लाइव टीवी

काशी विश्वनाथ मंदिर के गर्भगृह में श्रद्धालुओं के प्रवेश पर स्थायी रोक, श्रद्धालु यहां से कर सकेंगे जलाभिषेक

News18 Uttar Pradesh
Updated: August 17, 2019, 9:35 AM IST
काशी विश्वनाथ मंदिर के गर्भगृह में श्रद्धालुओं के प्रवेश पर स्थायी रोक, श्रद्धालु यहां से कर सकेंगे जलाभिषेक
काशी विश्वनाथ मंदिर के गर्भगृह में श्रद्धालुओं के प्रवेश पर रोक लगा दी गई है.

काशी विश्वनाथ मंदिर प्रशासन (Kashi Viashwanath Mandir) ने मंदिर के गर्भगृह में श्रद्धालुओ के प्रवेश पर स्थायी रोक लगा दी है. अब श्रद्धालु गर्भगृह के दरवाजे से ही जलाभिषेक करेंगे.

  • Share this:
उत्तर प्रदेश के वाराणसी (Varanasi) से बड़ी खबर आ रही है. यहां काशी विश्वनाथ मंदिर प्रशासन (Kashi Viashwanath Mandir) ने मंदिर के गर्भगृह में श्रद्धालुओ के प्रवेश पर स्थायी रोक लगा दी है. अब श्रद्धालु गर्भगृह के दरवाजे से ही जलाभिषेक करेंगे.

निर्णय की जानकारी देते हुए विश्वनाथ मंदिर के कार्यपालक अधिकारी विशाल सिंह ने बताया दरअसल सावन में श्रद्धालुओं की भारी भीड़ को देखते हुए अस्थाई तौर पर इस बार गर्भगृह के दरवाजे से ही जलाभिषेक की व्यवस्था की गई थी. इस निर्णय से पूरे सावन काफी अच्छे परिणाम मिले. श्रद्धालुओं ने बिना किसी परेशानी के आसानी से जलाभिषेक किया, वहीं प्रशासन को भी भीड़ से ज्यादा परेशानी नहीं हुई. उन्होंने बताया कि ऐसी ही व्यवस्था झारखंड में देवघर में बैजनाथ धाम में भी की गई है.

गर्भगृह के सभी द्वारों से जलाभिषेक

विशाल सिंह ने बताया कि अब मंदिर प्रशासन ने तय किया है कि इस अस्थायी व्यवस्था को स्थायी किया जाए. अब श्रद्धालुओं का गर्भगृह में प्रवेश नहीं दिया जाएगा. उसका कारण ये है कि गर्भगृह के चार द्वार हैं, श्रद्धालुओं को प्रवेश और निकासी में दो द्वार का ही इस्तेमाल होता है. भीड़ बढ़ने पर दबाव काफी हो जाता है. वहीं चारों द्वार पर अर्घा लगाकर सीधे जलाभिषेक की व्यवस्था होने से श्रद्धालुओं को भी सुविधा मिलेगी.

रिपोर्ट: रवि पांडेय

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए वाराणसी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 17, 2019, 9:35 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...