चन्दौली: पढ़िए मुगलसराय कोतवाली की वायरल 'वसूली लिस्ट', IPS ने किया ट्वीट, जांच के आदेश

चंदौली की मुगलसराय काेतवाली (File Photo)
चंदौली की मुगलसराय काेतवाली (File Photo)

एसपी, चंदौली (SP, Chandauli) हेमंत कुटियाल ने इस वायरल 'वसूली लिस्ट' को लेकर एएसपी को जांच सौंपी है. उन्होंने साफ कहा है कि किसी भी प्रकार की वास्तविकता या सत्यता पाए जाने पर संबंधित के विरुद्ध कठोर कार्रवाई की जाएगी.

  • Share this:
चन्दौली. उत्तर प्रदेश के चंदौली (Chandauli) की सबसे कमाऊ कोतवाली मानी जाने वाली मुगलसराय कोतवाली की कथित 'वसूली लिस्ट' वायरल (Illegal Recovery List) हो गई है. लिस्ट के अनुसार हर महीने मुगलसराय थाने (Mughalsarai Police Station) की पुलिस को 35 लाख रुपये की अवैध वसूली से आमदनी हो रही है. आईपीएस अफसर अमिताभ ठाकुर ने इस लिस्ट को ट्वीट कर जांच कराने की मांग की थी. जिसके बाद चंदौली जिले के मुग़लसराय थाने की वसूली लिस्ट पर जांच के आदेश दिए गए हैं. आईपीएस के ट्वीट पर यूपी पुलिस के आधिकारिक ट्विटर हैंडल से चंदौली पुलिस को जांच का आदेश दिया गया था.

दरअसल आईपीएस अमिताभ ठाकुर ने लिस्ट जारी करते हुए ट्वीट किया, “कोतवाली मुगलसराय की वसूली लिस्ट बताई गई है. लिस्ट से टोटल प्रति माह 35.64 लाख+अवैध खनन 12500/वाहन+पडवा कट्टा 4000/वाहन (गांजा से 25 लाख सहित) हुआ. कई नाम व डिटेल्ड फैक्ट्स अंकित. गहन जांच जरूरी.”

वायरल वसूली लिस्ट ने महकमे में भूचाल ला दिया है. पुलिस विभाग के उच्चाधिकारियों ने भी इसे संज्ञान में लेते हुए जांच के आदेश दिए हैं. मामले में एसपी चंदौली हेमंत कुटियाल ने एएसपी को जांच सौंपी है. उन्होंने साफ कहा है कि किसी भी प्रकार की वास्तविकता या सत्यता पाए जाने पर संबंधित के विरुद्ध कठोर कार्रवाई की जाएगी.





जांच अधिकारी ने बताया कि प्रथम दृष्ट्या वायरल लिस्ट सत्यता के करीब नहीं नजर आ रही है. फिर भी मामला गंभीर है. उन्होंने बताया को जांच जारी है. अब तक ज्यादातर लोगों ने पूछताछ में इसे सिरे से खारिज किया है. लिस्ट के वायरल होने के पीछे रेखा सिंह नामक महिला की भूमिका सामने आई है. पता चला है कि मुगलसराय कोतवाल शिवानंद मिश्रा के पूर्व अधिनस्त सौमित्र मुखर्जी ने इस लिस्ट तैयार किया है. सौमित्र मुखर्जी ने अपने प्रभाव का इस्तेमाल करते हुए वर्ष 2015 में थाना सिगरा वाराणसी स्थित एक व्यक्ति की जमीन पर दूसरे को कब्जा करा दिया था. उस समय वहां के थानाध्यक्ष शिवानंद मिश्र थे. जो वर्तमान में प्रभारी निरीक्षक मुगलसराय हैं.

वहीं रेखा चैहान नाम की महिला मैनाताली मुगलसराय की रहने वाली है. इन पर नगर पालिका की जमीन पर कब्जा करने का विवाद है. इस संबंध में मुगलसराय थाने में मुकदमा पंजीकृत है. आरोप है कि पुलिस द्वारा सहयोग नहीं करने पर प्रभारी निरीक्षक को सोशल मीडिया पर लिखने को ब्लैकमेल करती थीं और दो दिन पूर्व महिला ने मदद करने को लेकर ब्लैकमेल करने की कोशिश की थी.

वायरल लिस्ट
वायरल लिस्ट


गौरतलब है कि आईपीएस अमिताभ ठाकुर ने मुगलसराय कोतवाली पुलिस अवैध वसूली की एक सूची ट्वीट की थी. इस लिस्ट में 35.64 लाख रुपये से ज्यादा की वसूली का जिक्र किया है, और जांच की मांग की थी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज