Lockdown: वाराणसी में पहचान छुपाकर रह रही थी चीनी महिला, खुद को बताया मणिपुरी, जांच शुरू

चाइनीज महिला वाराणसी में पहचान छुपाकर रह रही थी.
चाइनीज महिला वाराणसी में पहचान छुपाकर रह रही थी.

चीन की महिला पर्यटक बनारस के लंका स्थित एक अपार्टमेंट में 22 मार्च से रह रही है. उसने खुद को मणिपुर का बताया था. पुलिस मामले की जांच कर रही है.

  • News18India
  • Last Updated: April 14, 2020, 12:47 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश के वाराणसी में चीनी महिला (Chinese woman) द्वारा खुद को मणिपुर की निवासी बताकर अवैध रूप से ठहरने का मामला सामने आया है. यह महिला लंका के साकेत नगर स्थित एक अपार्टमेंट में 22 मार्च से रह रही है. अब पुलिस महिला से पूछताछ और उसके कागजात की जांच कर रही है. 40 साल की चीन (China) की इस महिला को शिवपुर क्वारंटाइन सेंटर भेज दिया गया है.

पुलिस के मुताबिक महिला ने बताया कि वह जनवरी में वाराणसी (Varanasi) आई थी. वह तब दशाश्वमेध के एक होटल में रुकी हुई थी. इस बीच मार्च में कोरोना वायरस (Coronavirus) के चलते भारत में रहने-घूमने के नियम कड़े कर दिए गए. तभी उसे होटल खाली करने के लिए कहा गया. इसके बाद उसने गाइड की मदद से साकेत नगर के अपार्टमेंट में किराए पर एक फ्लैट लिया और वहां 22 मार्च से रहने लगी. इस महिला ने बताया कि बताया कि लॉकडाउन की घोषणा के कारण वह स्वदेश नहीं लौट पाई. इसी बीच उसके वीजा की अवधि समाप्त हो गई. इस संबंध में उसने फ्लैट के मालिक को सूचना दी थी.

हिंदुस्तान अखबार के मुताबिक इस बीच पुलिस को मामले का पता चला. पुलिस ने फ्लैट के मालिक संभव चतुर्वेदी से फोन पर बात की तो पता चला कि एक गाइड ने चीनी महिला पर्यटक को मणिपुर की निवासी बताकर फ्लैट दिलवाया था. फ्लैट किराए पर लेते समय मकान मालिक को नहीं बताया गया था कि यह महिला चीन की है.



अब महिला की कोरोना वायरस संबंधी जरूरी जांच कराई जा रही है. पुलिस अधिकारी ने बताया कि महिला के वीजा की अवधि समाप्त होने की जानकारी संबंधित से अधिकारियों को दे दी गई है. मकान मालिक पर भी कार्रवाई की जा रही है कि उसने किराएदार के बारे में सही समय पर जानकारी क्यों नहीं दी.

यह भी पढ़ें: 

एम्स में आया अनोखा केस! Corona पॉजिटिव डॉक्टर बनी मां, बच्चे में संक्रमण नहीं

कोरोना मरीजों के इलाज में अब ये एंटी वायरल दवा भी हो सकती है कारगर
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज