वाराणसी में एक और कोरोना योद्धा की मौत, एडिशनल CMO डॉ जंग बहादुर ने तोड़ा दम
Varanasi News in Hindi

वाराणसी में एक और कोरोना योद्धा की मौत, एडिशनल CMO डॉ जंग बहादुर ने तोड़ा दम
वाराणसी में कोरोना संक्रमण के चलते एडिशनल सीएमओ की मौत हो गई है. (सांकेतिक तस्वीर)

वाराणसी (Varanasi) में तैनाती के दौरान एडिशनल सीएमओ डॉ जंग बहादुर लगातार ड्यूटी कर रहे थे. दो दिन पहले उनकी तबियत बिगड़ी तो अस्पताल में भर्ती कराया गया था, यहां पहली जांच रिपोर्ट में कोरोना संक्रमण नहीं मिला था, लेकिन दूसरी जांच में वो पॉजिटिव पाए गए.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 12, 2020, 12:43 PM IST
  • Share this:
वाराणसी. उत्तर प्रदेश के वाराणसी (Varanasi) में पुलिसकर्मी के बाद एक और कोरोना योद्धा (Corona Warrior) की संक्रमण से जूझते हुए मौत हो गई है. इस बार कोरोना ने एडिशनल सीएमओ डॉ जंगबहादुर (Additional CMO Dr Jung Bahadur) को अपनी जद में लिया. मंगलवार देर रात बीएचयू के कोविड हॉस्पिटल में उनकी मौत हो गई.

दोबारा जांच में निकले कोरोना पॉजिटिव

बता दें एडिशनल सीएमओ जंग बहादुर लगातार कोरोना काल में अपनी ड्यूटी कर रहे थे. वो लगातार सैम्पलिंग से लेकर इलाज की व्यवस्था को देख रहे थे. अभी दो दिन पहले उनकी तबियत बिगड़ी. इसके बाद उन्हें गैलेक्सी हॉस्पिटल में एडमिट कराया गया था. जहां दो दिन पूर्व लिया गया, उनका सैम्पल निगेटिव आया था. लेकिन दोबारा की गयी जांच में देर रात उनकी रिपोर्ट पॉज़िटिव आई. और उन्हें गंभीर अवस्था में गैलेक्सी से बीएचयू में आईसीयू में शिफ्ट किया गया था. देर रात उनकी मौत हो गई.



वाराणसी में तेजी से बढ़ रहा संक्रमण
एडिशनल सीएमओ डॉ जंगबहादुर के निधन पर डीएम कौशल राज शर्मा समेत सभी अफ़सरों और कर्मचारियों ने शोक जताया है. बता दें कि वाराणसी में संक्रमण लगातार बढ़ता जा रहा है. जिसको देखते हुए मंगलवार को वाराणसी पहुंचे उत्तर प्रदेश के स्वास्थ्य शिक्षा मंत्री सुरेश खन्ना ने इंटीग्रेटेड कमांड कंट्रोल सेंटर का निरीक्षण कर कमिश्नरी सभागार में कोविड से बचाव एवं इलाज कार्यों की समीक्षा की.

स्वास्थ्य शिक्षा मंत्री ने दिए ये निर्देश

मंत्री ने वाराणसी में बढ़ते कोविड मरीजों को देखते हुए 500 बेड और बढ़ाने के निर्देश दिए. साथ ही कहा कि बीएचयू L-3 के 400 बेड संचालित करें. इसी तरह L-1, L-2 के अस्पतालों में बेड बढ़ाने के लिए संख्या और तारीख़ निर्धारित कर दी. मंत्री ने कहा कि इलाज के समस्त विकल्प साधनों को पूरी शक्ति के साथ प्रयोग कर मरीज को हर हाल में बचाना है.

प्रदेश में रोजना लाख से अधिक सैंपलिंग का दावा

उन्होंने कहा कि 80 हजार से अधिक कोरोना मरीज ठीक हो चुके हैं. प्रतिदिन लाख से अधिक सैंपलिंग हो रही है. प्रदेश में 32 लाख से अधिक टेस्टिंग हो चुकी है. लेकिन मंत्री के जाने के बाद देर रात एडिशनल सीएमओ डाक्टर जंग बहादुर ने संक्रमण से लड़ते हुए दम तोड़ दिया. अब तक कोरोना संक्रमित 88 लोगों की मौत हो गई है. अब तक कुल केस 4876 सामने आ चुके हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज