Home /News /uttar-pradesh /

explainer varanasi police sluggish ignoring the rules sailors are inviting such an accident in varanasi

Explainer Varanasi:-पुलिस सुस्त..नियमों की अनदेखी..वाराणसी में ऐसे हादसे को न्योता दे रहे हैं नाविक

X

वाराणसी (Varanasi) में सोमवार को गंगा (Ganga) में एक बार फिर नाव हादसे का शिकार हुई.गंगा की बीच मंझधार में नाव पलटने से इस हादसे में 3 लोगों की मौत हो गई जबकि एक शख्स अब भी लापता है.वाराणसी में हुए इस हादसे ने एक बार फिर कमिश्नरेट पुलिस पर सवाल खड़ा कर दिए हैं.

अधिक पढ़ें ...

    रिपोर्ट-अभिषेक जायसवाल, वाराणसी

    वाराणसी (Varanasi) में सोमवार को गंगा (Ganga) में एक बार फिर नाव हादसे का शिकार हुई.गंगा की बीच मंझधार में नाव पलटने से इस हादसे में 3 लोगों की मौत हो गई जबकि एक शख्स अब भी लापता है.वाराणसी में हुए इस हादसे ने एक बार फिर कमिश्नरेट पुलिस पर सवाल खड़ा कर दिए हैं.पुलिस की सुस्ती के कारण नौकायन के लिए बनाए गए नियमों का नाविक पालन नहीं करते जिसके कारण इस तरह हादसे होते रहते हैं.वाराणसी में गंगा के नौकायन के लिए जिला प्रशासन ने तमाम नियम कानून बनाए हैं.इस नियमों के तहत बिना लाइफ जैकेट और सुरक्षा उपकरणों के कोई भी नाविक पर्यटकों को गंगा में सैर नहीं कराएगा.लेकिन इन तमाम नियम कानून के बाद भी जल पुलिस और स्थानीय पुलिस की लापरवाही के कारण हर दिन नाविक ऐसे हादसों को न्योता देते हैं.जिसकी कीमत पर्यटकों को अपनी जान देकर गवां कर चुकानी पड़ती है.

    पहले भी हो चुके हैं हादसे
    बताते चले कि दिसम्बर 2020 में भी चेतसिंह घाट के करीब ही एक ऐसा हादसा हुआ था,इस हादसे में भी चार लोगों की जान गई थी.जिसके बाद जिला प्रशासन ने नाविकों को लिए तमाम नियम कायदे बनाए लेकिन उसके कुछ समय बाद ही जल पुलिस और कमिश्नरेट पुलिस के सुस्ती के कारण सारे नियम कानून धरे के धरे ही रह गए और यही वजह रही कि सोमवार को फिर एक हादसे में 3 लोगो को अपनी जान गवानी पड़ी.अब देखने की बात होगी कि पुलिस और प्रशासन कैसे नाविकों से इन नियमों का पालन कराती है.

    आपके शहर से (वाराणसी)

    वाराणसी
    वाराणसी

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर