वाराणसी में सामने आया शस्त्र लाइसेंस के नाम पर फर्जीवाड़ा, 12 लाइसेंस कैंसिल

वाराणसी में सामने आया शस्त्र लाइसेंस के नाम पर फर्जीवाड़ा (सांकेतिक तस्वीर)
वाराणसी में सामने आया शस्त्र लाइसेंस के नाम पर फर्जीवाड़ा (सांकेतिक तस्वीर)

उधर, कई और लोगों के शस्त्र लाइसेंस निलंबित करते हुए डीएम (DM) ने जवाब मांगा है. एक माह के अंदर जवाब नहीं देने वालों के शस्त्र लाइसेंस (Arms Licence) निरस्त कर दिए जाएंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 17, 2020, 1:32 PM IST
  • Share this:
वाराणसी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी (Varanasi) में शस्त्र लाइसेंस (Arms Licence) लेने के नाम पर बड़ा फर्जीवाड़ा सामने आया है. मामला सामने आने के बाद फर्जी नाम और पते पर शस्त्र लाइसेंस लेने वाले 12 लोगों के शस्त्र लाइसेंस जिलाधिकारी (DM) कौशल राज शर्मा ने निरस्त कर दिए हैं. डीएम ने पुलिस को निर्देश दिया है कि तत्काल सभी के शस्त्र थाने में जमा कराने के साथ सूचित करें. शस्त्र जमा नहीं करने वालों के खिलाफ सख्ती से कार्रवाई करें. यदि पुलिस लापरवाही बरतती है तो उसके खिलाफ विभागीय कार्रवाई की जाएगी. उधर, कई और लोगों के शस्त्र लाइसेंस निलंबित करते हुए डीएम ने जवाब मांगा है. एक माह के अंदर जवाब नहीं देने वालों के शस्त्र लाइसेंस निरस्त कर दिए जाएंगे.

वहीं डीएम ने आत्मरक्षा के नाम पर शस्त्र लाइसेंस लेकर सार्वजनिक स्थानों पर प्रदर्शन करने, भय का माहौल बनाने, अपराधियों से साठगांठ रखने और उसका दुरुपयोग करने वालों पर शिकंजा कसना शुरू कर दिया है. डीएम ने ऐसे लोगों के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए पुलिस से रिपोर्ट मांगी थी. पुलिस रिपोर्ट पर डीएम ने शस्त्र लाइसेंस निलंबित कर दिए. शस्त्र लाइसेंसधारियों को जवाब देने को कहा था. उनके जवाब पर सुनवाई करते हुए जिलाधिकारी ने जनपद के 12 लोगों के शस्त्र लाइसेंस निरस्त कर दिया है.

इन लोगों के शस्त्र लाइसेंस हुए निरस्त



कैंट थाना क्षेत्र के भगवान सिंह के दो, रविंद्र यादव उर्फ करिया और रविंद्र कुमार मौर्या, जैतपुरा थाना क्षेत्र के रामअवध, दशाश्वमेध थाना क्षेत्र के शिव कुमार निषाद और सोनू कपूर उर्फ मनीष कपूर, लंका थाना क्षेत्र के राकेश राय, सिगरा थाना क्षेत्र के अमित कुमार सिंह, चेतगंज थाना क्षेत्र के रमेश चंद्र गुप्ता, भेलूपुर थाना क्षेत्र के धनंजय सिंह, जंसा थाना क्षेत्र के राम प्यारे सिंह शस्त्र लाइसेंस निरस्त किए गए हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज