लाइव टीवी

वाराणसी: IIT बीएचयू के छात्रों ने इजाद की किसानों के लिए नई तकनीक, अब आसानी से कर सकेंगे काम

News18 Uttar Pradesh
Updated: February 3, 2020, 2:19 PM IST
वाराणसी: IIT बीएचयू के छात्रों ने इजाद की किसानों के लिए नई तकनीक, अब आसानी से कर सकेंगे काम
IIT बीएचयू के छात्रों ने इजाद की किसानों के लिए नई तकनीक

डिपार्टमेंट के असिस्टेंट प्रोफ़ेसर विशाल मिश्रा ने बताया कि लाखों में मिलने वाली सेग्रीगेटेड मशीन को आईआईटी बीएचयू के शोध छात्रा प्रियंका ने इसे मात्र 2000 हजार रूपये में तैयार किया है.

  • Share this:
वाराणसी. केंद्र सरकार ने 2020 बजट के बजट (Budget) में किसानों के पिटारा खोला तो पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी (Varanasi) में आईआईटी (IIT) बीएचयू ने भी किसानों को बड़ा तोहफा दिया है. इस तोहफे से किसानों का लाखों का काम अब हजार में हो जायेंगे. आईआईटी बीएचयू के बायोकेमिकल डिपार्टमेंट ने एक ऐसा आविष्कार किया है जो आने वाले दिनों में किसानो को लाभ देगा.

किसान जब फसल उगता है तो उसे कटाई करने के बाद उसमें से कंकड़ या पत्थर हटाने के लिए उसे घंटों या दिनों तक मेहनत पड़ता है. इस मेहनत को कम करने के लिए कई किसान सेग्रीगेटेड मशीन भी खरदीते हैं, लेकिन मशीन काफी महंगा होता है ऐसे में मशीन चंद किसानों के पास ही सिमित रह जाता है. लेकिन आईआईटी बीएचयू के बायो इंजीनियरिंग डिपार्टमेंट में बनी ये मशीन अब उनकी परेशानी दूर कर देगी वो भी मिनटों में. डिपार्टमेनेट ने इसका नाम भी सेग्रीगेटेड रखा है और जो अनाज में से ईंट-कंकड़ समेत दो अनाजों को भी अलग अलग कर देगा.

डिपार्टमेंट के असिस्टेंट प्रोफ़ेसर विशाल मिश्रा ने बताया कि लाखों में मिलने वाली सेग्रीगेटेड मशीन को आईआईटी बीएचयू के शोध छात्रा प्रियंका ने इसे मात्र 2000 हजार रूपये में तैयार किया है. इसे तैयार करने के लिए कबाड़ में बिकने वाले लोहे के रॉड का गया और अनाज के डिब्बे को प्लास्टिक का उपयोग किया गया. ताकि जब मशीन के जरिये अनाज फ़िल्टर हो तो वो पारदर्शी लगे. शोध छात्रा का कहना है कि अगर इस मशीन को थोड़ा और बड़ा बनाया जाए और इसे किसानों को उपलब्ध कराया जाए तो उनका काम बहुत आसान हो जायेगा.

मोदी सरकार द्वारा बजट में किसानों के लिए सौगात और अब आईआईटी बीएचयू के इस अविष्कार के बाद अन्नदाताओं के लिए शायद अब वो स्वर्णिम काल आ गया जिसका उन्हें इन्तजार था. इन्तजार इस बात का की जिस समाज का वो अपने मेहनत के बल पर पेट भरते हैं. वो समाज उन्हें यादों उन्हें भी याद करे.

ये भी पढ़ें:

रंजीत हत्याकांड: अपने ही विधायक को जूता मारने वाले पूर्व BJP सांसद ने इशारों में CM योगी पर किया हमला

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए वाराणसी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 3, 2020, 2:19 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर