरा एक गैंग है जो कानपुर से लेकर पटना तक फैला हुआ. जिनकी जानकारी की जा रही है. गिरफ्तार आरोपी विवेक सिंह, राजेश गुप्ता उर्फ राज गुप्ता, हरिलाल गौतम विकासखण्ड गोमतीनगर लखनऊ व मुन्नीराम आजमगढ़ जिले के तरवा थाना क्षेत्र के नदवा का रहने वाला है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading