• Home
  • »
  • News
  • »
  • uttar-pradesh
  • »
  • Uttar Pradesh (UP) Exit Poll Results 2019 Live : उत्तर प्रदेश (यूपी) के एग्जिट पोल में 60 से अधिक सीटों के साथ बीजेपी सबसे आगे

Uttar Pradesh (UP) Exit Poll Results 2019 Live : उत्तर प्रदेश (यूपी) के एग्जिट पोल में 60 से अधिक सीटों के साथ बीजेपी सबसे आगे

Uttar Pradesh (UP) Exit Poll/Opinion Polls Results 2019: उत्तर प्रदेश (यूपी) के News 18- IPSOS एग्जिट पोल आने वाला है. उत्तर प्रदेश की 80 सीटों पर सपा-बसपा गठबंधन के भाग्य और बीजेपी किलेबंदी का फैसला होगा. उत्तर प्रदेश के लोकसभा चुनाव परिणाम 23 मई को आएंगे.

Uttar Pradesh (UP) Exit Poll/Opinion Polls Results 2019: उत्तर प्रदेश (यूपी) के News 18- IPSOS एग्जिट पोल आने वाला है. उत्तर प्रदेश की 80 सीटों पर सपा-बसपा गठबंधन के भाग्य और बीजेपी किलेबंदी का फैसला होगा. उत्तर प्रदेश के लोकसभा चुनाव परिणाम 23 मई को आएंगे.

Uttar Pradesh (UP) Exit Poll/Opinion Polls Results 2019: उत्तर प्रदेश (यूपी) के News 18- IPSOS एग्जिट पोल आने वाला है. उत्तर प्रदेश की 80 सीटों पर सपा-बसपा गठबंधन के भाग्य और बीजेपी किलेबंदी का फैसला होगा. उत्तर प्रदेश के लोकसभा चुनाव परिणाम 23 मई को आएंगे.

  • Share this:
    Uttar Pradesh Lok Sabha Exit Poll Results 2019: लोकसभा चुनाव 2019 में सरकार बनाने और गिराने का फैसला करने वाले उत्तर प्रदेश के News 18- IPSOS एग्जिट पोल के नतीजे आ चुके हैं.  इस एक्ज़िट पोल में 7वें चरण के बाद यूपी की 80 में से बीजेपी को 60-62, गठबंधन को 17-19 और कांग्रेस को 02 सीटें मिलती दिखाई दे रही हैं.  सर्वाधिक 80 लोकसभा सीटों वाला उत्तर प्रदेश सभी पार्टियों के लिए काफी अहम है. पिछली बार 71 सीटें जीतने वाली बीजेपी का मुकाबला इस बार सपा-बसपा-रालोद गठबंधन से है. सपा 37, बसपा 38 और रालोद तीन सीटों पर चुनाव लड़ रहा है. अमेठी और राय बरेली में गठबंधन ने प्रत्याशी नहीं उतारे हैं. बीजेपी 80 में से 78 सीटों पर चुनाव लड़ रही है. उसने दो सीटें अपनी सहयोगी अपना दल के लिए छोड़ी है. कांग्रेस ने 70 सीटों पर प्रत्याशी उतारे हैं.

    ये हैं उत्तर प्रदेश की 'हॉट सीट' और बड़े चेहरे

    देश को सर्वाधिक प्रधानमंत्री देने वाले उत्तर प्रदेश में कई बड़े चेहरे मैदान में हैं. इनमे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वाराणसी से, केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह लखनऊ से, केंद्रीय रेल राज्यमंत्री मनोज सिन्हा गाजीपुर से, पूर्व केंद्रीय मंत्री रमाशंकर कठेरिया, केंद्रीय मंत्री अनुप्रिया पटेल मिर्जापुर, बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष महेंद्रनाथ पांडेय चंदौली, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी अमेठी, सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव और भोजपुर स्टार निरहुआ आजमगढ़, सपा संरक्षक मुलायम सिंह मैनपुरी, अखिलेश यादव की पत्नी डिंपल यादव कन्नौज, फिरोजाबाद से शिवपाल यादव और अक्षय यादव, फर्रुखाबाद से पूर्व केंद्रीय मंत्री सलमान खुर्शीद और रवि किशन सीएम योगी की सीट गोरखपुर से मैदान में हैं.

    उत्तर प्रदेश में इन मुद्दों पर लड़ा गया चुनाव

    लोकसभा चुनाव के शुरू होने से पहले वैसे तो सभी दल विकास के मुद्दे पर चुनाव लड़ने की बात कर रहे थे, लेकिन जैसे-जैसे मतदान होता गया मुद्दे भी बदल गए. बीजेपी ने जहां इस चुनाव में विकास और राष्ट्रवाद का मुद्दा उठाया तो वहीँ कांग्रेस ने किसान और गरीबों के लिए न्याय योजना का मुद्दा उठाया. जातीय आधार पर बने सपा-बसपा गठबंधन आरक्षण और नौकरियों के सहारे मैदान में हैं. राज्य में दलित-मुस्लिम और ओबीसी मतदाता कई सीटों पर निर्णायक हैं. जबकि कई सीटों पर सवर्ण मतदाता परिणाम को बदलने की कूबत रखते हैं. अभी तक राज्य में 60 फ़ीसदी के करीब वोटिंग हुई है. पिछले साल भी आंकड़ा इसी के करीब था.

    कैसा है उत्तर प्रदेश का परिसीमन

    देश का सबसे बड़ा सूबा होने के नाते सभी पार्टियां उत्तर प्रदेश को चार भागों में बांटकर अपनी रणनीति बनती हैं. मसलन पश्चिम यूपी, मध्य यूपी व अवध क्षेत्र, पूर्वांचल और बुंदेलखंड. सात चरणों के चुनाव भी इसी लिहाज से हो रहे हैं.

    उत्तर प्रदेश में किसने लगाया कितना जोर

    उत्तर प्रदेश में मुख्य मुकाबला वैसे तो बीजेपी और गठबंधन के बीच ही माना जा रहा है, लेकिन कांग्रेस को गठबंधन में जगह न मिलने की वजह से उसने प्रियंका गांधी को सक्रिय राजनीति में उतारकर अपना ब्रह्मास्त्र चला है. राज्य में चुनाव प्रचार के लिए बीजेपी ने पीएम नरेंद्र मोदी, अध्यक्ष अमित शाह, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, गृहमंत्री राजनाथ सिंह, समेत तमाम केंद्रीय मंत्रियों की फ़ौज उतारी. हर चरण में प्रधानमंत्री की करीब तीन से चार रैलियों का आयोजन किया गया.

    इसके अलावा अमित शाह ने भी यहां धुआंधार प्रचार किया. सपा-बसपा की तरफ से अखिलेश मायावती की संयुक्त रैलियों के अलावा अलग-अलग भी कई रैलियां हुईं. प्रियंका गांधी ने यूपी में कांग्रेस की कमान संभाली. उन्होंने पश्चिम से लेकर पूर्वांचल तक कई रोड शो और चुनावी जनसभाओं को संबोधित किया. राहुल गांधी और प्रदेश अध्यक्ष राज बब्बर भी कई रोड शो और चुनावी जनसभा में शामिल हुए.

    ये भी पढ़ें:

    Delhi Exit Poll Results 2019: दिल्ली एग्जिट पोल में फिर BJP का दबदबा, कांग्रेस को मिली इतनी सीटें

    Uttarakhand Exit Poll Results 2019: उत्तराखंड के एग्जिट पोल में BJP को जबरदस्त बढ़त, 4 से 5 सीटों की संभावना

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज