यूपी में शुरू हुआ बालिका सुरक्षा 'कवच' अभियान, कानुपर पुलिस ने उठाया ये कदम

योगी आदित्यनाथ सरकार के नए फरमान के अनुसार, बालिका सुरक्षा जागरूकता टीम में दो पुलिस अधिकारी, कर्मचारी और महिला एवं बाल विकास विभाग के एक्सपर्ट शामिल होंगे.

Amit Ganju | News18 Uttar Pradesh
Updated: July 9, 2019, 5:04 PM IST
यूपी में शुरू हुआ बालिका सुरक्षा 'कवच' अभियान, कानुपर पुलिस ने उठाया ये कदम
कानपुर पुलिस ने बच्चियों को जागरूक करने के लिए खास अभियान शुरू किया है.
Amit Ganju | News18 Uttar Pradesh
Updated: July 9, 2019, 5:04 PM IST
उत्‍तर प्रदेश सरकार द्वारा संचालित बालिका सुरक्षा जागरूकता "कवच" अभियान के तहत कानपुर में 86 पुलिसकर्मी समेत 15 टीमें महिला बाल कल्याण विभाग की मदद से बच्चियों को आत्म सुरक्षा के लिए जागरूक कर रही हैं. यह अभियान 1 से 31 जुलाई 2019 तक जनपद के चयनित 27 विद्यालयों में चलाया जा रहा है. इस दौरान शहर और ग्रामीण क्षेत्रों की बच्चियों को टीम द्वारा जागरूक किया जा रहा है. इसी सिलसिले में शहर के बीएनएसडी शिक्षा निकेतन चुन्नीगंज के सभागार में गोष्ठी का आयोजन कर जनपद की अध्यापिकाओं तथा स्वयं सेवी संगठनों के लोगों से जिलाधिकारी ने कहा कि अभिभावक बच्चियों के दोस्त बन कर रहें और उनको समाज में होनी वाली घटनाओं के विषय में जागरूक करते रहें.

साथ ही उन्‍होंने कहा कि बच्चियों को जागरूक करने की जिम्मेदारी अध्यापकों की भी है, क्योंकि वह ज्यादा समय विद्यालय में देती हैं. उनको एक अच्छा नागरिक बनाने की जिम्मेदारी विद्यालय प्रशासन की भी है. जबकि अभिभावक को चाहिए कि वह लड़के तथा लड़कियों में भेदभाव ना करें, उन्हें एक समान रूप से देखें और अच्छी गुणवत्तापूर्ण शिक्षा उन्हें प्रदान कराएं. यही नहीं, बच्चियों को जागरूक करने के लिए स्कूल में जागरूकता गोष्ठियों का आयोजन किया जाये.

शहर के बीएनएसडी शिक्षा निकेतन चुन्नीगंज के सभागार में गोष्ठी का आयोजन हुआ.


चुप्पी तोड़े खुल कर बोले

जबकि एसएसपी ने कहा कि 'चुप्पी तोड़े खुल कर बोले' बच्चियों को अब उनके साथ हो रही घिनौनी हरकतों के विषय में अपनी चुप्पी तोड़नी होगी. यदि उनके साथ कुछ भी घटित होता है तो 24 घंटे महिला हेल्पलाइन में उसके संबंध में अपनी शिकायत कर सकती हैं. यदि महिलाएं समझती हैं कि वे रास्ते में हैं और अपने आप को असुरक्षित महसूस कर रही हैं तो तत्काल 100 नम्बर डायल कर अपनी स्थिति बताएं. 100 डायल उनको सुरक्षित उनके घर तक पहुंचाएगी. इस हेतु शहर के दक्षिण क्षेत्र में महिला सुरक्षा को बढ़ावा देने के लिए पिंक चौकी बनाई गई है.

ये है योगी सरकार का फरमान
योगी आदित्यनाथ सरकार के नए फरमान के अनुसार, बालिका सुरक्षा जागरूकता टीम में दो पुलिस अधिकारी, कर्मचारी और महिला एवं बाल विकास विभाग के एक्सपर्ट शामिल होंगे. यह टीम 1 जुलाई से 31 जुलाई तक स्कूलों और कॉलेजों में जाकर लड़कियों को सुरक्षा के लिए जागरूक करेगी.
Loading...

ये भी पढ़ें- बस हादसा: यूपी रोडवेज की इस बड़ी लापरवाही से हुई 29 यात्रियों की मौत

गोरखपुर एयरपोर्ट के आए अच्‍छे दिन, एक महीने में 8 फ्लाइट्स के साथ बनाया ये रिकॉर्ड
First published: July 9, 2019, 4:53 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...