UP: काशी में चर्चा का केंद्र बना पुलिस स्टेशन, अब हवालात में AC की हवा खाएंगे मुल्जिम

काशी में चर्चा का केंद्र बना पुलिस स्टेशन
काशी में चर्चा का केंद्र बना पुलिस स्टेशन

इससे पहले मुख्यमंत्री योगी (CM Yogi) वाराणसी जनपद के विकास एवं निर्माणाधीन परियोजनाओं के प्रगति की विस्तार से समीक्षा की थी.

  • Share this:
वाराणसी. पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी (Varanasi) को स्मार्ट सिटी (Smart City) के तर्ज में विकसित किया जा रहा है. ऐसे में काशी में एक पुलिस थाना (Police Station) चर्चा में बना हुआ है. कैंट रेलवे स्टेशन स्थित जीआरपी पुलिस स्टेशन की फिजा बिल्कुल बदल गई है. इसे पूरी तरह से हाईटेक बनाया गया है. थाने में लगा एयर कंडीशनर काफी चर्चा में हैं. इस पुलिस स्टेशन में सेंट्रल एसी लगाया गया है, जिसकी हवा पुलिस स्टेशन के सभी कमरों तक होती हुई हवालात तक भी जाती है. यानी अब पुलिस स्टेशन में मुल्जिम भी एयर कंडीशनर में रात गुजारेंगे.

इसी के साथ उनके लिए सारी सुविधाओं का भी ध्यान रखा गया है. लाइट्स से लेकर हवालात की चौड़ाई तक सभी आकर्षित कर रहे हैं. जीआरपी के थानेदार अशोक कुमार दुबे का कहना है कि मानवीय संवेदनाओं को ध्यान में रखते हुए इस स्मार्ट पुलिस स्टेशन का हवालात भी हाईटेक बनाया गया है. ताकि अपराधियों को रात गुजारने में दिक्कत न हो. यह थाना स्मार्ट क्रिमिनल को स्मार्ट तरीके से जवाब देकर लोगो को न्याय दिलाने में अपनी अहम भूमिका निभाएगा. इससे पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ वाराणसी जनपद के विकास एवं निर्माणाधीन परियोजनाओं के प्रगति की विस्तार से समीक्षा की थी.

ये भी पढे़ं- UP के प्राइमरी टीचरों के अंतर्जनपदीय तबादले के मामले में HC ने यूपी सरकार के फैसले पर लगाई मुहर



वुमेन पावर हेल्‍पलाइन 1090 में ऑनलाइन काउंसलिंग के जरिए बिखरे रिश्‍तों को बचाया जा रहा है. जिससे मानसिक तौर पर टूट चुकी महिलाओं का मनोबल बढ़ाने का काम काउंसलर्स कर रहे हैं. घरेलू हिंसा, पारिवारिक मतभेद का त्‍वरित निपटारा करके रिश्‍तों में पड़ चुकी गांठ को सुलझाया जा रहा है. 1090 हेल्‍पलाइन नंबर पर आने वाली शिकायतों को दर्ज किया जाता है जिन प्रकरणों में काउंसलिंग की जरूरत लगती है. उन कॉल को काउंसलर्स को ट्रांसफर कर दिया जाता है. जिसके बाद तीन चरणों में काउंसलर्स काउंसलिंग कर परिवार को बिखरने से बचाने की कोशिश करते हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज