Home /News /uttar-pradesh /

Padma Award 2022:-मिलिए 126 साल के बाबा शिवानंद से जिन्हें मिला पद्मश्री अवार्ड,जानिए क्या है सेहत का राज

Padma Award 2022:-मिलिए 126 साल के बाबा शिवानंद से जिन्हें मिला पद्मश्री अवार्ड,जानिए क्या है सेहत का राज

X

देश की सांस्कृतिक राजधानी काशी (Kashi) की छः विभूतियों को पद्म अवॉर्ड (Padma Awards) से नवाजा गया है. इसमें 126 साल के बाबा शिवानंद (Baba Shivanand) भी शामिल हैं.

    वाराणसी: देश की सांस्कृतिक राजधानी काशी (Kashi) की छः विभूतियों को पद्म अवॉर्ड (Padma Awards) से नवाजा गया है. इसमें 126 साल के बाबा शिवानंद (Baba Shivanand) भी शामिल हैं.बाबा की उम्र सुनकर आपको हैरानी जरूर होगी लेकिन बाबा के पास इसके पुख्ता दस्तावेज भी हैं.इस उम्र में भी बाबा पूरी तरह से फिट हैं और उनकी इस फिटनेस का राज है योग.इसी योग के लिए उन्हें पद्मश्री अवार्ड से सम्मानित भी किया गया है.पद्मश्री अवॉर्ड की खुशी ने जब बाबा के छोटे से घर पर दस्तक दी तो बाबा ही नहीं उनके भक्त भी झूम उठे.

    अवॉर्ड की घोषणा के बाद से लगातार उनके घर पर बधाई देने वालों का तांता लगा हुआ है.बाबा शिवानंद ने बताया कि सरकार के इस सम्मान से योग को अंतराष्ट्रीय पहचान मिलेगी.उन्होंने आगे बताया कि हर व्यक्ति को स्वस्थ रहने के लिए हर दिन योग करना चाहिए.योग में वो ताकत है जिससे कोरोना महामारी जैसे विपरीत समय में भी लोग खुद को निरोग रख सकते हैं.

    योग के साथ अपनाते हैं ये टिप्स
    126 साल के बाबा शिवानंद सिर्फ उबले भोजन का सेवन करते हैं.बाबा हर दिन भोर में 3 बजे उठते हैं.सुबह उठने के बाद बाबा एक घण्टे योग करते हैं.उसके बाद पूजा पाठ से बाबा के दिन की शुरुआत होती हैं.शिवानंद बाबा के शिष्यों ने बताया कि वो फल और दूध का सेवन भी नहीं करते हैं.

    ये है लम्बी उम्र का सबूत
    बाबा के पास उनके उम्र का प्रमाण भी है.आधार और पासपोर्ट पर उनकी जन्मतिथि 8 अगस्त 1896 दर्ज है.जिसके हिसाब से वर्तमान में बाबा की उम्र 126 साल है.इस हिसाब से ये दावा किया जाता है कि बाबा दुनिया में सबसे बुजुर्ग इंसान हैं.

    रिपोर्ट-अभिषेक जायसवाल-वाराणसी

    Tags: Padma Awards 2022, Varanasi news

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर