Home /News /uttar-pradesh /

Varanasi News: नारियल की जटा से तैयार हुई चीजों की लगी प्रदर्शनी, देख के बनारसी हैरान

Varanasi News: नारियल की जटा से तैयार हुई चीजों की लगी प्रदर्शनी, देख के बनारसी हैरान

वाराणसी

वाराणसी में लगा कयर महोत्सव

नारियल की जटा (छिलका) को आमतौर पर लोग फेंक देते है. लेकिन इसी नारियल की जटा से घर की जरूरत के सामानों के साथ खिलौने और भी बहुत कुछ बनाया ज?

    वाराणसी: नारियल की जटा (छिलका) को आमतौर पर लोग फेंक देते है. लेकिन इसी नारियल की जटा से घर की जरूरत के सामानों के साथ खिलौने और भी बहुत कुछ बनाया जा सकता है.ये वाराणसी (Varanasi) में लगे कयर महोत्सव (Coir Mahotsav) में देखने को मिला. कयर महोत्सव में लगे विभिन्न स्टालों पर नारियल की जटा से बने खिलौने,डोर मैट, कालीन,सजावट के सामानों की बड़ी रेंज मिली. बनारस (Banaras) में नारियल के छिलके से बने इन सामानों को देख बनारसी भी हैरान हो गए.

    वाराणसी के डीएवी कॉलेज (DAV Collage) के मैदान में कयर बोर्ड (Coir Board) के द्वारा इस कयर महोत्सव का आयोजन किया गया है. 9 दिनों तक चलने वाले इस महोत्सव में उड़ीसा,गुजरात, महाराष्ट्र के कारीगरों की कलाकारी जलवा बिखेर रही है. 50 रुपये से लेकर 5 हजार रुपये तक के कॉरपेट, खिलौने और अन्य सामान लोगो को खूब पसंद आ रहे हैं.

    नारियल की जटा को करते है प्रॉसेस
    उड़ीसा से वाराणसी में आयोजित इस महोत्सव आई सुन्नी सेठी ने बताया कि नारियल की जटा को मशीन में प्रॉसेस के बाद उस जटा से हमलोग खिलौने बनाते है. नारियल की जटा से बने इन खिलौने और अन्य सामानों की बाजार में खासी डिमांड भी है. खिलौने में हम लोग हिरन, हाथी,कछुआ,ऊंट और बहुत कुछ बनाते है.

    सरकार से मिलती है मदद
    महोत्सव में आए हरेकृष्ण ने बताया कि नारियल की जटा से इन सामानों को बनाने का काम महिलाएं करती हैं. इससे उनको रोजगार का साधन भी मिल जाता है और अपने मेहनत के हिसाब से वो कमाई भी कर पाती है. सूक्ष्म,लघु उद्योग के तहत सरकार की ओर से मदद भी मिल जाती है और महिलाएं इससे आत्मनिर्भर बन जाती है.
    रिपोर्ट- अभिषेक जायसवाल-वाराणसी

    Tags: Varanasi news

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर