चंदौली: इंडियन एयर गैस कम्पनी में रिफिलिंग के दौरान ब्लास्ट, 3 मजदूरों की हालत गम्भीर

आक्सीजन और एसिटिलीन गैस सप्लाई करने वाली इंडियन एयर गैस लिमिटेड फैक्ट्री में काम के दौरान ब्लास्ट हो गया है
आक्सीजन और एसिटिलीन गैस सप्लाई करने वाली इंडियन एयर गैस लिमिटेड फैक्ट्री में काम के दौरान ब्लास्ट हो गया है

चंदौली (Chandauli): मौके पर पहुंची पुलिस और फायर डिपार्टमेंट के अधिकारी मामले की जांच कर रहे हैं. फायर अधिकारी ने बताया कि मामले में गैस बैक होने की वजह से ब्लास्ट हुआ है.

  • Share this:
चंदौली. उत्तर प्रदेश के चंदौली (Chandauli) में मुगलसराय कोतवाली क्षेत्र में बड़ा हादसा टला गया है. चंदासी स्थित आक्सीजन और एसिटिलीन गैस सप्लाई करने वाली इंडियन एयर गैस लिमिटेड फैक्ट्री में काम के दौरान ब्लास्ट (Blast) हो गया है. घटना में 3 मजदूर घायल हो गए हैं. जिनकी हालत गम्भीर बताई जा रही है. सभी घायलों को वाराणसी स्थित निजी चिकित्सालय में भर्ती कराया गया है. घटना के बाद पुलिस और फायर बिग्रेड की टीम मौके पर पहुंचकर जांच में जुटी है. वैसे पुलिस के पहुंचने से पूर्व ही घटना स्थल की सफाई कर दी गई.

सुबह रिफिलिंग के दौरान हुआ ब्लास्ट

दरअसल मुग़लसराय कोतवाली क्षेत्र के चन्दासी इलाके में यह फैक्ट्री संचालित है. जहां बुधवार की सुबह ही रिफिलिंग के दौरान ब्लास्ट हो गया. जिसमें 3 मजदूर घायल हो गए. आनन-फानन में तीनों को वाराणसी स्थित निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया. जहां उनकी हालत गंभीर बनी हुई है. घायलों में प्रयागराज निवासी ऑपरेटर विजय बहादुर और चन्दौली के राजेश कुमार और शिवराज यादव शामिल है.



1963 से संचालित है फैक्ट्री
बताया जा रहा है कि यह गैस फैक्ट्री 1963 से संचालित हो रही है. लेकिन यहां इस्तेमाल किए जाने वाले सभी इक्यूपमेंट पुराने और जर्जर हैं आज भी गैस रिफिलिंग में उन्हीं का इस्तेमाल किया जा रहा था. वहीं घटनास्थल पर फैक्ट्री की तरफ से कोई भी जिम्मेदार अधिकारी पूरे मामले पर बोलने को तैयार नहीं है. बाद में मार्केटिंग डिपार्टमेंट देखने वाले कर्मचारी ने बताया कि सुबह 5 बजे की घटना घटी है. जब 3 मजदूर सिलेंडर रिफिलिंग का काम कर रहे थे. उसी दौरान ब्लास्ट हुआ. ब्लास्ट इतना भयानक था फैक्टरी पर लगी छत उड़ गई है.

गैस बैक होने की वजह से हुआ हादसा

सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने फायर डिपार्टमेंट के अधिकारी मामले की जांच कर रहे हैं. पहले तो फायर अधिकारी भी मीडिया से बात करने से कतरा रहे थे. हालांकि बाद में उन्होंने बताया कि मामले में गैस बैक होने की वजह से ब्लास्ट हुआ है. मामले की जांच की जा रही हैं और आवश्यक दिशा-निर्देश दे दिए हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज