लाइव टीवी

खरीफ फसलों की MSP डेढ़ गुना होने पर बोले अमित शाह- पीएम नरेंद्र मोदी का ऐतिहासिक फैसला
Varanasi News in Hindi

News18 Uttar Pradesh
Updated: July 4, 2018, 5:17 PM IST
खरीफ फसलों की MSP डेढ़ गुना होने पर बोले अमित शाह- पीएम नरेंद्र मोदी का ऐतिहासिक फैसला
बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह की फाइल फोटो

शाह ने केंद्रीय कैबिनेट के इस फैसले को आखिरी आदमी तक पहुंचाने के लिए कार्यकर्ताओं से अपील भी की. उन्होंने कहा कि सात दशक पुरानी मांग को पीएम मोदी ने पूरा किया है.

  • Share this:
उत्तर प्रदेश के दो दिवसीय दौरे पर बुधवार को वाराणसी पहुंचे बीजेपी राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने केंद्रीय कैबिनेट में खरीफ फसलों की न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) को डेढ़ गुना करने का फैसला ऐतिहासिक है. विध्याचल में मां विंध्यवासिनी के दर्शन के बाद कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि जो काम 70 सालों में नहीं हुआ, उसे नरेंद्र मोदी सरकार ने किया. शाह ने कहा कि एमएसपी दोगुनी करने का फैसला किसानों के लिए एक बड़ा तोहफा है. उन्होंने कहा कि केंद्र की मोदी सरकार किसानों की हितैषी है और पिछले छार साल में कृषि और किसानों के लिए बहुत कुछ किया है.

शाह ने केंद्रीय कैबिनेट के इस फैसले को आखिरी आदमी तक पहुंचाने के लिए कार्यकर्ताओं से अपील भी की. उन्होंने कहा कि सात दशक पुरानी मांग को पीएम मोदी ने पूरा किया है. आज़ादी के बाद से की जा रही इस मांग को पूरा करने के लिए प्रधानमंत्री को बधाई. आज का दिन किसान दीपावली की तरह मनाएगा. इस फैसले से किसानों के हौसले बुलंद होंगे और गांव टूटने से बचेंगे. शाह ने कहा कि इस ऐतिहासिक फैसले को जन तक पहुंचाना है, ताकि इसका लाभ मिल सके.

मिशन 2019: अमित शाह और राहुल गांधी के यूपी दौरे से गरमाई सूबे की चुनावी फिजा

दरअसल, केंद्र की मोदी सरकार ने धान, दाल, मक्का जैसी 14 खऱीफ फसलों के लिए एमएसपी लागत का डेढ़ गुना करने का फैसला लिया है. एमएसपी यानी मिनिमम सपोर्ट प्राइस वो कीमत होती है जिसपर सरकार किसानों से अनाज खरीदती है. किसानों के लिए फसलों पर 50 फीसदी मुनाफा देने के मकसद से इस बार एमएसपी में रिकॉर्ड बढ़ोतरी का फैसला लिया गया है. अब अनाज की लागत के आंकलन के लिए ए2+एफएल फॉर्मूला अपनाया जाएगा. ए2+एफएल फॉर्मूले के तहत फसल की बुआई पर होने वाले कुल खर्च और परिवार के सदस्यों की मजदूरी शामिल होगी.

यह भी पढ़ें: लोकसभा चुनाव 2019: राहुल गांधी नहीं, मायावती बनाम मोदी होने वाला है!

कितना हुआ MSP
>> इस बढ़ोतरी के बाद अब सामान्य धान का समर्थन मूल्य 1550 रुपए से बढ़कर 1750 रुपए और ए ग्रेड धान का समर्थन मूल्य 180 रुपए बढ़कर 1770 रुपए प्रति क्विंटल हो गया है.>> मूंग के समर्थन मूल्य में 1400 रुपए प्रति क्विंटल की बढ़ोतरी की गई है, इस बढ़ोतरी के बाद मूंग का समर्थन मूल्य 5575 रुपए से बढ़कर अब 6975 रुपए प्रति क्विंटल हो गया है.

>> इनके अलावा रागी के समर्थन मूल्य में 997 रुपए, उड़द के समर्थन मूल्य में 200 रुपए और सोयाबीन के समर्थन मूल्य में 349 रुपए प्रति क्विंटल की बढ़ोतरी की गई है.
>>  इस बढ़ोतरी के बाद अब रागी का समर्थन मूल्य बढ़कर 2897 रुपए, उड़द का समर्थन मूल्य 5600 रुपए और सोयाबीन का समर्थन मूल्य बढ़कर 3399 रुपए प्रति क्विंटल हो गया है.
>> सबसे ज्यादा रागी की एमएसपी 52.5 फीसदी बढ़ाई गई है.
>>  ज्वार की एमएसपी में 42 फीसदी, बाजरा में 36.8 फीसदी और मूंग में 25.1 फीसदी बढ़ोतरी का फैसला लिया गया है.
>> अरहर की एमएसपी में सिर्फ 4.1 फीसदी और उड़द में 3.7 फीसदी बढ़त का फैसला लिया गया है.

गौरतलब है कि अमित शाह यहां तीन प्रांतों के प्रमुख कार्यकर्ताओं के साथ चर्चा करेंगे. उनके साथ दोनों डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य और डॉ दिनेश शर्मा भी मौजूद रहेंगे. शाह जहां मिशन 2019 में जीत के लिए मंथन करेंगे, वहीं, सांसदों और विधायकों का फीडबैक भी लेंगे. साथ योगी मंत्रिमंडल में फेरबदल को लेकर भी चर्चा होगी. शाह केंद्रीय मंत्री अनुप्रिया पटेल के साथ चाय पर चर्चा भी करेंगे. शाम को वे सोशल मीडिया सेल के कार्यकर्ताओं को संबोधित करेंगे.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए वाराणसी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 4, 2018, 3:19 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर