वाराणसी : महिला स्टाफ नर्स किरण जनता को दे रही हैं वैक्सीन का डोज और बेटी को शिक्षा का

आप देख सकतें हैं वैक्सीनेशन कमरे में एक तरफ नर्स किरण हैं और उनके पीछे पढ़ाई करती उनकी बच्ची.

आप देख सकतें हैं वैक्सीनेशन कमरे में एक तरफ नर्स किरण हैं और उनके पीछे पढ़ाई करती उनकी बच्ची.

महिला स्टाफ नर्स किरण अपनी बेटी को अपने साथ हॉस्पिटल लेकर आती हैं. यहां एक तरफ वो इंजेक्शन लगा रही होती हैं तो दूसरी तरफ उनकी बेटी वहीं ऑनलाइन क्लास भी करती रहती है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 23, 2021, 6:31 PM IST
  • Share this:
वाराणसी. कहते हैं कि डर के आगे जीत है. हालात से जीतना है तो लड़ना जरूरी है. इस उदाहरण को चरितार्थ कर रही हैं पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी के मंडलीय अस्पताल में तैनात महिला स्टाफ नर्स, जिनका नाम किरण गुप्ता है. किरण गुप्ता कोरोना महामारी के इस मुश्किल वक्त में नर्स और मां दोनों के कर्तव्यों का निर्वहन एकसाथ निभा रही हैं. उनकी यह निष्ठा चर्चा का विषय बनी हुई है.

देश की जनता को कोरोना से बचाने के लिए सरकारी अस्पतालों में लगातार कोविड वैक्सीन लगाई जा रही है, जिसमें मुख्य भूमिका स्टाफ नर्स निभा रही हैं. वाराणसी में भी हालात काफी बिगड़े हुए हैं. लेकिन इन हालात से बिना डरे स्टाफ नर्स लगातार वैक्सीन अभियान बढ़ा रही हैं. किरण गुप्ता भी उन्हीं में से एक हैं, जिनकी ड्यूटी वैक्सीन लगाने में लगाई गई है. लेकिन इस ड्यूटी के कारण मां के कर्तव्य पर असर पड़ रहा था. पर किरण ने हार नहीं माना और अब किरण ड्यूटी और फर्ज दोनों साथ-साथ निभा रही हैं.

किरण की बेटी सिद्धि कक्षा 3 की छात्रा है. स्कूल बंद है तो ऑनलाइन क्लास चल रही है. लेकिन वह अपने मां के मोबाइल पर ऑनलाइन क्लास अटेंड करती है. ऐसे में बेटी की क्लास प्रभावित न हो और न ही ड्यूटी पर असर पड़े, इसके लिए किरण अपनी बेटी को अपने साथ हॉस्पिटल लेकर आती हैं. यहां एक तरफ वो इंजेक्शन लगा रही होती हैं तो दूसरी तरफ उनकी बेटी वहीं ऑनलाइन क्लास भी करती रहती है. किरण बीच-बीच में बेटी की मदद भी करती हैं.

किरण का कहना है कि इस वक्त ऐसे हालात नहीं है कि काम से मुहं फेर सकूं. जनता को वैक्सीन लगाकर इस बीमारी से सुरक्षित करना है. ऐसे में मुझे ड्यूटी करनी जरूरी है. लेकिन बेटी को घर पर अकेले नहीं छोड़ सकती तो साथ ही ले आती हूं. उसे सुरक्षा के लिहाज से खुद से थोड़ा दूर रखती हूं. इस तरह उसपर मेरी नजर भी रहती है और मैं ड्यूटी भी कर लेती हूं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज