वाराणसी: पूर्वांचल में पहली बार IED ब्लास्ट से दिया गया हत्या को अंजाम, पिता-पुत्र की मौत

विस्फोट इतना भयानक था कि पिता और पुत्र के चिथड़े उड़ गए. वारदात की वजह पुरानी रंजिश बताई जा रही है.

News18 Uttar Pradesh
Updated: August 29, 2018, 2:31 PM IST
वाराणसी: पूर्वांचल में पहली बार IED ब्लास्ट से दिया गया हत्या को अंजाम, पिता-पुत्र की मौत
हत्या के विरोध में धरने पर बैठे सपा कार्यकर्ता
News18 Uttar Pradesh
Updated: August 29, 2018, 2:31 PM IST
वाराणसी में की इम्प्रोवाइज्ड एक्सप्लोसिव डिवाइस (आईईडी) के जरिए बम ब्लास्ट कर एक व्यवसायी और उसके पुत्र की हत्या करने का सनसनीखेज मामला सामने आया है. आईईडी ब्लास्ट से हत्या का यह पूर्वांचल में पहला मामला बताया जा रहा है. विस्फोट इतना भयानक था कि पिता और पुत्र के चिथड़े उड़ गए. वारदात की वजह पुरानी रंजिश बताई जा रही है.

घटना मंगलवार रात करीब एक बजे के बाद की बताई जा रही है. चौबेपुर थाना अंतर्गत मिल्कोपुर गांव मे खली-चूनी व्यवसायी लालजी यादव (50) और उनका बेटा चंदन यादव (20) घर के बाहर सो रहे थे. उसी दौरान धमाका हुआ. पहले तो लोगों ने सोचा कि टायर फटा होगा. ग्रामीणों ने जब सुबह देखा तो पिता और पुत्र की लाश पड़ी हुई थी. दोनों के सिर के चिथड़े दूर गिरे हुए थे.

हत्या की सूचना मिलने पर बुधवार की सुबह कई थानों की फोर्स, क्राइम ब्रांच, डॉग स्क्वाड, फोरेंसिक टीम और बम निरोधक दस्ते (बीडीएस) के साथ एसएसपी आनंद कुलकर्णी घटनास्थल पर पहुंचे.  बम कैसा था और उसमें क्या उपयोग किया गया था, फिलहाल बीडीएस इसकी जांच कर रहा है.



एसएसपी के अनुसार प्रथम दृष्टया यही प्रतीत हो रहा है कि आईईडी का प्रयोग कर धमाका किया गया है. वायर का प्रयोग करते हुए डेटोनेटर की सहायता से दूर से ब्लास्ट किया गया.

उधर, वारदात की जानकारी मिलते ही सपा जिलाध्यक्ष डॉ. पीयूष यादव पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ जाल्हूपुर-गोराकला मार्ग को जाम कर पुलिस-प्रशासन विरोधी नारेबाजी करते हुए धरने पर बैठ गए. सपाइयों ने कहा कि पुलिस हत्यारोपियों को जल्द गिरफ्तार करे और पीड़ित परिवार को मुआवजा दिलाया जाए.

(रिपोर्ट: उपेंद्र द्विवेदी)

यह  भी पढ़ें:

सपा से कुछ इस तरह दूर हो रहे शिवपाल यादव, ले सकते हैं बड़ा फैसला!

OPINION: सेक्युलर मोर्चा से नहीं होगा शिवपाल सिंह यादव का भला!
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर