लाइव टीवी
Elec-widget

काशी के कोतवाल बाबा कालभैरव का मनाया गया जन्मदिन, काटा गया 651 किलो का केक

News18 Uttar Pradesh
Updated: November 20, 2019, 1:04 PM IST
काशी के कोतवाल बाबा कालभैरव का मनाया गया जन्मदिन, काटा गया 651 किलो का केक
काल भैरव के जन्मदिन पर काटा गया 651 किलो का केक

इस केक को काटने के नजारे को देखने से लेकर प्रसाद के रूप में पाने के लिए के लिए भी सैकड़ों श्रद्धालुओं की भीड़ जुटी.

  • Share this:
वाराणसी. नेता और सेलेब्रिटी का बर्थडे पर भारी भरकम केक के साथ मनाते आपने तो कई बार देखा होगा, लेकिन देवी-देवता के जन्मदिन पर केक काटने की बात नहीं सुनी होगी. धर्म और आध्यात्म की नगरी काशी (Kashi) में ऐसा तब संभव हुआ जब बुधवार को भैरव अष्टमी यानि काशी के कोतवाल बाबा कालभैरव (Baba Kal Bhairav) के जन्मदिन (Birthday) पर उनके भक्तों ने विशाल मंगलयान बना 651 किलोग्राम का केक काटकर मनाया. इस केक की खास बात ये थी कि ये 651 किलो का केक पंचमेवा, काजू, किसमिस और बादाम से बना था और पूरी तरह से वेजीटेरियन था.

केक खाने को उमड़ी भीड़

इस केक को उठाने के लिए कई लोगों को एक साथ लगना पड़ा. इस केक को काटने के नजारे को देखने से लेकर प्रसाद के रूप में पाने के लिए के लिए भी सैकड़ों श्रद्धालुओं की भीड़ जुटी. इस केक को तैयार करने में ब्रेड और क्रीम के अलावा पंचमेवा, काजू-किसमिस और बादाम भरपूर डाला गया था. इतना भारी-भरकम और अद्भुत केक किसी सेलीब्रिटी के लिए नहीं, बल्कि काशी के कोतवाल बाबा काल भैरव के जन्मदिन पर उनके भक्तों ने बनाया.

kal bhairav birthday
मंगलयान रुपी केक काटा गया


दरअसल भक्तों की ओर से शुरू की गई केक काटने की परंपरा को एक दशक से भी ज्यादा का वक्त बीत चुका है. शुरूआत 50 किलो से हुई थी जो अब 13 वर्षों बाद 651 किलों तक जा पहुंची है. प्रिंस कुमार गुप्ता ने बताया कि केक काटने का सिलसिला 13 साल पहले शुरू हुआ था. 13 साल पहले 5 किलो केक से जन्मदिन मानाने की परम्परा शुरू हुई थी. पिछले कुछ साल से केक का वजन 50-50 किलो बढ़ाया जा रहा है. अब इस केक का वजन 651 किलो पहुंच चुका है.

(इनपुट: रवि पांडेय)

ये भी पढ़ें:
Loading...

होमगार्ड वेतन घोटाला: DGP बोले सुबूतों को नष्ट करने के लिए लगाई गई आग, 5 अरेस्ट
PDS में भ्रष्टाचार के मामले में यूपी सबसे अव्वल

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए वाराणसी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 20, 2019, 1:04 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...