Home /News /uttar-pradesh /

बड़ी खबर: समाजवादी पार्टी में विलय के लिए तैयार शिवपाल यादव, समर्थकों के लिए मांगी 100 टिकटें

बड़ी खबर: समाजवादी पार्टी में विलय के लिए तैयार शिवपाल यादव, समर्थकों के लिए मांगी 100 टिकटें

शिवपाल यादव ने साफ किया कि वह उत्तर प्रदेश के आगामी विधानसभा चुनाव में अपने समर्थकों के लिए 100 टिकटें चाहते हैं. (फाइल फोटो)

शिवपाल यादव ने साफ किया कि वह उत्तर प्रदेश के आगामी विधानसभा चुनाव में अपने समर्थकों के लिए 100 टिकटें चाहते हैं. (फाइल फोटो)

UP Assembly Elections 2022: शिवपाल यादव ने हालांकि अखिलेश यादव के सामने एक शर्त भी रखी है. उन्होंने साफ किया कि वह उत्तर प्रदेश के आगामी विधानसभा चुनाव में अपने समर्थकों के लिए 100 टिकटें चाहते हैं. शिवपाल यादव ने कहा, 'हमने तो 2019 में ही कहा था कि चलो हम ही झुक जाएंगे. आज दो साल हो गए, लेकिन कोई बात बनी नहीं बनी.'

अधिक पढ़ें ...

सैफई. समाजवादी पार्टी के संरक्षक मुलायम सिंह यादव (Mulayam Singh Yadav Birthday) के जन्मदिन के मौके पर उनके भाई प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के प्रमुख शिवपाल सिंह यादव (Shivpal Yadav) ने भतीजे अखिलेश के नेतृत्व वाली सपा में अपनी पार्टी के विलय का साफ संकेत दिया. यादव परिवार के गढ़ सैफई में उन्होंने पार्टी कार्यकर्ताओं से बातचीत में कहा कि वह समाजवादी पार्टी में अपनी पार्टी प्रसपा का विलय करने के लिए तैयार हैं. वहीं इसके साथ ही उन्होंने कहा कि सपा के साथ गठबंधन की संभावना से भी कतई इनकार नहीं है और एक हफ्ते के अंदर अपने लोगों से राय लेकर इस पर फैसला करेंगे.

शिवपाल यादव ने हालांकि अखिलेश यादव के सामने एक शर्त भी रखी है. उन्होंने साफ किया कि वह उत्तर प्रदेश के आगामी विधानसभा चुनाव (UP Assembly Elections) में अपने समर्थकों के लिए 100 टिकटें चाहते हैं. शिवपाल यादव ने कहा, ‘हमने तो 2019 में ही कहा था कि चलो हम ही झुक जाएंगे. आज दो साल हो गए, लेकिन कोई बात बनी नहीं बनी.’

शिवपाल की बातों में छलका उपेक्षा का दर्द
समाजवादी पार्टी के संरक्षक मुलायम सिंह यादव के जन्मदिन के मौके पर सैफई के मास्टर चंदगीराम स्पोर्ट्स स्टेडियम में दंगल से पहले शिवपाल यादव के संबोधन में उपेक्षा का दर्द भी छलका, जब उन्होंने कहा, ‘आज यहां पर तेजप्रताप और अंशुल को भी होना चाहिए था. अंशुल को हराने के लिए कितनी ताकतें लगी थीं. हमारी ताकत पर अंशुल निर्विरोध चुन लिए गए. उन्हीं की तरफ से 22 तारीख को दंगल की बात चली थी, लेकिन वह यहां नहीं आए. हमने सोचा था कि यह दंगल ऐतिहासिक दंगल होगा, लेकिन नहीं हुआ. हमने हमेशा त्याग किया. हम चाहते तो 2003 में मुख्यमंत्री बन सकते थे, लेकिन मैंने नेता जी को दिल्ली से बुलाकर सीएम बनाया था.’

ये भी पढ़ें- पिछले विधानसभा चुनाव में जिन 78 सीटों पर हारी वहीं से नैया पार लगाने की कोशिश में बीजेपी

वहीं प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव आदित्य यादव का कहना है कि सपा प्रमुख अखिलेश यादव और पीएसपीएल प्रमुख शिवपाल सिंह यादव 2022 विधानसभा चुनाव में बड़ी कामयाबी के मद्देनजर बहुत ही जल्दी एक मंच पर आएं. ऐसा वह नहीं, बल्कि दोनों संगठनों के कार्यकर्ता मान कर चलते हैं.

ये भी पढ़ें- ओवैसी ने चेताया- NPR, NRC लाएगी सरकार तो दूसरा शाहीन बाग सामने आएगा

समाजवादी पार्टी के संरक्षक मुलायम सिंह यादव के जन्मदिन के मौके पर सैफई के मास्टर चंदगीराम स्पोर्ट्स स्टेडियम में दंगल के आयोजन में पहुंचे आदित्य यादव ने पत्रकारों के समक्ष कहा कि उनकी यात्रा को व्यापक जनसमर्थन मिला है और ज्यादातर कार्यकर्ताओं का ऐसा मानना है कि सपा प्रमुख अखिलेश यादव और पीएसपीएल प्रमुख शिवपाल सिंह यादव बहुत ही जल्दी एक मंच पर आए तो 2022 विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी के मुकाबले बड़ी कामयाबी मिल सकती है.

Tags: Akhilesh yadav, Samajwadi party, Shivpal Yadav, UP Election 2022, Uttar pradesh news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर