चंदौली: 5 संदिग्ध बांग्लादेशी गिरफ्तार, पूछताछ में जुटी खुफिया एजेंसियां

पुलिस के पहुंचते ही सभी छत पर जा छिपे लेकिन पुलिस ने कमरे में घुसकर आवश्यक दस्तावेज सहित अन्य सामान बरामद किया और पांच लोगों को गिरफ्तार कर लिया.

Nitin Goswami | News18 Uttar Pradesh
Updated: November 11, 2018, 9:12 AM IST
चंदौली: 5 संदिग्ध बांग्लादेशी गिरफ्तार, पूछताछ में जुटी खुफिया एजेंसियां
सांकेतिक तस्वीर
Nitin Goswami | News18 Uttar Pradesh
Updated: November 11, 2018, 9:12 AM IST
यूपी के चंदौली में शनिवार रात पुलिस ने फर्जी दस्तावेज के साथ रह रहे 5 संदिग्ध बांग्लादेशी को गिरफ्तार किया है. पुलिस पांचों को गोपनीय स्थान पर रख कर पूछताछ कर रही है. जानकारी के मुताबिक पकड़े गए संदिग्ध तीन माह से दुलहीपुर में किराए के मकान में रह रहे थें. बताया जा रहा है कि यह लोग गांव की प्रधान नीतू गुप्ता के आवास पर आधार कार्ड के लिए प्रमाण पत्र बनवाने गए थे तभी उन पर लोगों को शक हुआ.

इस दौरान प्रधान की नजर निर्वाचन कार्ड पर पड़े नामों पर गई. आशंका होने पर प्रधानपति आनंद गुप्ता ने पांचों से पूछताछ शुरू की. इस पर वे ठीक से हिंदी नहीं बोल पाए और पूरा पता भी नहीं बता सके और सभी वहां से धीरे से मौका पाकर खिसक लिए. प्रधानपति ने पुलिस को सूचित किया और बताया कि संदिग्ध लोग गांव में रह रहे थे. सूचना पाकर कोतवाली पुलिस मौके पर पहुंची तो पता चला कि वह मकान वाराणसी निवासी एजाज का है. सभी तीन माह से वहां रह रहे थे.

पुलिस के पहुंचते ही सभी छत पर जा छिपे लेकिन पुलिस ने कमरे में घुसकर आवश्यक दस्तावेज सहित अन्य सामान बरामद किया और पांच लोगों को गिरफ्तार कर लिया. वहीं मौका पाकर एक संदिग्ध फरार हो गया. फिलहाल पुलिस सभी को गोपनीय स्थान पर पूछताछ कर रही है.

ये भी पढ़ें:

गाजीपुर के इस गांव में 50 से ज्यादा लोगों को दिखना हुआ बंद, जांच में जुटी स्वास्थ्य विभाग की टीम

घर वापसी पर बोले तेजप्रताप- मुझे अपनी जिंदगी जी लेने दो भाई, शांति की तलाश में हूं

बीजेपी विधायक ने फिर आलापे बागी सुर, कहा-CM योगी को देना पड़ सकता है धरना
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर