होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /

Varanasi News: जिस बीमार लेब्राडोर को बचाना मुश्किल था, सिजेरियन डिलेवरी के बाद दिया 9 बच्चों को जन्म

Varanasi News: जिस बीमार लेब्राडोर को बचाना मुश्किल था, सिजेरियन डिलेवरी के बाद दिया 9 बच्चों को जन्म

बीमार लेब्राडोर ने दिया 9 बच्चों का जन्म

बीमार लेब्राडोर ने दिया 9 बच्चों का जन्म

कुतिया (Dog) श्वांस की गंभीर बीमारी से जूझ रही थी जिससे उसे और उसके बच्चों के बचने की उम्मीद बेहद कम थी.

वाराणसी. डॉग लवर्स के लिए यकीनन ये खबर बेहद खुश और उत्साहित करने वाली होगी. वाराणसी (Varanasi) के काशी हिंदू विश्वविद्यालय (BHU) के मीरजापुर स्थित बरकछा कैंपस के डॉक्टरों और वैज्ञानिकों ने जिंदगी और मौत से जूझ रही एक लेब्राडोर (Labrador) की सिजेरियन डिलेवरी करके न केवल उसकी बल्कि उसके नौ बच्चों की जिंदगी बचा ली. डिलेवरी के बाद मां और बच्चे दोनो स्वस्थ हैं. पशु चिकित्सा के मामले में ये घटना बेहद आसामान्य और दुर्लभ बताई जा रही है. सफलतापूर्वक हुए इस ऑपरेशन के बाद न केवल डॉक्टर और वैज्ञानिक उत्साहित हैं बल्कि जिसने भी सुना, वो भी बेहद खुश हैं.

ये सफलता पशु चिकित्सा सर्जरी और रेडियोलाजी विभाग को मिली है. बता दें कि कुतिया श्वांस की गंभीर बीमारी से जूझ रही थी जिससे उसे और उसके बच्चों के बचने की उम्मीद बेहद कम थी, मगर बीएचयू वेटनरी डॉक्टरों ने उसकी आपातकालीन सर्जरी शुरू कर दी. कुछ ही देर में यह सर्जरी सफल हुई और नौ स्वस्थ बच्चों को भी बचा लिया. इससे डाक्टरों और लोगों में खुशी की लहर दौड़ गई.

UPSC लैटरल एंट्री पर अखिलेश यादव का तंज, खुद को ठेके पर देकर भ्रमण पर निकल जाए BJP सरकार

पशु चिकित्सा सर्जरी और रेडियोलाजी विभाग के अध्यक्ष प्रोफेसर एनके सिंह ने बताया कि कुत्तों में यह एक बहुत ही असामान्य और दुर्लभ घटना है. गर्भवती कुतिया को सांस ले पाने में बेहद कठिनाई हो रही थी. इससे वह सामान्य रूप से अपने बच्चों को जन्म नहीं दे सकती थी और कुतिया व उसके सारे पिल्लों की जान को खतरा था. इस सर्जरी को सफल बनाने में डा. डीडी मैथ्यू, डा. आरके उढिय़ा और डा.वी. कुमार सहित उनके अन्य शोधार्थी शामिल थे.

Tags: AIIMS Study, Banaras Hindu University, Dogs, PMO, UP news, Varanasi news, Yogi government

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर