लाइव टीवी

कोरोना वायरस पर अलर्ट: वाराणसी एयरपोर्ट पर बनाया गया आइसोलेशन रूम
Varanasi News in Hindi

News18 Uttar Pradesh
Updated: January 25, 2020, 3:43 PM IST
कोरोना वायरस पर अलर्ट: वाराणसी एयरपोर्ट पर बनाया गया आइसोलेशन रूम
लाल बहादुर शास्त्री एयरपोर्ट वाराणसी

चीन (China) में कोरोना वायरस (Corona virus) के संक्रमण से बिगड़े हालात को देखते हुए स्वास्थ्य विभाग ने गुरुवार से ही लाल बहादुर शास्त्री एयरपोर्ट (Lal Bahadur Shastri Airport) पर अलर्ट जारी कर दिया है. इसमें एयरपोर्ट पर हेल्प डेस्क बनाने के साथ बड़ागांव पीएचसी प्रभारी को आने वाले यात्रियों की स्क्रीनिंग की जिम्मेदारी दी गई है.

  • Share this:
अनुज सिंह


वाराणसी. कोरोना वायरस का खौफ अब उत्तर प्रदेश में भी दस्तक दे रहा. केरल व मुंबई समेत देश के कुछ हिस्सों में इस वायरस से संक्रमित लोग पाए जाने की रिपोर्ट है. कोरोना वायरस को लेकर वाराणसी एयरपोर्ट पर अलर्ट जारी कर दिया गया है. बाहर से आने वाली फ्लाइट्स के यात्रियों को पहले स्वास्थ्य विभाग की टीम की स्क्रीनिंग से गुजरना पड़ेगा उसके बाद ही वो एयरपोर्ट से बाहर जा सकेंगे.

एयरपोर्ट पर  हेल्पडेस्क व आइसोलेशन रूम

बता दें कि चीन में कोरोना वायरस के संक्रमण से बिगड़े हालात को देखते हुए स्वास्थ्य विभाग ने गुरुवार से ही लाल बहादुर शास्त्री एयरपोर्ट पर अलर्ट जारी कर दिया है. इसमें एयरपोर्ट पर हेल्प डेस्क बनाने के साथ बड़ागांव पीएचसी प्रभारी को आने वाले यात्रियों की स्क्रीनिंग की जिम्मेदारी दी गई है. स्टेट गवर्नमेंट की तरफ से कोरोना वायरस को लेकर बिगड़ते हालात को देखते हुए वाराणसी के लाल बहादुर शास्त्री एयरपोर्ट पर स्वास्थ्य विभाग का अलर्ट. प्रभारी चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर शेर मोहम्मद द्वारा एक मेडिकल टीम गठित की गई है. प्रभारी चिकित्सा अधिकारी ने news 18 से बातचीत में बताया की एयरपोर्ट पर एक हेल्पडेस्क और आइसोलेशन रूम बनाया गया है जिसमें कोई भी बाहरी पैसेंजर जो फ्लाइट के जरिए आ रहे हैं सब की स्क्रीनिंग हो रही है. स्क्रीनिंग के बाद अगर किसी में कोई भी संक्रमण के लक्षण पाए जाते हैं तो उनको आइसोलेट किया जा रहा है. उन्होंने कहा कि यहां पर स्वास्थ्य विभाग की टीम पूरी तरीके से अलर्ट है.

corona virus, health, varansi
एयरपोर्ट पर तैनात स्वास्थ्य प्रभारी ने तैयारियों के बारे में बताया


उन्होंने बताया कि इस वायरस का असर चाइना में सबसे ज्यादा है इसके मद्देनजर चीन से आने वाले यात्रियों पर विशेष फोकस किया जा रहा है. अगर किसी भी यात्री या क्रू मेम्बर में कोई भी लक्षण पाए जाते हैं तो उनको तुरंत आइसोलेट करके ट्रीटमेंट किया जाएगा और कोशिश की जाएगी कि वह किसी और के संपर्क में न आए. साथ ही प्रभारी चिकित्साधिकारी ने ये भी आश्वाशन दिया कि अगर लैबोरेट्री टेस्ट में कोई व्यक्ति कोरोना वायरस से संक्रमित पाया जाता है तो उसका इलाज है, उन्होंने आश्वश्त करते हुए कहा कि अगर प्रारंभिक स्तर पर ही यह पता चल जाता है तो दिक्कत की बात नहीं है, सौ प्रतिशत उसका ट्रीटमेंट हो जाएगा. उन्होंने कहा समय रहते ट्रीटमेंट हो जाने से कोई परेशानी नहीं होगी जिसके लिए स्वास्थ्य विभाग पूरी तरह से मुस्तैद है.उन्होंने बताया कि चीन के साथ-साथ दूसरे देशों से आने वाले यात्रियों का भी चेकअप किया जा रहा है. साथ ही उन्होंने यह भी बताया कि अगर किसी ने 14 दिन के अंदर चीन की यात्रा की है तो ऐसे लोगों को चिन्हित करके उनकी स्क्रीनिंग तक उन्हें आइसोलेट किया जा रहा है.

ये भी पढ़ें- काला साया और फिर मौत, सोशल मीडिया पर VIRAL VIDEO की चर्चा!


 

चीन में कोरोनावायरस का कोहराम, वुहान के बाद कई और शहरों की नाकेबंदी

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए वाराणसी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 25, 2020, 3:43 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर