Home /News /uttar-pradesh /

UP Chunav: किसी ने 3 लाख रुपये में जीता चुनाव तो किसी ने झोंके 25 लाख, जानें 2017 में कहां कितना रहा खर्च

UP Chunav: किसी ने 3 लाख रुपये में जीता चुनाव तो किसी ने झोंके 25 लाख, जानें 2017 में कहां कितना रहा खर्च

एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स यानी एडीआर की वेबसाइट myneta.info पर सभी उम्मीदवारों के चुनाव खर्च का विवरण मौजूद है. (प्रतीकात्मक)

एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स यानी एडीआर की वेबसाइट myneta.info पर सभी उम्मीदवारों के चुनाव खर्च का विवरण मौजूद है. (प्रतीकात्मक)

निर्वाचन आयोग ने आगामी विधानसभा चुनाव (Uttar Pradesh Assembly Election 2022) के लिए उम्मीदवारों द्वारा चुनाव प्रचार (Election Campaign Expenses) में अधिकतम खर्च की सीमा को 28 लाख रुपये से बढ़ाकर 40 लाख रुपये कर दिया है. ऐसे में यह जानना दिलचस्प होगा कि पिछले विधानसभा चुनाव (UP Chunav) में किस नेता ने कितने रुपये प्रचार अभियान में खर्च किए थे.

अधिक पढ़ें ...

लखनऊ. निर्वाचन आयोग ने आगामी विधानसभा चुनाव (Uttar Pradesh Assembly Election 2022) के लिए उम्मीदवारों द्वारा चुनाव प्रचार (Election Campaign Expenses) में अधिकतम खर्च की सीमा को 28 लाख रुपये से बढ़ाकर 40 लाख रुपये कर दिया है. ऐसे में यह जानना दिलचस्प होगा कि पिछले विधानसभा चुनाव (UP Chunav) में किस नेता ने कितने रुपये प्रचार अभियान में खर्च किए थे.

एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स यानी एडीआर की वेबसाइट myneta.info पर सभी उम्मीदवारों के चुनाव खर्च का विवरण मौजूद है. यह सारी जानकारी खुद उम्मीदवारों ने चुनाव आयोग में दायर हलफनामे में दी है. इन आंकड़ों के विश्लेषण से पता चलता है कि साल 2017 के चुनाव में पूर्वांचल से निर्वाचित विधायकों ने पश्चिम यूपी के विधायकों के मुकाबले कम पैसे खर्च किए.

पिछले विधानसभा चुनाव में पश्चिम यूपी से जीत दर्ज करने वाले विधायकों ने औसतन जहां 15.6 लाख रुपये खर्च किए, वहीं पूर्वांचल से निर्वाचित विधायक का औसत खर्च 11.87 लाख रुपये था. हालांकि इस मामले बुंदेलखंड से निर्वाचित विधायकों ने सबसे ज्यादा रुपये झोंके, जिनका औसत खर्च 16.07 लाख रुपये रहा.

चुनाव आयोग के पास दायर हलफनामे के मुताबिक, बुंदेलखंड में जहां निर्वाचित विधायकों का औसत खर्च 16.07 लाख रहा, वहीं पश्चिमी उत्तर प्रदेश में यह राशि औसतन 15.6 रखी. इसके अलावा मध्यांचल से निर्वाचित विधायकों का औसत खर्च 12.3 लाख रुपये, पूर्वांचल का 11.87 लाख रुपये जबकि रुहेलखंड में सबसे कम औसत खर्च 11.39 लाख रुपये रहा.

ये भी पढ़ें- मायावती ने दूसरी लिस्ट में भी मुस्लिमों पर खेला बड़ा दांव, 51 प्रत्याशियों में 23 मुसलमान

पूर्वांचल के विधायक ने चुनाव प्रचार में किया सबसे ज्यादा खर्च
हिन्दुस्तान अखबार की रिपोर्ट के मुताबिक, उत्तर प्रदेश के पिछले विधानसभा चुनाव में सबसे अधिक खर्च करने वाले विधायक बलिया के बांसडीह विधानसभा सीट से निर्वाचित विधायक राम गोविंद चौधरी रहे, जिन्होंने कुल 24 लाख 90 हजार 5 रुपये खर्च किए. वहीं दूसरे स्थान पर मोहनलालगंज से विधायक अंबरीश सिंह पुष्कर थे, जिन्होंने चुनाव में कुल 24 लाख 42 हजार 956 रुपये खर्च करने की जानकारी चुनाव आयोग को दी, जबकि तीसरे स्थान पर चरखारी के विधायक ब्रजभूषण हैं, जिन्होंने कुल 24 लाख 37 हजार 516 रुपये खर्च किए.

ये भी पढ़ें- अखिलेश का नया वादा- सपा की सरकार आई तो 22 लाख युवाओं को IT सेक्टर में देंगे रोजगार

वाराणसी के विधायक ने 3 लाख रुपये से भी कम में जीता चुनाव
वहीं सबसे सस्ते में चुनाव जीतने वाले विधायकों की लिस्ट में सबसे ऊपर वाराणसी दक्षिण के विधायक डॉ. नीलकंठ तिवारी का नाम रहा. उन्होंने आयोग को अपना कुल चुनाव खर्च बस 2 लाख 84 हजार 694 रुपये दिखाया. इस लिस्ट में दूसरे नंबर पर आजमगढ़ के निज़ामाबाद से विधायक आलम बदी है, जिन्होंने महज 3 लाख 28 हजार 600 रुपये खर्च करके चुनाव जीत लिया.

Tags: Election campaign, Uttar Pradesh Assembly Elections, Uttar Pradesh Elections

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर