होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /BHU में फिर से बवाल, वीसी से मिलने की जिद को लेकर धरने पर बैठी छात्राएं, जानें शिकायत?

BHU में फिर से बवाल, वीसी से मिलने की जिद को लेकर धरने पर बैठी छात्राएं, जानें शिकायत?

बीएचयू (BHU) की स्टूडेंट निधि ने बताया कि जब से हॉस्टल में मेस बदला गया है तब से हॉस्टल में खाने की क़्वालिटी बेहद खराब ...अधिक पढ़ें

    अभिषेक जायसवाल/वाराणसी. सर्व शिक्षा की राजधानी कहे जाने वाले काशी हिंदू विश्वविद्यालय में छात्राओं का गुस्सा फिर सड़कों पर देखने को मिला. हॉस्टल में खाने की क्वालिटी और बुनियादी सुविधाओं को लेकर पीएचडी हॉस्टल की छात्राएं सोमवार की देर रात से वीसी आवास के बाहर धरने पर बैठ गईं. रातभर धरना देने के बावजूद सुबह ना तो किसी ने फरियाद सुनी और ना ही कोई कार्रवाई नहीं हुई. लिहाजा मंगलवार को भी छात्राओं का आंदोलन जारी रहा. इस कड़कड़ाती ठंड में पूरी रात छात्राएं खुले आसमान के नीचे रहीं ताकि वीसी को अपनी समस्याओं से अवगत करा सके और उनके शिकायत कर अपनी समस्या को दूर करने गुहार लगा सकें. लेकिन सड़क पर बैठी छात्राओं की समस्या दूर करने के बजाय विश्वविद्यालय के अफसर उन्हें समझाकर हटाने में ज्यादा ध्यान देते दिखाई दिए.

    बीएचयू (BHU) की स्टूडेंट निधि ने बताया कि जब से हॉस्टल में मेस बदला गया है तब से हॉस्टल में खाने की क़्वालिटी बेहद खराब हो गई है. जिससे छात्राएं फूड पॉइजनिंग की शिकार हो रही हैं. वहीं धरने पर बैठी अन्य छात्राओं का कहना है कि अपनी इस समस्या के लिए उन्होंने बीते एक महीने में हॉस्टल के वार्डेन के अलावा सभी जिम्मेदार अफसरों को इसकी लिखित शिकायत की है. लेकिन बाहुजूद इसके डेढ़ महीने में इस समस्या को दूर नहीं किया जा सका. उनका कहना है कि जब तक अब छात्राओं की समस्या दूर नहीं हो जारी उनका आंदोलन जारी रहेगा.

    जानिए क्या है प्रशासन का जवाब?
    वहीं छात्राओं की ये भी शिकायत है कि, हॉस्टल में उन्हें इंटरनेट भी नहीं मिलता जिससे उनकी पढ़ाई भी नहीं हो पाती. निधि ने बताया कि खराब खाने के कारण स्टूडेंट्स का ज्यादा समय पढ़ाई में नहीं बल्कि हेल्थ सेंटर के चक्कर काटने में बीत जाता है. वहीं विश्वविद्यालय के चीफ प्रॉक्टर अभिमन्यु सिंह ने फोन पर बातचीत में बताया की छात्राओं से उनकी समस्याओं के लिए बातचित की जा रही है और उन्हें समझाने का प्रयास भी किया जा रहा है.

    आपके शहर से (वाराणसी)

    वाराणसी
    वाराणसी

    Tags: Uttar pradesh news, Varanasi news

    टॉप स्टोरीज
    अधिक पढ़ें