Home /News /uttar-pradesh /

gyanvapi masjid shringar gauri case plea filed demanding carbon dating of shivalinga found inside wajukhana upat

Gyanvapi Case: अब उठी कथित शिवलिंग के कार्बन डेटिंग की मांग, कोर्ट में दाखिल हुई याचिका

Varanasi: ज्ञानवापी परिसर में मिले कथित शिवलिंग की कार्बन डेटिंग की मांग को लेकर याचिका

Varanasi: ज्ञानवापी परिसर में मिले कथित शिवलिंग की कार्बन डेटिंग की मांग को लेकर याचिका

Gyanvapi Controversy: ज्ञानवापी मस्जिद-श्रृंगार गौरी केस सुनने योग्य है या नहीं इस पर फैसला आने के बाद गुरुवार को इस मामले की सुनवाई वाराणसी जिला अदालत में चल रही है. ज्ञानवापी परिसर के वजू खाने में मिले तथाकथित शिवलिंग की कार्बन डेटिंग की मांग को लेकर एक याचिका दाखिल की गई. श्रृंगार गौरी की नियमित पूजा की मांग को लेकर याचिका दाखिल करने वाली महिलाओं की तरफ से यह डिमांड की गई है.

अधिक पढ़ें ...
  • News18Hindi
  • Last Updated :

हाइलाइट्स

श्रृंगार गौरी की पूजा की मांग करने वाली महिलाओं के द्वारा दायर की गई है याचिका
याचिका में महिलाओं ने मांग की है कि वजूखाने मिले कथित शिवलिंग की कार्बन डेटिंग हो
उधर मुस्लिम पक्ष की मांग है कि मामले की सुनवाई आठ हफ़्तों के लिए टाल दी जाए

वाराणसी. ज्ञानवापी मस्जिद-श्रृंगार गौरी केस सुनने योग्य है या नहीं इस पर फैसला आने के बाद गुरुवार को इस मामले की सुनवाई वाराणसी जिला अदालत में चल रही है. ज्ञानवापी परिसर के वजू खाने में मिले तथाकथित शिवलिंग की कार्बन डेटिंग की मांग को लेकर एक याचिका दाखिल की गई. श्रृंगार गौरी की नियमित पूजा की मांग को लेकर याचिका दाखिल करने वाली महिलाओं की तरफ से यह डिमांड की गई है.

गौरतलब है कि 12 सितंबर को वाराणसी जिला कोर्ट के न्यायाधीश अजय कृष्ण विश्वेश पूरे विवाद पर मुस्लिम पक्ष की याचिकार के खिलाफ फैसला देते हुए कहा था कि यह मामला सुनने योग्य है. इसके बाद उन्होंने 22 सितंबर को मामले में सुनवाई की अगली तारीख तय की थी. आज इस मामले में सुनवाई शुरू हुई. मंदिर पक्ष की तरफ से वजू खाने में मिले कथित शिवलिंग की कार्बन डेटिंग की मांग को लेकर एक याचिका दाखिल की गई. हालांकि मुस्लिम पक्ष ने अदालत को एक प्रार्थना पत्र दिया है, जिसमें कोर्ट से मामले की सुनवाई आठ हफ्ते बाद करने की मांग रखी गई है.

हिंदू पक्ष करेगा मुस्लिम पक्ष का विरोध
हिंदू पक्ष के वकील सुभाष नंदन चतुर्वेदी ने मीडिया से बातचीत करते  12 सितंबर के फैसले के बाद यह पहली सुनवाई है, जिसमें कोर्ट मुस्लिम पक्ष की याचिका को सुनेगा। हम इसका विरोध करेंगे. इससे पहले ही पूजा की मांग करने वाली महिलाओं ने एक नई याचिका कोर्ट में दाखिल कर दी है.

Tags: Gyanvapi Masjid Controversy, Varanasi news

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर