• Home
  • »
  • News
  • »
  • uttar-pradesh
  • »
  • वाराणसी की किसान न्याय रैली में प्रियंका गांधी के भाषण की 10 बड़ी बातें

वाराणसी की किसान न्याय रैली में प्रियंका गांधी के भाषण की 10 बड़ी बातें

प्रियंका गांधी वाड्रा ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में किसान न्याय रैली को संबोधित किया.

प्रियंका गांधी वाड्रा ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में किसान न्याय रैली को संबोधित किया.

Priyanka Gandhi Rally: कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में किसान न्याय रैली को संबोधित किया. इस दौरान उन्होंने देश के धार्मिक, सांस्कृतिक और ऐतिहासिक पहलुओं का जिक्र कर बीजेपी सरकार पर हमला बोला. किसानों और जवानों के बलिदान की बात करते हुए सरकार बदलने की बात की.

  • Share this:

    वाराणसी. कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा (Priyanka Gandhi Vadra) ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में किसान न्याय रैली को संबोधित किया. रैली को संबोधित करने से पहले प्रियंका गांधी काशी विश्वनाथ मंदिर और मां कूष्मांडा के दरबार में हाजिरी लगाने पहुंची. इसके बाद रोहनिया स्थित जगतपुर इंटर कॉलेज के मैदान में किसान न्याय रैली को संबोधित करते हुए प्रियंका गांधी ने कहा कि आज नवरात्री का चौथा दिन है और मैं व्रत में हूं. मैं शुरुआत माता के नाम से करूंगी. उन्होंने संबोधन की शुरुआत मंच से माता का महा मंत्र बोलते हुए ‘या देवी सर्वभूतेषु शक्ति रूपेण संस्थिता. नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नम: से की. संबोधन के दौरान कांग्रेस  महासचिव प्रियंका गांधी ने कई महत्वपूर्ण बातें कहीं. उनकी दस प्रमुख बातें कुछ इस तरह से हैं.

    प्रियंका गांधी ने कहा कि लखीमपुर खीरी में देख रहे हैं कि मंत्री के बेटे ने 6 किसानों को निर्ममता से कुचल दिया. 6 परिवार कहते हैं उन्हें न्याय चाहिए मुआवजा नहीं. पर इस सरकार में न्याय दिलाने वाला नहीं दिख रहा है. मैने जाने की कोशिश की तो तमाम पुलिस ने रोकने की कोशिश की. पीड़ित परिवार को घर में नजरबदं किया. पर अपराधी को पकड़ने के लिये पुलिस को नहीं भेजा, बल्की आरोपी को पुलिस निमंत्रण दे रही है.
    प्रियंका गांधी ने कहा - आइये आप हमसे बात करें. आपने देखा है किसी देश और इतिहास में..कि यूपी के प्रदर्शन को देखने के लिये सीएम लखीमपुर नहीं जा सके. ये आजादी हमें किसने दी है, जो आजादी का अमृत महोत्सव मना रहे हैं. ये किसान के बेटे हैं जिन्होंने हमें आजादी दी है. सरहदों पर किसानों के बेटे हैं. ये आजादी हमें किसने दी है ? ये देश आस्था का है.
    प्रियंका ने कहा कि गांधी जी ने जब आजादी की लड़ाई लड़ी तो न्याय के लिए लड़ी, ताकि सबको न्याय मिले. न्याय पर अधारित हमारा संविधान है. जब मैं लखीमपुर में पीड़ित परिवार के घर गई तो उनके परिवार के लोग सीमा सुरक्षा बल में दाखिल हुआ है. उनके तमाम भाई बहन सेना में सुरक्षा करते हैं. देश में कोई कुचला जाता है, हिंसा होती उसको न्याय मिलने की उम्मीद नंही होती है तो वो किसके पास जाएगा.
    पुलिस, मंत्री, विधायक, सरकार सब मिले हैं तो जनता किसके पास जाए. इसीलिए गृहराज्यमंत्री ने कहा किसानों से कि आंदोलन किया तो दो मिनट में सबक सिखा दूंगा...
    पीएम देश देश में भ्रमण कर सकते हैं पर किसानों पर बात करने दिल्ली के बार्डर तक नहीं जा सकते. गंगा पुत्र कहने वाले पीएम ने गंगा के अनेकों गंगा पुत्र किसानों का अपमान किया है. क्या पीएम मोदी ने देखा है बिजली नहीं मिल रही है पर बिजली के बिल मिल रहे हैं. कोयला खत्म हो रहा है.
    मंहगाई बेलगाम हो गई है. 100 रुपये का पेट्रोल, 90 रुपये में डीजल, 1000 रुपये में रसोई गैस, 23 करोड़ लोग गरीबी रेखा से नीचे आ गये हैं. कोयला खत्म हो रहा है और बेरोजगारी चरम पर है.
    गोरखपुर में सफाई कर्मचारियों के प्रति ऐसा शब्द हमारी बहनों को कहा गया. मैं वाल्मीकि बस्ती में गई. बात की और घर घर गई तो उन्होंने बताया. युवा बच्चे सामने आए. किसी एमए किया, किसी ने बीए किया था, लेकिन रोजगार नहीं था. जनता दुखी है, त्रस्त है और बहुत नाराज भी है.
    ये देश आपका देश है. बीजेपी के पदाधिकारियों की जागीर नहीं है. आप जागरुक नहीं बनेंगे, इनकी राजनीति में उलझे रहेंगे तो न तो अपने आपको न इस देश को बचा पायेंगे. आपकी मेहनत ने देश को बनाया है.
    जो आपको आंतकवादी कहते हैं उनको न्याय देने के लिये मजबूर कीजिये. हम किसी से नहीं डरते हैं चाहे हमें मारें, जेल में डालें. हम लड़ते रहेंगे, लड़ते रहेंगे. जब तक गृह राज्यमंत्री इस्तीफा नहीं देगा तब तक संघर्ष जारी रहेगा.
    प्रियंका ने कहा- जितने लोग मेरी बात सुन रहे हैं वे अपने अंतरमन में झांकते हुए एक सवाल पूछिये. जब से ये सरकार आई है पिछले सात सालों में तरक्की आई है. विकास आपके द्वार आया है कि नहीं. अपने आप से सवाल पूछ लिजिए नहीं तो मेरे साथ आईये. कंधा से कंधा मिलाइये इस सरकार को बदलिये और परिवर्तन लाइये.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज