लाइव टीवी

राजभर के बिगड़े बोल- 'BJP नेता अपनी महिलाओं को मेरे पास धरने के लिए भेजें, दूंगा 1000 रुपए'
Varanasi News in Hindi

News18 Uttar Pradesh
Updated: January 20, 2020, 6:42 PM IST
राजभर के बिगड़े बोल- 'BJP नेता अपनी महिलाओं को मेरे पास धरने के लिए भेजें, दूंगा 1000 रुपए'
ओमप्रकाश राजभर ने दिया विवादित बयान.

विवादित बयानों के लिए पहचान रखने वाले उत्‍तर प्रदेश के पूर्व कैबिनेट मंत्री ओमप्रकाश राजभर (Omprakash Rajbhar) ने भाजपा और पीएम नरेंद्र मोदी को लेकर बेतुका बयान दिया है.

  • Share this:
वाराणसी. अपने विवादित बयानों के लिए पहचान रखने वाले उत्‍तर प्रदेश के पूर्व कैबिनेट मंत्री ओमप्रकाश राजभर (Omprakash Rajbhar) ने भारतीय जनता पार्टी (Bharatiya Janata Party) को लेकर सोमवार को एक बार फिर बेतुका बयान दिया है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में राजभर ने शाहीन बाग में सीएए (CAA) और एनआरसी के विरोध में मुस्लिम महिलाओं को लेकर बीजेपी नेताओं के द्वारा पैसे लेकर विरोध किए जाने के आरोपों पर कहा कि बीजेपी नेता अपनी-अपनी महिलाओं को मेरे पास धरने के लिए भेजें, उन्हें एक हजार रुपए दूंगा. इसके अलावा उन्‍होंने पीएम मोदी और गृह मंत्री अमित शाह को लेकर भी विवादित बयान दिया है.

पीएम मोदी और शाह पर साधा निशाना
यही नहीं, ओमप्रकाश राजभर ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह पर भी निशाना साधा है. उन्‍होंने वाराणसी के सर्किट हाउस में मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि गूगल पर सर्च करके देख लीजिए मोदी की क्‍या पहचान है.

शाहीन बाग पर ये बोले राजभर

सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी (एसबीएसपी) के नेता ओमप्रकाश राजभर से जब शाहीन बाग में धरना दे रही महिलाओं पर बीजेपी नेताओं द्वारा पैसे लेने का आरोप लगाए जाने की बात पूछी गई तो उन्‍होंने कहा कि मैंने देखा कि दिल्ली में एक महिला ने बयान दिया कि वह रोजाना 500 रुपए लेकर काम पर आती है, लेकिन मैं मानता हूं कि भाजपा बिना किसी ठोस सबूत के हल्‍ला मचा रही है. यही नहीं, ओमप्रकाश राजभर ने साफ तौर पर कहा कि बीजेपी के नेता अपनी-अपनी पत्नियों को लाएं और धरने पर बैठें, मैं 1000 रुपए दूंगा.

ये भी पढ़ें-

बहराइच: इंडो-नेपाल बॉर्डर से 70 लाख की स्मैक के साथ तस्कर गिरफ्तार 

रामजन्म भूमि समेत अयोध्या के कई धार्मिक स्थलों पर थी ISI एजेंट राशिद की नजर

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए वाराणसी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 20, 2020, 6:08 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर