होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /तो क्या Varanasi में हो जाएगा ब्लैक आउट? 3800 कर्मचारियों ने क्यों रोका काम, जानिए पूरा मामला

तो क्या Varanasi में हो जाएगा ब्लैक आउट? 3800 कर्मचारियों ने क्यों रोका काम, जानिए पूरा मामला

Bijli Protest: कोई कर्मचारी इसलिए परेशान है कि उसके वेतन मिलने में समस्या हो रही है, तो कोई इसलिए कि पेंशन के नियम बदलन ...अधिक पढ़ें

    रिपोर्ट – अभिषेक जायसवाल

    वाराणसी. उत्तर प्रदेश के वाराणसी (Varanasi) में इन दिनों ब्लैक आउट का खतरा मंडरा रहा है. ऐसा इसलिए क्योंकि वाराणसी में कार्यरत करीब 3800 बिजली कर्मचारी अपने मांगों के समर्थन में कार्य बहिष्कार कर आंदोलन कर रहे हैं. इन कर्मचारियों में रेगुलर के अलावा संविदाकर्मी भी शामिल हैं. नाराज बिजली कर्मचारियों का आंदोलन भिखारीपुर स्थित पूर्वांचल विद्युत वितरण निगम कार्यालय पर जारी है. एमडी ऑफिस पर जहां बिजली कर्मचारी अपनी मांगों के समर्थन में आवाज बुलंद कर रहे हैं तो दूसरी तरफ शहर से लेकर गांव तक तमाम बिजली विभाग के कार्यालयों पर या तो सन्नाटा पसरा हुआ है या फिर ताले लटके हैं.

    विद्युत कर्मचारी संयुक्त संघर्ष समिति के संयोजक चंद्रशेखर चौरसिया ने बताया कि पुरानी पेंशन की बहाली के साथ संविदा कर्मचारियों को नियमित करने के साथ वेतन विसंगति दूर हो, ये हमारी मांगें हैं. हम लोगों ने अनिश्चितकालीन कार्य बहिष्कार किया है और आज इसका दूसरा दिन है.

    आपके शहर से (वाराणसी)

    वाराणसी
    वाराणसी

    कई जगह परेशान नजर आए लोग

    बिजली कर्मचारियों के इस कार्य बहिष्कार के कारण शहर और ग्रामीण क्षेत्रों में फॉल्ट के बाद बिजली गुल रही. लोग परेशान रहे. इसके अलावा कार्यालयों पर ताला बंद होने के कारण बिजली बिल जमा करने के अलावा दूसरे कामों के लिए भी लोग दफ्तरों में चक्कर काटते हुए परेशान दिखे. दूसरी तरफ बिजली कर्मचारियों का कहना है कि जब तक उनकी मांगे नहीं मानी जातीं, उनका आंदोलन जारी रहेगा. उन्होंने ये अल्टीमेटम भी दिया कि यदि कार्य बहिष्कार के दौरान किसी कर्मचारी पर कार्रवाई हुई, तो पूरे प्रदेश के कर्मचारी हड़ताल पर चले जाएंगे.

    Tags: Electricity Department, Varanasi news

    टॉप स्टोरीज
    अधिक पढ़ें