परिवार ने तेरहवीं का भोज न देकर निराश्रितों को भोजन कराने का लिया संकल्प, पेश की मिसाल
Varanasi News in Hindi

परिवार ने तेरहवीं का भोज न देकर निराश्रितों को भोजन कराने का लिया संकल्प, पेश की मिसाल
(फाइल फोटो)

रोटी बैंक के संचालक किशोर तिवारी ने बताया कि उन्हें इस परिवार से जो सामग्री मिली है उससे भोजन (Food) बनाकर वाराणसी जिले में रहने वाले गरीब असहाय निराश्रित लोगों को दो दिन तक लगातार भोजन कराया जाएगा.

  • Share this:
वाराणसी. देश में तेजी से पैर पसार रहे कोरोना वायरस (Coronavirus) संक्रमण से बचने के लिए सामाजिक दूरी (Social Distancing) का पालन करने तथा जरूरतमंदों की मदद करने के वास्ते यहां के एक परिवार ने अपनी माता के निधन के बाद उनकी तेरहवीं पर भोज न कराकर 2000 गरीब निराश्रित दिव्यांगों को भोजन कराने का संकल्प लिया.

वाराणसी के ब्रिज एन्क्लेव में रहने वाली 91 वर्षीय एक बुजुर्ग महिला का 4 अप्रैल को निधन हो गया था और 16 अप्रैल को उनकी तेरहवीं है. उनके परिवारजन ने इस मौके पर 2000 निराश्रित, असहाय और दिव्यांगजनों को भोजन कराने का संकल्प लिया और इसके लिए स्वयंसेवी संस्था रोटी बैंक से संपर्क किया.

दो दिन तक कराया जाएगा भोजन
रोटी बैंक के संचालक किशोर तिवारी ने बताया कि उन्हें इस परिवार से जो सामग्री मिली है उससे भोजन बनाकर वाराणसी जिले में रहने वाले गरीब असहाय निराश्रित लोगों को दो दिन तक लगातार भोजन कराया जाएगा. बुजुर्ग महिला के पुत्र सत्येंद्र राय ने बताया कि उनकी मां के निधन के बाद धार्मिक कर्मकांड तो यथावत किए गए लेकिन कर्मकांड के नाम पर होने वाले अपव्यय को रोककर उनके परिवार ने समाज को एक नई दिशा देने का प्रयास किया है. गौरतलब है कि रोटी बैंक एक स्वयंसेवी संस्था है जो 2017 से बेसहारा और दिव्यांगजनों को भोजन कराने का काम कर रही है.
45 नए संक्रमित मरीज


बता दें, कोरोना (Corona) संक्रमण का फैलना लगातार जारी है और देशभर में अब इसने अपने पैर पसार लिए हैं. उत्तर प्रदेश में भी हर दिन मामले बढ़ते जा रहे. अब सूबे में बुधवार को 45 नए संक्रमित मरीज सामने आए. इसके साथ ही अब कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या 705 हो गई है. जानकारी के अनुसार आगरा में 4 और बस्ती, वाराणसी, मुरादाबाद, कानपुर, मेरठ और बुलंदशहर में एक-एक मरीज की मौत हो चुकी है. नए आंकड़ों के बाद अब यूपी के 44 जिले कोरोना वायरस से प्रभावित हो चुके हैं. इनमें भी मेरठ, आगरा और गौतमबुद्धनगर के बाद राजधानी लखनऊ में तेजी से मामले सामने आए हैं.

लखनऊ के सदर इलाके से मिले 50 मरीज
राजधानी लखनऊ के सदर बाजार इलाके में अब तक 50 कोरोना पॉजिटिव मरीज मिल चुके हैं. वहीं 200 लोगों की रिपोर्ट अभी आएगी. इस इलाके को हॉटस्पॉट घोषित कर सील कर दिया गया है. ड्रोन से निगरानी की जा रही है. गौरतलब है कि इसी इलाके में 12 तबलीगी जमाती मस्जिद में छुपे हुए थे, जिन्हें इंटेलिजेंस की रिपोर्ट के बाद बाहर निकाला गया था. हालांकि सरकार ने ऐसे लोगों पर रासुका की कार्रवाई का आदेश दिया है, लेकिन फिलहाल अब यह सरकार के लिए सबसे बड़ी चिंता और चुनौती दोनों बन गए हैं.

लखनऊ में 31, आगरा में 13 और सीतापुर में 1 केस मिला
केजीएमयू की लैब ने आज जो रिपोर्ट जारी की है, उसके अनुसार 806 सैंपल में से 45 केस पॉजिटिव मिले हैं. इनमें लखनऊ से ही अकेले 31 मामले सामने आए हैं. वहीं आगरा से 13 और सीतापुर से 1 केस पॉजिटिव मिला है. लखनऊ में जो 31 मामले मिले हैं, ये सभी सदर इलाके के हैं. माना जा रहा है कि बुधवार शाम तक कोरोना पॉजिटिव मामले इस इलाके में और बढ़ सकते हैं. राजधानी में कोरोना के बड़े खतरे से स्वास्थ्य विभाग ने आगाह किया किया है. आज शाम तक लखनऊ के 200 और नमूनों के रिजल्ट का इंतज़ार है. अकेले सदर इलाके के 300 मीटर के रेडियस में 50 कोरोना केस पाए गए हैं.

ये भी पढ़ें: COVID 19 UP Update: 705 पहुंचा Corona Positive का आंकड़ा, अब तक 10 ने तोड़ा दम
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading