अनामिका शुक्ला पार्ट-2: अब संध्या द्विवेदी के नाम पर फर्जीवाड़ा, असली ने कही ये बात
Varanasi News in Hindi

अनामिका शुक्ला पार्ट-2: अब संध्या द्विवेदी के नाम पर फर्जीवाड़ा, असली ने कही ये बात
अब संध्या द्विवेदी के नाम पर फर्जीवाड़ा

असली संध्या द्विवेदी भी अब सामने आई हैं. चंदौली के चकिया में कार्यरत संध्या ने बीएसए को पत्र लिख शंका जाहिर की है कि उसके डॉक्युमेंट्स का दुरुपयोग किया गया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: June 27, 2020, 10:16 AM IST
  • Share this:
चंदौली. अनामिका शुक्ला (Anamika Shukla) के सर्टिफिकेट पर फर्जी शिक्षिकाओं (Fake Teachers Scam) की नियुक्ति का मामला अब धीरे-धीरे  साफ होता जा रहा है. अनामिका शुक्ला प्रकरण के पार्ट टू में अब संध्या द्विवेदी (Sandhya Dwivedi) के नाम पर फिरोजाबाद, अलीगढ़ और फर्रूखबाद में फर्जी शिक्षिकाएं पकड़ी गई है. इस बीच असली संध्या द्विवेदी भी अब सामने आई हैं. चंदौली के चकिया में कार्यरत संध्या ने बीएसए को पत्र लिख शंका जाहिर की है कि उसके डॉक्युमेंट्स का दुरुपयोग किया गया है.

दरअसल अनामिका प्रकरण के बाद हो रही जाच में फिरोजाबाद अलीगढ़ और फर्रूखबाद में एक जैसे डॉक्युमेंट्स पर एक नाम पर नौकरी कर रही संध्या द्विवेदी का प्रकरण उजागर हुआ है. जिसके बाद चंदौली की संध्या ने बीएसए को पत्र लिख जांच की मांग की है. संध्या चकिया के कस्तूरबा गांधी विद्यालय में तैनात है. न्यूज18 से बातचीत में उनका कहना है कि समाचार पत्रों में जो जानकरी छपी है वह उनके डॉक्यूमेंट से काफी मिलती है.

एक के बाद एक खुल रहे राज



बता दें कि उत्तर प्रदेश शिक्षा विभाग में अनामिका शुक्ला प्रकरण के बाद शुरू हुआ सत्यापन का सिलसिला कई ऐसे राज खोल रहा है, जो अब तक दबे हुए थे. फिरोजाबाद में कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालय में शिक्षिकाओं के सत्यापन के दौरान अनामिका शुक्ला की तरह ही एक और शिक्षिका संध्या द्विवेदी सामने आई है. जो एक साथ 3 जिलों में नोकरी कर रही थी. सामाजिक विज्ञान विषय की शिक्षिका संध्या द्विवेदी फिरोजाबाद के अलावा फर्रुखाबाद और अलीगढ़ में भी नौकरी कर रही थी. फर्जीवाड़े का खुलासा होते ही फिरोजाबाद के बीएसए ने शिक्षिका को बर्खास्त कर दिया है और उसके खिलाफ FIR की तैयारी में जुटे हुए हैं. माना जा रहा है कि संध्या द्विवेदी के भी तार भोगांव के मास्टरमाइंड पुष्पेंद्र से जुड़़े हो सकते हैं. पुष्पेंद्र ने ही अनामिका शुक्ला के फर्जी डॉक्यूमेंट्स और नाम पर कई शिक्षिकाओं को अलग-अलग जगहों पर नौकरी दिलाई थी.
असली संध्या द्विवेदी का ये है दावा

अब चंदौली में तैनात संध्या द्विवेदी नाम की इस शिक्षिका ने दावा किया है कि इन तीन जगह पर जो शिक्षिका काम कर रही है उनके प्रमाण पत्र और मार्कसीट के साथ पिता के नाम और जन्म तिथि एक जैसी है. संध्या द्विवेदी ने खुद बीएसए चंदौली को इस बाबत पत्र लिख कर जांच की मांग की है. वहीं पूरे मामले पर बीएसए चंदौली भोलेन्द्र प्रताप का कहना है कि संध्या द्विवेदी नाम की इस महिला का प्रत्यावेदन उन्हें प्राप्त हुआ है. उनके सारे ओरिजनल डॉक्युमेंट्स उनके कार्यालय में जमा है. यह सत्य और सही हैं. चंदौली के चकिया कस्तूरबा विद्यालय में कार्यरत शिक्षिका संध्या मिर्जापुर की रहने वाली हैं. इनके पिता बीएचयू में कार्यरत हैं. फर्रुखाबाद, अलीगढ़ और फिरोजाबाद में जो मामले है उसमें मूलांक, जन्म तिथि, पता और अन्य डिटेल एक जैसी है, पूरे मामले की जांच शासन स्तर पर की जा रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading