Exclusive: सोनभद्र नरसंहार का खौफनाक VIDEO आया सामने, चीखपुकार और भाग रे लल्ला के बीच 10 लोगों की हत्याएं
Varanasi News in Hindi

बताया जा रहा है कि यह वीडियो वहां मौजूद किसी प्रत्यक्षदर्शी ने बनायी है. वीडियो में साफ नजर आ रहा है कि लाठी-डंडों से दोनों पक्षों में मारपीट हो रही है. साथ ही गोलियां भी चल रही है. वीडियो में लोग जान बचाकर भागते भी नजर आ रहे हैं.

  • Share this:
सोनभद्र जिले के घोरावल कोतवाली के मूर्तिया ग्राम पंचायत के उम्भा गांव में पिछले 17 जुलाई को जमीनी विवाद में हुए 10 लोगों की नृशंस हत्या का पहला वीडियो सामने आया है. वीडियो में सैकड़ों लोग लाठी-डंडे से संघर्ष करते नजर आ रहे हैं. साथ ही गोलियों की आवाज भी सुनाई दे रही है.

बताया जा रहा है कि यह वीडियो वहां मौजूद किसी प्रत्यक्षदर्शी ने बनायी है. वीडियो में साफ नजर आ रहा है कि लाठी-डंडों से दोनों पक्षों में मारपीट हो रही है. साथ ही गोलियां भी चल रही है. वीडियो में लोग जान बचाकर भागते भी नजर आ रहे हैं.

गौरतलब है कि उम्भा गांव में गत बुधवार को मूर्तिया गांव के प्रधान यज्ञदत्त भूर्तिया और उसके समर्थक एक ट्रस्ट की जमीन पर जोताई करने पहुंचे थे. इसकी सूचना मिलने पर ग्रामीण उसका विरोध करने पहुंचे. जिसके बाद हुए संघर्ष में ग्राम प्रधान और उसके समर्थकों ने लाठी-डंडों के साथ ग्रामीणों पर हमला किया और फिर जमकर फायरिंग की. इस हादसे में 9 लोगों की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि एक व्यक्ति की मौत बीएचयू में इलाज के दौरान हो गई थी. इस खुनी संघर्ष में 27 लोग घायल हुए थे.



सोनभद्र मामले पर सियासत भी गरमाई
सोनभद्र घटना के बाद सियासत भी शुरू हो गई है. प्रियंका गांधी ने इस मुद्दे को उठाते हुए सरकार को घेरा तो रविवार को मुख्यमंत्री भी पीड़ितों से मिलने पहुंचे. इसी क्रम में बसपा का एक जांच दल भी सोमवार को पीड़ितों से मिलने पहुंचा. मंगलवार को सपा कार्यकर्ता न्याय कूच करेंगे. लिहाजा कोई भी दल इस मामले पर पीछे नहीं रहना चाहता.

मुख्यमंत्री ने बताया राजनीतिक साजिश
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोनभद्र जिले के उम्भा गांव में हुई घटना को राजनीतिक साजिश बताते हुए कांग्रेस के साथ सपा को भी जिम्मेदार ठहराया. उन्होंने कहा कि हमले के आरोपितों का सपा से कनेक्शन है. सोनभद्र नरसंहार पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के आरोपों को लखनऊ के सभी अखबारों ने प्रमुखता से जगह दी है. एनबीटी लिखता है योगी ने बताया कि इस घटना के साथ ही जिले के जमीन से जुड़े सभी विवादों की जांच के लिए कमिटी बनाई गई है. रिपोर्ट मिलने के बाद सभी भूमाफिया पर एनएसए के तहत कार्रवाई की जाएगी.

ये भी पढ़ें:

सोनभद्र में एक लाख हेक्टेयर वन भूमि पर का कब्जा, 5 साल पुरानी रिपोर्ट पर आज तक कार्रवाई नहीं

यूपी में आकाशीय बिजली का कहर, 35 लोगों की मौत, दो दर्जन से ज्यादा घायल
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading